हर्ड इम्युनिटी की ओर बढ़ रहा है भारत!

हर्ड इम्युनिटी की ओर बढ़ रहा है भारत!

नई दिल्ली: कोरोना की दूसरी लहर काफी भयानक होती जा रही है। देश में लगातार संक्रमण बढ़ रहा है, अस्पताल में बेडों की कमी हो रही है, मरीजों को ऑक्सीजन नहीं मिल रहा है, जिसके कारण कोरोना से मरने वालों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही हैं। ऐसे में अंदाजा लगाया जा रहा है कि भारत हर्ड इम्युनिटी (Herd immunity) की ओर बढ़ रहा है। इस हर्ड इम्युनिटी (Herd immunity) के बारे में एक्सपर्ट क्या कहते है, आइए जानते हैं...

एम्स (AIIMS) के डायरेक्टर रणदीप गुलेरिया (Randeep Guleria) ने बताया कि कोरोना ने दिल्ली पर सबसे बुरा असर डाला है। यहां बढ़ते संक्रमण को देखते हुए लोग मानने लगे हैं कि भारत हर्ड इम्युनिटी के स्टेज में प्रवेश कर चुका है। उन्होंने आगे कहा, "सीरो सर्वे में भी देखा गया कि 50 से 60 प्रतिशत लोगों के अंदर एंटीबॉडी थी। उन आंकड़ों को देख तो कहा जा सकता था कि दिल्ली में हर्ड इम्युनिटी हो गया है. लेकिन अब स्थिति बिल्कुल बदल गई है।"

महामारी के चपेट में आ सकती है देश की आबादी
हर्ड इम्युनिटी पर आईसीएमआर (ICMR) की ओर से स्टेटमेंट आया है। आईसीएमआर (ICMR) का मानना है कि देश की एक बड़ी आबादी महामारी के चपेट में आ सकती है। एक्सपर्ट का कहना है, "हर्ड इम्युनिटी के जरिए किसी देश को महामारी से नहीं बचाया जा सकता है। ऐसे में सारा फोकस वैक्सीनेशन पर होना चाहिए, जिससे हम उस वायरस के खिलाफ जंग लड़ सके। क्योंकि वायरस अपना रूप लगातार बदल रहा है, कई तरह के म्यूटेशन होते दिख रहे हैं इसीलिए हम हर्ड इम्युनिटी के सहारे नहीं बैठ सकते।"

हर्ड इम्युनिटी
हर्ड इम्युनिटी का मतलब है, किसी देश की एक बड़ी आबादी वायरस के चपेट में आ जाती है। ऐसे में वैक्सीन लगवा चुके इंसानों में वायरस के खिलाफ एंटीबॉडी बन जाती है, ये इंसान संक्रमित लोगों की मदद करते है। इसके अलावा बीमारी से ठीक हो चुके लोगों में भी इम्यून सिस्टम बढ़ जाती है। ये प्रक्रिया शुरू होते ही संक्रमण का खतरा कम हो जाता है और महामारी का खतरा कम होने लगता है। अगर बात करें भारत की तो देश में संक्रमण तेजी से फैल रहा है और देश का एक बढ़ा हिस्सा महामारी के चपेट में हैं।


पाकिस्तान : 13 साल की लड़की का जबरन धर्म परिवर्तन कर कराया गया निकाह

पाकिस्तान : 13 साल की लड़की का जबरन धर्म परिवर्तन कर कराया गया निकाह

पाकिस्तान में अल्पसंख्यक लड़कियों के जबरन धर्म परिवर्तन के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं। ताजा मामला एक 13 वर्षीय इसाई लड़की का है। लड़की के पिता का आरोप है कि एक मुस्लिम लड़के ने लड़की का अपहरण कर उसका जबरन धर्म परिवर्तन करवाया और फिर जबरदस्ती उससे शादी कर ली। यह घटना पाकिस्तान के गुजरांवाला शहर में हुई है। लड़की के पिता के अनुसार, अपहरणकर्ता एक मुस्लिम है जिसने लड़की से जबरदस्ती शादी कर ली।

डॉन की रिपोर्ट के मुताबिक, पीड़िता के पिता अपने परिवार के लिए न्याय की मांग कर रहे हैं। आरिफ टाउन के एक दर्जी शाहिद गिल ने कहा कि उनके पड़ोसी ने उनकी 13 वर्षीय बेटी को उनकी मेकअप एक्सेसरीज की दुकान पर सेल्सगर्ल के रूप में काम पर रखने की पेशकश की थी। हालांकि गिल ने अपनी बेटी को दुकान पर काम पर भेजने से मना कर दिया था।

उन्होंने कहा कि अपहरणकर्ता लगातार उनसे मदद की मांग करता रहा। शाहिद ने कहा कि घर की स्थिति ठीक ना होने के कारण बाद में उन्होंने अपनी बेटी को पड़ोसी की दुकान पर काम करने की अनुमति दे दी। गिल ने कहा कि 20 मई को उनकी बेटी घर से गायब हुई थी बाद में पड़ोसियों से पता चला कि उन्होंने लड़की को अपहरणकर्ता और कुछ अन्य पुरुषों एवं महिलाओं के साथ पिकअप ट्रक पर जाते हुए देखा था।

