पीएम मोदी का बड़ा एलान! 35 लाख किसानों के खातों में...

पीएम मोदी का बड़ा एलान! 35 लाख किसानों के खातों में...

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि किसानों के लिए समर्पित हमारी सरकार किसानों को अन्नदाता मानती है। हमने फाइलों के ढेर में फेंक दी गई स्वामीनाथन कमेटी की रिपोर्ट को बाहर निकाला और उसकी सिफारिशें लागू कीं, किसानों को लागत का डेढ़ गुना एमएसपी दिया।

प्राकृतिक आपदाओं के कारण मध्य प्रदेश के किसानों को नुकसान हुआ, आज 35 लाख किसानों के खातों में 16 सौ करोड़ रुपये ट्रांसफर हो रहे हैं।

ऐसे में कोई बिचौलिया नहीं है, सीधे सरकार से किसानों को मदद की जा रही है। उक्त बातें प्रधानमंत्री मोदी ने मध्य प्रदेश में आयोजित किसान महासम्मेलन को संबोधित करते हुए कही।

पीएम मोदी ने कहा कि भारत की कृषि, भारत का किसान, अब और पिछड़ेपन में नहीं रह सकता। दुनिया के बड़े-बड़े देशों के किसानों को जो आधुनिक सुविधा उपलब्ध है, वो सुविधा भारत के भी किसानों को मिले, इसमें अब और देर नहीं की जा सकती।

समय हमारा और इंतजार नहीं कर सकता। तेजी से बदलते हुए वैश्विक परिदृष्य में भारत का किसान, सुविधाओं के अभाव में, आधुनिक तौर तरीकों के अभाव में असहाय होता जाए, ये स्थिति स्वीकार नहीं की जा सकती।

कृषि कानूनों को लेकर पुरानी सरकारों पर किया हमला
पीएम मोदी ने इस दौरान विपक्ष पर जोरदार हमला बोला। उन्होंने कहा कि अगर पुरानी सरकारों को चिंता होती तो देश में 100 के करीब बड़े सिंचाई प्रोजेक्ट दशकों तक नहीं लटकते।

सोचिए, बांध बनना शुरू हुआ तो पच्चीसों साल तक बन ही रहा है और इसमें भी समय और पैसे, दोनों की जमकर बर्बादी की गई। किसानों की Input Cost कम हो, खेती पर होने वाली लागत कम हो इसके लिए भी सरकार ने निरंतर प्रयास किए हैं। किसानों को सोलर पंप बहुत ही कम कीमत पर देने के लिए देश भर में बहुत बड़ा अभियान चलाया जा रहा है।

हमारी सरकार में मछली उत्पादन के पिछले सारे रिकॉर्ड टूट गए: पीएम मोदी
अपनी सरकार की उपलब्धियां गिनाते हुए कहा कि हमारी सरकार अनाज पैदा करने वाले किसानों के साथ ही मधुमक्खी पालन, पशुपालन और मछली पालन को भी उतना ही बढ़ावा दे रही है।

मछली पालन को बढ़ावा देने के लिए हमारी सरकार ब्लू रिवॉल्यूशन स्कीम चला रही है। कुछ समय पहले ही 20 हजार करोड़ रुपए की प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना भी शुरू की गई है। इन्हीं प्रयासों का ही नतीजा है कि देश में मछली उत्पादन के पिछले सारे रिकॉर्ड टूट गए हैं।

सरकार द्वारा किसानों के चलाई जा रही योजनाओं के बारें में दी जानकारी
पीएम मोदी ने किसानों के लिए चलाई जा रही योजनाओं को गिनाते हुए कहा कि हमारी सरकार ने जो पीएम-किसान योजना शुरू की है, उसमें हर साल किसानों को लगभग 75 हजार करोड़ रुपए मिलेंगे यानि 10 साल में लगभग साढ़े 7 लाख करोड़ रुपए। किसानों के बैंक खातों में सीधे ट्रांसफर। कोई लीकेज नहीं, किसी को कोई कमीशन नहीं।

उन्होंने कहा कि याद करिए, 7-8 साल पहले यूरिया का क्या हाल था? रात-रात भर किसानों को यूरिया के लिए कतारों में खड़े रहना पड़ता था या नहीं? कई स्थानों पर, यूरिया के लिए किसानों पर लाठीचार्ज की खबरें आती थीं या नहीं? यूरिया की जमकर कालाबाजारी होती थी या नहीं।

