राष्ट्रीयवायरल

इंस्कॉन अपनी गोशाला की गायों को बेचता है कसाइयों को :मेनका गांधी

अनंतपुर इस्कॉन गोशाला विवादों में आ गया है मेनका गांधी के एक बयान का वीडियो इंटरनेट पर वायरल हो रहा है इस वीडियो में मेनका गांधी कहती दिख रही हैं कि इंस्कॉन अपनी गोशाला की गायों को कसाइयों को बेचता है हिंदुस्तान में इस समय सबसे बड़ा धोखेबाज संस्थान इस्कॉन है उन्हें गोशालाएं चलाने के कई लाभ मिलते हैं अपने साक्षात्कार में मेनका गांधी कहती हैं कि इसके लिए उन्हें गवर्नमेंट और प्रशासन की तरफ से जमीन उपलब्ध कराई जाती है और जो गाय दूध नहीं देती है उन्हें वे कसाइयों को बेच देते हैं उन्होंने इस्कॉन पर इल्जाम लगाते हुए बोला कि इनकी गोशाला में एक भी बूढ़ी गाय नहीं है

इस्कॉन पर मेनका गांधी ने लगाए संगीन आरोप

दरअसल मुद्दे की आरंभ तब होती है जब नवंबर 2022 में एक संगीता नाम की स्त्री एक घायल विदेशी बछड़े को अनंतफुर इस्कॉन गोशाला में छोड़कर जाती है घायल बछड़ा संक्रामक रोक से ग्रसित था, इसलिए गोशाला की तरफ से 15 दिनों तक बछड़े का उपचार किया गया जब बछड़ा ठीक हो गया तो स्त्री को उसे ले जाने के लिए बोला गया, लेकिन स्त्री वहां नहीं गई लेकिन एक बछड़ा वहां से गायब हो गया जिसके बाद स्त्री ने गोशाला पर इल्जाम लगाया कि बछड़े को कसाईखाने में बेच दिया गया है इस मुद्दे की कम्पलेन संगीता ने पुलिस में की, जिसकी जांच के बाद पुलिस ने गोशाला को क्लीनचिट दे दिया इसी कड़ी में स्त्री ने केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी को पत्र लिखा मेनका गांधी ने इस मामले में अनंतपुर इस्कॉन के अध्यक्ष दामोदर गौरंग दास से बात कर मुद्दे की पूछताछ की

इस्कॉन गोशाला ने मेनका गांधी को दिया जवाब

गोशाला द्वारा ईमेल के जरिए मेनका गांधी के सबी आरोपों का उत्तर दिया गया गोशाला ने कहा कि हमारे यहां गायों को बांधकर नहीं रखा जाता संगीता द्वारा लाया गया बछड़ा भी नहीं बांधा गया था, इसलिए वो भाग गया था इस मुद्दे पर मेनका गांधी का हवाला देते हुए इस्कॉन हेडक्वार्टर ने गोशाला से सफाई मांगी गोशाला द्वारा सभी आरोपों का उत्तर दिया गया इसके बाद जुलाई 2022 में मेनका गांधी दोबारा संगीन इल्जाम लगाते हुए गोशाला को मेल भेजती हैं इसके बाद एक साक्षात्कार में उन्होंने इस्कॉन का नाम लेते हुए गंभीर इल्जाम लगाती हैं

इस्कॉन गोशाला की प्रतिक्रिया

इस्कॉन की तरफ से मेनका गांधी के आरोपों पर उत्तर देते हुए कहा गया है कि मेनका गांधी कभी गोशाला में नहीं आई हैँ इस बात को क्षेत्रीय और जनप्रतिनिधियों द्वारा उन्हें कहा गया है अनंतपुर इस्कॉन गोशाला में कुल 18 दुधारू गाय हैं वहीं 75 बछड़े, 72 बैल और सांड, 247 सूखी या बुजुर्ग गाय यहां उपस्थित हैं

 

Related Articles

Back to top button