राष्ट्रीय

लोकसभा में हुई घटना से नाराज हुए स्पीकर ओम बिरला, बोले…

नई दिल्ली: मंगलवार (1 अगस्त) को लोकसभा में हुई घटना से स्पीकर ओम बिरला नाराज हैं नाराजगी व्यक्त करने के लिए संसद भवन में होते हुए भी स्पीकर बिरला लोकसभा अध्यक्ष की कुर्सी पर नहीं बैठे लोकसभा अध्यक्ष ने पक्ष एवं विपक्ष के सदस्यों से नाराजगी जताते हुए उन्हें अपने निर्णय के बारे में भी बताया स्पीकर बिरला ने बोला कि जब तक सदन में अनुशासन बहाल नहीं होता है, वे अध्यक्ष के आसन पर नहीं जाएंगे स्पीकर बिरला ने बोला उनके लिए सदन की गरिमा सर्वोच्च है सदन में मर्यादा कायम करना सबकी सामूहिक जिम्मेदारी है उन्होंने बोला कि सदन में कुछ सदस्यों का बर्ताव सदन की उच्च परपराओं के उल्टा है

वही अपने निर्णय से स्पीकर बिरला ने दोनों पक्षों को अवगत करवा दिया है आपको बता दें कि मंगलवार (1 अगस्त) को लोकसभा में विपक्ष के सदस्य नारेबाज़ी करते हुए ना केवल वेल में आ गए थे, बल्कि स्पीकर के आसन की ओर पर्चे भी फेंके थे मंगलवार को जिस प्रकार से विपक्षी सांसदों ने बवाल किया, उससे स्पीकर ओम बिरला बहुत नाराज हैं उन्होंने कहा, मंगलवार को दिल्ली सेवा बिल के चलते जिस प्रकार का बवाल किया गया, एक भी बात नहीं सुनने दी, ऐसे सदन का कामकाज नहीं हो सकता बुधवार को ओम बिरला लोकसभा में नहीं गए विभिन्न राजनीतिक दलों को कड़ी चेतावनी देते हुए उन्होंने कहा, जब तक आप सदन को सुचारू नहीं चलने देंगे, मैं अंदर नहीं जाऊंगा

मंगलवार को केंद्रीय राज्यमंत्री ने दिल्ली सेवा विधेयक लोकसभा में पेश किया था जैसे ही बिल पेश हुआ, विपक्षी सांसदों ने बवाल आरम्भ कर दिया, तत्पश्चात, लोकसभा की कार्यवाही स्थगित करनी पड़ी दिल्ली सेवा बिल का आम आदमी पार्टी विरोध कर रही है इसके साथ ही कांग्रेस पार्टी सहित विपक्षी गठबंधन इण्डिया के सदस्य दलों ने भी इसका विरोध करने का फैसला लिया है

Related Articles

Back to top button