कर्जमाफी को लेकर कांग्रेस पर बोला हमला
कांग्रेस पर हमला बोलते हुए पीएम मोदी ने कहा कि हमारे देश में किसानों के साथ धोखाधड़ी का एक बहुत ही बड़ा उदाहरण कांग्रेस सरकारों के द्वारा की गई कर्जमाफी है।

जब दो साल पहले मध्य प्रदेश में चुनाव होने वाले थे तो कर्जमाफी का वायदा किया गया था। कहा गया था कि सरकार बनने के 10 दिन के भीतर सारे किसानों का कर्ज माफ कर दिया जाएगा। कितने किसानों का कर्ज माफ हुआ, सरकार बनने के बाद क्या-क्या बहाने बनाए गए, ये मध्य प्रदेश के किसान मुझसे ज्यादा अच्छी तरह जानते हैं।

हर चुनाव से कांग्रेस के लोग कर्जमाफी की बात करते हैं: पीएम मोदी
उन्होंने कहा कि हर चुनाव से पहले ये लोग कर्जमाफी की बात करते हैं। और कर्जमाफी कितनी होती है? सारे किसान इससे कवर हो जाते है क्या? जो छोटा किसान बैंक नहीं गया, जिसने कर्ज नहीं लिया, उसके बारे में क्या कभी एक बार भी सोचा है इन लोगों ने।

पीएम मोदी ने कहा कि किसान सोचता था कि अब तो पूरा कर्ज माफ होगा और बदले में उसे मिलता था बैंकों का नोटिस और गिरफ्तारी का वॉरंट और इस कर्जमाफी का सबसे बड़ा लाभ किसे मिलता था? इन लोगों के करीबियों को, नाते-रिश्तेदारों को।


विपक्षी दलों पर पीएम मोदी का निशाना
पीएम मोदी ने कहा कि मैं इन राजनीतिक दलों को कहना चाहता हूं। आप सारा क्रेडिट रख लीजिए, मुझे क्रेडिट नहीं चाहिए। मुझे किसान के जीवन में आसानी चाहिए, समृद्धि चाहिए, किसानी में आधुनिकता चाहिए।

आप कृपा करके देश के किसानों को बरगलाना छोड़ दीजिए, उन्हें भ्रमित करना छोड़ सिर्फ इन मांगों को टालते रहे और देश का किसान, इंतजार ही करता रहा।

किसानों के कंधे पर बंदूक रखकर वार किए जा रहे हैं: पीएम मोदी
पीएम ने कहा कि ये कानून लागू हुए 6-7 महीने से ज्यादा हो रहे हैं। लेकिन अब अचानक भ्रम और झूठ का जाल बिछाकर, अपनी राजनीतिक जमीन जोतने के खेल खेले जा रहे हैं।

किसानों के कंधे पर बंदूक रखकर वार किए जा रहे हैं। पीएम ने कहा कि जिनकी खुद की राजनीतिक जमीन खिस गई है, वो किसानों की जमीन चली जाएगी, किसानों की जमीन चली जाएगी का डर दिखाकर, अपनी राजनीतिक जमीन खोज रहे हैं।

पीएम मोदी ने कहा कि जिनकी खुद की राजनीतिक जमीन खिस गई है, वो किसानों की जमीन चली जाएगी, किसानों की जमीन चली जाएगी का डर दिखाकर, अपनी राजनीतिक जमीन खोज रहे हैं।

उन्होंने कहा कि आज जो किसानों के नाम पर आंदोलन चलाने निकले हैं, जब उनको सरकार चलाने या सरकार का हिस्सा बनने का मौका मिला था, उस समय इन लोगों ने क्या किया, ये देश को याद रखना जरूरी है।

किसान क्रेडिट कार्ड को लेकर कही ये बात
पीएम मोदी ने कहा कि आज कई किसानों को किसान क्रेडिट कार्ड दिया गया है। इससे पहले, वे सभी किसानों के लिए उपलब्ध नहीं थे। लेकिन हमने देश भर के सभी किसानों को किसान क्रेडिट कार्ड उपलब्ध कराने के लिए नियम बदल दिए।

