असम में बारिश के कारण हुए भूस्खलन से गई इतने लोगों की जाने, जाने यह जिले हुए ज्यादा प्रभावित

असम में बारिश के कारण हुए भूस्खलन से गई इतने लोगों की जाने, जाने यह जिले हुए ज्यादा प्रभावित

असम (Assam) में बाढ़ से शनिवार को दो व लोगों की मृत्यु हो गई। बाढ़ (Flood) से अब तक 1 हुए हैं। असम प्रदेश आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (ASDMA) ने अपने नियमित बुलेटिन में बताया कि मोरीगांव में बाढ़ से एक आदमी की मृत्यु हुई व एक अन्य आदमी की मृत्यु तिनसुकिया जिले में हुई है।

 दो व मृत्यु के बाद प्रदेश में मृतकों की संख्या 61 हो गई है, जिनमें से 37 लोगों की मृत्यु बाढ़ के कारण व 24 लोगों की मृत्यु लगातार हुई बारिश (Rain) के कारण हुए भूस्खलन से हुई है।

लखीमपुर व बोंगाईगांव में शनिवार को बाढ़ का पानी कम हुआ है। धेमाजी, बिश्वनाथ, चिरांग, दारंग, नलबाड़ी, बारपेटा, कोकराझार, धुबरी, दक्षिण सालमारा, गोलपाड़ा, कामरूप, कामरूप मेट्रोपॉलिटन, मोरीगांव, नागांव, गोलाघाट, जोरहाट, डिब्रूगढ़ व तिनसुकिया जिले बाढ़ से प्रभावित हैं।

बारपेटा बाढ़ से बुरी तरह से प्रभावित है जहां 6.33 लाख से अधिक लोग प्रभावित हुए हैं व इसके बाद दक्षिण सालमारा में लगभग 1.95 लाख लोग प्रभावित हैं। गोलपाड़ा में 83,300 से अधिक लोग प्रभावित हैं। इसमें बोला गया है कि पिछले 24 घंटे में तीन जिलों में एसडीआरएफ, जिला प्रशासन व लोकल लोगों ने 1,046 लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया है। जिला प्रशासन ने आठ जिलों में 171 राहत शिविर व वितरण केंद्र स्थापित किए हैं, जहां इस समय 6,531 लोग शरण लिए हुए हैं।