उन्होंने बताया कि मामले की शिकायत वो फिरोजवाला पुलिस स्टेशन में करवा चुके थे और 29 मई को उस व्यक्ति और सात अन्य के खिलाफ मामला दर्ज किया गया था। जांच अधिकारी एसआइ लियाकत ने कहा कि दो संदिग्धों को हिरासत में ले लिया गया लेकिन बाद में लड़की एक स्थानीय अदालत में पेश हुई।

पुलिस अधिकारी के अनुसार, लड़की ने अदालत में कहा कि उसने स्वेच्छा से इस्लाम धर्म अपनाने और बाद में अनुबंधित विवाह करने के लिए अपना घर छोड़ा था। उन्होंने कहा कि अदालत ने लड़की को उसके कथित पति के साथ जाने की अनुमति दे दी थी और पुलिस को मामला रद्द करने का आदेश दिया था, जिसके बाद पुलिस ने अदालत के आदेश का पालन किया।

 
हालांकि, लड़की के पिता गिल ने कहा कि उसकी बेटी साढ़े 13 साल की है और इसलिए अदालत को उसके धर्मांतरण और स्वेच्छा से शादी करने के उसके बयान को स्वीकार नहीं करना चाहिए। 

गिल ने कहा कि वह व्यक्ति पहले से ही शादीशुदा था और उसके तीन बेटियां और एक बेटे सहित चार बच्चे हैं। शिकायतकर्ता ने आरोप लगाया कि उसकी बेटी को बहला-फुसलाकर उसका धर्म परिवर्तन कराया गया और उसकी मर्जी के खिलाफ शादी कर ली गई और हो सकता है कि लड़की ने ऐसा बयान दबाव में दिया हो। उन्होंने अधिकारियों से राष्ट्रीय डेटाबेस और पंजीकरण प्राधिकरण (नादरा) से उनकी बेटी की उम्र की पुष्टि करने और उन्हें न्याय प्रदान करने की मांग की।

 
अमेरिका स्थित सिंधी फाउंडेशन ने कहा है कि हर साल 12 से 28 साल की करीब 1,000 युवा सिंधी हिंदू लड़कियों का अपहरण किया जाता है, उनकी जबरन शादी की जाती है और उनका धर्म परिवर्तन कराया जाता है। पाकिस्तान ने कई मौकों पर राष्ट्र में अल्पसंख्यक समुदायों के हितों की रक्षा करने का वादा किया है। हालांकि, अल्पसंख्यकों पर बड़े पैमाने पर हमले एक अलग कहानी बयान करते हैं।


नासा के रोवर परसिवरेंस ने मार्स पर देखी धरती पर मौजूद वॉल्‍केनिक रॉक जैसी चट्टान       दस वर्ष बाद पहली बार आज मिलेंगे बाइडन और पुतिन, तनातनी के बीच जानें       अब तक चोरी की घटना का कोई सुराग नहीं,पीड़ित परिवार से मिलकर जिला प्रधान ने जाना हाल-चाल, शहर की विधि व्यवस्था पर एसपी से करूंगी बात: शालिनी       भारतीय मूल की सरला विद्या बनीं अमेरिका में संघीय जज, बाइडन ने किया मनोनीत       सरला से बढ़ा भारत का मान, बाइडन ने किया कनेक्टिकट राज्‍य का संघीय जज मनोनीत, जानें       बाइडन ने पुतिन को कहा था 'हत्‍यारा', जानें- जिनेवा में उनसे मुलाकात के पूर्व कैसे पड़े नरम, कही ये बात       अंतरिक्ष में Manned Mission को तैयार चीन, कल रवाना होंगे तीन एस्‍ट्रॉनॉट्स       रेडिएशन लीकेज से चीन का इनकार, कहा...       पाक सेना प्रमुख बाजवा ने अफगानिस्तान के साथ अंतरराष्ट्रीय सीमा पर ...       पाक की संसद में जमकर हुआ हंगामा, सत्तापक्ष और विपक्ष के सदस्यों ने एक दूसरे पर फेंके बजट के दस्तावेज       सिंध में पैसे देकर कोई कुछ भी कर सकता है, प्रांत में नहीं है सरकार जैसी कोई चीज- चीफ जस्टिस ऑफ पाकिस्‍तान       कुलभूषण जाधव मामले में इस्लामाबाद हाई कोर्ट ने सुनवाई 5 अक्टूबर तक टाली       पाकिस्तान : 13 साल की लड़की का जबरन धर्म परिवर्तन कर कराया गया निकाह       फेक न्यूज प्रसारित करने वालों पर सीएम योगी सख्त, बोले- संप्रदायिक उन्माद फैलाने की कोशिश नहीं स्वीकार       इंजीनियरिंग और पॉलिटेक्निक कॉलेजों में इस वर्ष नहीं बढ़ेगी फीस, योगी सरकार का बड़ा फैसला       सतीश पूनिया ने कहा कि राजस्थान में सीएम वर्चुअल, जनता के हितों से कोई सरोकार नहीं       नीतीश कुमार ने कहा कि बारिश और बाढ़ के मद्देनजर पूरी तरह से अलर्ट रहे आपदा प्रबंधन विभाग       तीसरी लहर से लड़ने को नोएडा जिम्स अब डॉक्टर-पैरामेडिकल स्टाफ को कर रहा तैयार       UP School Reopening: क्या एक जुलाई से खुलेंगे स्कूल ?       चिराग-नीतीश की अदावत के बीच पिस रही भाजपा