कांग्रेस-NCP के प्रदर्शन में शिवसेना ने शामिल होने से किया इन्कार

कांग्रेस-NCP के प्रदर्शन में शिवसेना ने शामिल होने से किया इन्कार

नागरिकता संशोधन अधिनियम (CAA) के विरोध में प्रदर्शन व बंद की सियासत में विपक्षी दल खुलकर उतर आए हैं. नागरिकता संशोधन कानून के विरूद्ध आज विपक्षी पार्टियों ने सड़कों पर उतरकर प्रदर्शन किया है. इन पार्टियों को कई यूनिवर्सिटीज़ का समर्थन भी प्राप्त हुआ है.

वहीं, मुंबई में कांग्रेस-NCP के प्रदर्शन में शिवसेना ने शामिल होने से इन्कार कर दिया है. उधर, बिहार में लेफ्ट के प्रदर्शन से लालू यादव की पार्टी RJD ने किनारा कर लिया है. देशभर में प्रदर्शनों को देखते हुए दिल्ली से मुंबई-बैंगलुरू तक पुलिस को सतर्क रहने के लिए बोला गया हैं. सारे उत्तर प्रदेश में पहले से ही धारा 144 लगा दी गई है. डीजीपी ने विद्यार्थियों के माता-पितासे आग्रह किया है कि अपने बच्चों को प्रदर्शन में नहीं जाने दें.

वहीं, पश्चिम बंगाल के गवर्नर जयदीप धनकर ने बोला है कि सर्वोच्च कोर्ट ने भी नागरिकता संशोधन कानून पर रोक लगाने से मना कर दिया है. उन्होंने बोला कि मैं सभी से आग्रह करता हूं कि आंदोलन की राह छोड़ शांति का माहौल बनाएं. आपकी जानकारी के लिए बताते चलें किइससे पहले ममता बनर्जी ने बोला था कि मैं इस कानून को बंगाल में लागू नहीं होने दूंगी, जिसके बाद गवर्नर ने यह रिएक्शन दी है.