पूर्व पुलिस आयुक्त राकेश मारिया की इस नई किताब में हुआ 26/11 के आतंकवादी हमले को लेकर बड़ा खुलासा, जाने

पूर्व पुलिस आयुक्त राकेश मारिया की इस नई किताब में हुआ 26/11 के आतंकवादी हमले को लेकर बड़ा खुलासा, जाने

बीजेपी ने मुंबई के पूर्व पुलिस आयुक्त राकेश मारिया की नई किताब में किए गए दावे को लेकर मंगलवार को कांग्रेस पार्टी पर हमला कहा व बोला कि इससे सवाल पैदा होता है कि क्या ''भगवा आतंकवाद'' की साजिश कांग्रेस पार्टी व पाकिस्तानी आईएसआई की संयुक्त योजना थी.

मारिया ने अपनी किताब में दावा किया है कि लश्कर-ए-तैयबा ने 26/11 के आतंकवादी हमले को हिंदू आतंकवाद के रूप में पेश करने की योजना बनाई थी.

मारिया के संस्मरण 'लेट मी से इट नाउ' का सोमवार को लोकार्पण हुआ. मारिया ने 26/11 के आतंकवादी हमले की जाँच की थी. उन्होंने यह दावा भी किया कि पाकिस्तानी आतंकी मोहम्मद अजमल कसाब को बेंगलुरु के समीर चौधरी के रूप में मरना था.

बीजेपी प्रवक्ता जीवीएल नरसिम्हा राव ने मारिया के दावे पर कांग्रेस पार्टी को आड़े हाथों लेते हुए बोला कि इस्लामिक आतंकवाद के इतिहास में पहली बार अपराधियों ने अपनी पहचान के बारे में लोगों को भ्रमित करने का कोशिश किया.

उन्होंने कहा, "यह गंभीर सवाल उठाता है, क्या भगवा आतंकवाद की साजिश कांग्रेस पार्टी व पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई की संयुक्त योजना थी. लगभग उसी समय, संप्रग ने भगवा आतंकवाद की बात की व राहुल गांधी ने अमेरिकी राजनयिकों से बोला कि हिंदुस्तान में पैदा हुए समूह इस्लामिक आतंकवादी समूह की अपेक्षा बड़ा खतरा हैं.

उन्होंने कांग्रेस पार्टी से जवाब मांगते हुए बोला कि पार्टी को इस पर सफाई देनी चाहिए व स्पष्ट करना चाहिए कि क्या आईएसआई कांग्रेस पार्टी के नेतृत्व वाले संप्रग का विस्तारित भाग थी.