पीएम मोदी ने कहा कि आज इस कार्यक्रम में भंडारण-कोल्ड स्टोरेज से जुड़े इंफ्रास्ट्रक्चर और अन्य सुविधाओं का लोकार्पण और शिलान्यास भी हुआ है।

ये बात सही है कि किसान कितनी भी मेहनत कर ले, लेकिन फल-सब्जियां-अनाज का अगर सही भंडारण न हो, सही तरीके से न हो, तो उसका बहुत बड़ा नुकसान होता है।


कोरोना पर सुप्रीम कोर्ट सख्त: सरकार को भेजा नोटिस, पूछा...

कोरोना पर सुप्रीम कोर्ट सख्त: सरकार को भेजा नोटिस, पूछा...

ई दिल्ली: देश में कोरोना से हालात हर दिन बिगड़ते जा रहे हैं। अब इस बीच सुप्रीम कोर्ट ने भारत में कोरोना वायरस के मौजूदा हालात पर स्वत: संज्ञान लिया है। देश की सर्वोच्च अदालत ने सुनवाई के बाद केंद्र सरकार को नोटिस भेजा है। सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार से पूछा है कि कोरोना वायरस से निपटने के लिए नेशनल प्लान क्या है।

सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने गुरुवार को सुप्रीम कोर्ट को बताया कि देश को ऑक्सीजन की सख्त जरूरत है। सुप्रीम कोर्ट ने ऑक्सीजन की आपूर्ति और आवश्यक दवाओं के मुद्दे पर स्वत: संज्ञान लिया। सीजेआई एसए बोबडे ने कहा कि कि अदालत इस मामले की सुनवाई शुक्रवार को करेगी। कोर्ट ने हरीश साल्वे को एमिकस क्यूरी भी नियुक्त किया है।


महिलाओं को अंडरवियर में भूलकर भी नहीं करना चाहिए इस चीज का इस्तेमाल       अगर आपके बच्चे की भी है बिस्तर पर पेशाब करने की आदत तो ऐसे छुड़ाएं       शादीशुदा जोड़ों को को अपने शयनकक्ष में नहीं रखनी चाहिए ये चीजें       काले रंग के कुत्ते को रोटी खिलाने से दूर होता है दोष, लेकिन...       Suzuki Hayabusa का नया अवतार इस दिनांक को होगा लॉन्च, मूल्य       Royal Enfield की इस सस्ती बाइक की मार्केट में धूम, बिक्री में पूरे 286 परसेंट की बढ़ोत्तरी       Ola Electric हिंदुस्तान में लगाएगा दुनिया का सबसे बड़ा चार्जिंग सेटअप       दमदार ड्राइविंग रेंज के साथ महज 18 मिनट में होगी चार्ज, Ola इलेक्ट्रिक स्कूटर जुलाई मे होगी लॉन्च       लीक हुई Mi 11X Pro और Mi 11X की कीमत       जानिए कैसा है 48MP कैमरे वाला यह स्मार्टफोन       WhatsApp यूजर्स के लिए चेतावनी! भूलकर भी नहीं करें ये गलतियां       Realme के 6000mAh बैटरी वाले फोन की मूल्य में कटौती       Apple ने हिंदुस्तान में लॉन्च किया iPad Pro, बढ़िया डिस्प्ले और 5G कनेक्टिविटी के साथ मिलेंगे कई खास फीचर्स       कार या बाइक चलाते समय नहीं कटवाना चाहते हैं Challan तो इन ऐप का करें इस्तेमाल       जोड़ों के दर्द या अर्थराइटिस की समस्या से आराम दिलाती है ब्रोकली       सर्वाइकल स्पोंडिलोसिस के दर्द को दूर करने के कुछ आसान घरेलु उपाय       अगर कमजोर हो गयी है आपकी याददाश्त तो जरूर करें ये उपाय       गर्मियों में स्वस्थ रहने के लिए जरुरी है इन चीजों का सेवन       आखिर प्रेग्नेंसी में क्यों दी जाती है सूखा नारियल खाने की सलाह       क्या आप भी प्लान कर रहे हैं बच्चा तो आज से ही खाना शुरू कर दें ये चीजें