राष्ट्रीय

सुपर थर्मल पावर स्टेशन को वीडियो कान्फ्रेंसिंग के जरिये राष्ट्र को समर्पित करेंगे PM मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शनिवार को छत्तीसगढ़ के रायगढ़ में एनटीपीसी के 1,600 मेगावाट के लारा सुपर थर्मल पावर स्टेशन को वीडियो कान्फ्रेंसिंग के जरिये देश को समर्पित करेंगे और दूसरे चरण के अनुसार 1,600 मेगावाट के अन्य संयंत्र की आधारशिला रखेंगे

बिजली मंत्रालय के एक बयान में बोला गया है कि स्टेशन का पहला चरण लगभग 15,800 करोड़ रुपये की लागत से विकसित किया गया है, जबकि परियोजना के दूसरे चरण में 15,530 करोड़ रुपये का निवेश किया जाएगा परियोजना के लिए कोयले की आपूर्ति एनटीपीसी के तलाईपल्ली कोयला ब्लॉक से मैरी-गो-राउंड (एमजीआर) प्रणाली के माध्यम से की जाएगी, जिससे राष्ट्र को कम लागत वाली बिजली की आपूर्ति सुनिश्चित होगी सभी इकाइयाें में कोयला की खपत कम होगी और कार्बन-डाइऑक्साइड उत्सर्जन कम होगा

साउथ ईस्टर्न कोलफील्ड्स की तीन परियोजनाओं का भी करेंगे उद्घाटन

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शनिवार को छत्तीसगढ़ में साउथ ईस्टर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड (एसईसीएल) की 600 करोड़ रुपये लागत वाली तीन फर्स्ट माइल कनेक्टिविटी परियोजनाओं का टेली कान्फ्रेसिंग के जरिये उद्घाटन करेंगे एसईसीएल कोल इण्डिया की सहायक कंपनी है पहली परियोजना दीपका ओपन कास्ट प्रोजेक्ट (ओसीपी) है जिसका निर्माण 211 करोड़ से अधिक की लागत से किया गया है दूसरी परियोजना 173 करोड़ लागत वाली छाल ओसीपी है तीसरी परियोजना 216 करोड़ रुपये की लागत वाली बरौद ओसीपी कोयला हैंडलिंग प्लांट है

कल यूपी-गुजरात समेत 5 एम्स का करेंगे उद्घाटन

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रविवार को राजकोट में गुजरात के पहले अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) समेत पांच एम्स का उद्घाटन करेंगे कार्यक्रम के दौरान पीएम मंगलागिरी (आंध्र प्रदेश), बठिंडा (पंजाब), रायबरेली (उत्तर प्रदेश) और कल्याणी (प बंगाल) में स्थित चार अन्य नवनिर्मित एम्स का भी टेली कान्फ्रेंसिंग के जरिये उद्घाटन करेंगे गुजरात के स्वास्थ्य मंत्री ऋषिकेश पटेल ने शुक्रवार को बोला कि राजकोट शहर के बाहरी क्षेत्र में पारा पिपलिया गांव के पास सुपर-स्पेशियलिटी हॉस्पिटल का बाह्य बीमार विभाग (ओपीडी) पहले से ही चालू है, प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी आंतरिक बीमार विभाग (आईपीडी) का उद्घाटन करेंगे प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी ने दिसंबर 2020 में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये राजकोट एम्स की आधारशिला रखी थी

Related Articles

Back to top button