कुत्तों को पकड़ने के दौरान नेबरहुड वूफ नाम के एनजीओ से जुड़ी महिला व उसके 3 साथियों का किया यह बुरा हाल

कुत्तों को पकड़ने के दौरान नेबरहुड वूफ नाम के एनजीओ से जुड़ी महिला व उसके 3 साथियों का किया यह बुरा हाल

देश की राजधानी दिल्ली (Delhi) के रानीबाग इलाके में नेबरहुड वूफ (Neighborhood Woof) नाम के एनजीओ से जुड़ी महिला व उसके 3 साथियों को बुरी तरह पीटा गया व उसकी कार तोड़ दी गयी। बताया जा रहा है कि कहासुनी कुत्तों को पकड़ने के दौरान हुआ था। वैसे पुलिस ने मुद्दा दर्ज कर जाँच प्रारम्भ कर दी है।  

पुलिस के अनुसार शनिवार रात करीब 10:30 बजे उन्हें जानकारी मिली कि रानीबाग के ऋषि नगर इलाके में कुछ लोगों के बीच कहासुनी हो गया है। जिस पर तुरंत एक्शन लेते हुए पुलिस मौके पर पहुंच गई तो पता चला कि नेबरहुड वूफ एनजीओ से जुड़े कुछ लोग रात में इलाके के आवारा कुत्तों को पकड़ने आये थे। ज्यादा रात होने की वजह से लोकल लोगों को उन पर संदेह हुआ व लोगों ने उनसे पूछताछ करते हुए पहचान लेटर मांगे।  

इसी बात को लेकर दोनों पक्षों के बीच कहासुनी हो गया। भीड़ आक्रमक होती देख एनजीओ से जुड़े लोगों ने वहां से भाग निकलना ही बेहतर समझा। लेकिन अफरा-तफरी में उनकी कार की चपेट में 3 लोकल लोग आ गए जिसमें उन्हें हल्की चोट लग गई। आरोप है कि इसके बाद लोकल लोगों ने एनजीओ से जुड़ी महिला आयशा क्रिस्टीना व उनके सहयोगी विपिन,अभिषेक व दीपक को बुरी तरह पीटा व उनकी कार में तोड़फोड़ की।  

पुलिस ने आयशा की शिकायत पर केस दर्ज कर लिया है। पुलिस का बोलना है कि लोकल निवासी मंजीत, हर्मेन्द्र व गुरुप्रीत को भी चोटें आयी हैं जिस कारण उन्होंने भी शिकायत दर्ज कराई है। वहीं इस मुद्दे में दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने ट्वीट कर बोला कि जो महिला बेजुवानों के लिए कार्य कर रही है, उस पर हमला हुआ। दिल्ली महिला आयोग महिला के सम्पर्क में था व आखिरकार पुलिस ने केस दर्ज कर लिया।