राष्ट्रीय

लालकृष्ण आडवाणी को भारत रत्न मिलने पर कांग्रेस नेता जयराम रमेश ने किया तीखा कटाक्ष

राष्ट्र के पूर्व उपप्रधानमंत्री लालकृष्ण आडवाणी को हिंदुस्तान रत्न मिलने पर कांग्रेस पार्टी नेता जयराम रमेश ने तीखा कटाक्ष किया है उन्होंने बोला कि जब हिंदुस्तान रत्न की घोषणा होनी थी तो टाइपिस्ट से गलती हो गई उसे अडानी  टाइप करना था लेकिन गलती से आडवाणी टाइप हो गया उन्होंने छत्तीसगढ़ के कोरबा में लोकसभा चुनाव 2024 को लेकर भी बड़ी टिप्पणी की रमेश ने बोला कि नीतीश कुमार और जयंत चौधरी के INDIA अलायंस से एग्जिट के बाद भी कोई असर नहीं होगा उनका बोलना है कि INDIA की ताकत बनी हुई है और हम शीघ्र ही सीट बंटवारे पर निर्णय करेंगे

उन्होंने यह भी बोला कि सभी सहयोगी जल्द ही आनें वाले लोकसभा चुनाव के लिए सीट बंटवारे को आखिरी रूप देंगे छत्तीसगढ़ के कोरबा जिले के बरपाली गांव में रमेश ने बोला कि जेडीयू चीफ नीतीश कुमार और रालोद के ‘INDIA’ गठबंधन छोड़ने से मोर्चे पर कोई असर नहीं पड़ेगा एक प्रश्न के उत्तर में रमेश ने कहा, INDIA अलायंस गठबंधन मजबूत है नीतीश जी ने पलटी मारी है और रालोद भी वही करने की प्रयास कर रहा है गठबंधन में 28 दल थे अब दो दल कम हो गए उन्होंने कहा, ‘(लोकसभा चुनाव के लिए) सीट बंटवारे को लेकर आम आदमी पार्टी, द्रमुक, राकांपा, उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाली शिवसेना और ममता बनर्जी जी के साथ चर्चा चल रही है नीतीश और रालोद के अलग होने से गठबंधन पर कोई असर नहीं पड़ेगा हम मजबूत हैं और जल्द ही विभिन्न राज्यों में सीट बंटवारे को आखिरी रूप दे दिया जाएगा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए कांग्रेस पार्टी नेता ने कहा, ‘मोदी जी ने पहले ‘एक देश, एक कर’ और ‘एक देश, एक चुनाव’ की बात की थी लेकिन असल में मोदी जी के 10 वर्ष के कार्यकाल में यह ‘एक देश, एक कंपनी’ बन गया है’ उन्होंने कहा, ‘कांग्रेस पार्टी और राहुल जी हिंदुस्तान जोड़ो यात्रा और हिंदुस्तान जोड़ो इन्साफ यात्रा के माध्यम से इस पूंजीवाद के विरुद्ध आवाज उठाते रहे हैं पिछले दस सालों में महंगाई बढ़ रही है, बेरोजगारी रेट पिछले 45 सालों में सबसे अधिक है और सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रम (पीएसयू) बेचे जा रहे हैं

फिल्म 20 वर्ष बाद का क्यों जिक्र कर रहे जयराम रमेश

लोकसभा चुनाव में कांग्रेस पार्टी की संभावनाओं के बारे में पूछे जाने पर, रमेश ने कहा, ‘आपको विश्वजीत और वहीदा रहमान अभिनीत ‘बीस वर्ष बाद’ नामक फिल्म याद होगी जो 1962 में रिलीज़ हुई थी 2003 दिसंबर में हमें छत्तीसगढ़, राजस्थान और मध्य प्रदेश में हार का सामना करना पड़ा था, लेकिन 2004 में कांग्रेस पार्टी के नेतृत्व वाले गठबंधन ने केंद्र में गवर्नमेंट बनाई अब 20 वर्ष बाद 2024 में वही दोहराया जाएगा जो 2004 में हुआ था

Related Articles

Back to top button