निर्भया गैंगरेप व मर्डर मुद्दा : दोषियों को भिन्न-भिन्न फांसी देने की मांग वाली केन्द्र की याचिका पर आज होगी सुनवाई

निर्भया गैंगरेप व मर्डर मुद्दा : दोषियों को भिन्न-भिन्न फांसी देने की मांग वाली केन्द्र की याचिका पर आज होगी सुनवाई

आज 14 फरवरी है व आज ऐसी कई खबरें हैं, जिन पर देश व संसार की नजरें होंगी. निर्भया गैंगरेप व मर्डर मुद्दे में दोषियों को भिन्न-भिन्न फांसी देने की मांग वाली केन्द्र की याचिका पर आज सुनवाई होगी. वहीं दोषी विनय की याचिका पर उच्चतम न्यायालय अपना निर्णय सुनाएगा.

इसके अलावा, जम्मू और कश्मीर के पूर्व सीएम उमर अब्दुल्ला की रिहाई की मांग वाली याचिका पर आज उच्चतम न्यायालय में सुनवाई है. निर्भया के दोषी विनय शर्मा की याचिका पर उच्चतम न्यायालय में सुनवाई होगी. वहीं, आज पुलवामा में हुए आंतकी हमले के एक वर्ष सारे हो गए. तो चलिए पढ़ते हैं आज किन-किन खबरों पर नजर रहेगी.

निर्भया के दोषी विनय की याचिका पर उच्चतम न्यायालय का निर्णय आज
2012 दिल्ली गैंग बलात्कार मुद्दे में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद द्वारा दोषी विनय कुमार शर्मा की दया याचिका को खारिज किए जाने के विरूद्ध याचिका पर आज उच्चतम न्यायालय में निर्णय है. उच्चतम न्यायालय ने कल दोपहर 2 बजे तक लिए निर्णय सुरक्षित रख लिया था. बता दें कि विनय ने उम्रकैद की मांग की है.

निर्भया के दोषियों को भिन्न-भिन्न फांसी की मांग वाली याचिका पर सुनवाई
उच्चतम न्यायालय निर्भया मुद्दे के दोषियों को भिन्न-भिन्न फांसी देने के अनुरोध वाली केंद्र की याचिका पर आज यानी शुक्रवार को सुनवाई करेगा. उच्चतम न्यायालय ने निर्भया मुद्दे के दोषियों से बोला कि वे भिन्न-भिन्न फांसी देने की केंद्र की याचिका पर शुक्रवार तक जवाब दाखिर करें. न्यायालय ने दोषी पवन गुप्ता के मुद्दे में वरिष्ठ एडवोकेट अंजना प्रकाश को न्याय मित्र नियुक्त किया.

उमर अब्दुल्ला की रिहाई की याचिका पर आज सुनवाई
सार्वजनिक सुरक्षा कानून (पीएसए) के तहत जम्मू और कश्मीर के पूर्व सीएम उमर अब्दुल्ला की हिरासत को चुनौती देने वाली याचिका पर न्यायमूर्ति अरुण मिश्रा व न्यायमूर्ति इंद्रा बनर्जी की पीठ आज सुनवाई करेगी.

पुलवामा आतंकवादी हमले के एक वर्ष पूरे
आज ही के दिन 14 फरवरी को जम्मू और कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर आतंकवादी हमला हुआ था, जिसमें करीब 40 जवान शहीद हो गए थे. आज उस हमले की बरसी है. प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी से लेकर गृहमंत्री तक आज शहीद जवानों को श्रद्धांजलि देंगे.