शुभेंदु की ममता को ललकार, चुनावी सीट पर घमासान

शुभेंदु की ममता को ललकार, चुनावी सीट पर घमासान

कोलकाता: आगामी पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव को लेकर प्रदेश की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और टीएमसी प्रमुख की चुनाव सीट का एलान हो गया है। ममता बनर्जी नंदीग्राम विधानसभा सीट से चुनाव लड़ने वाली हैं। उनके इस एलान के बाद टीएमसी छोड़ भाजपा में शामिल हुए शुभेंदु अधिकारी ने बड़ा बयान जारी किया। शुभेंदु अधिकारी ने कहा कि वे ममता के खिलाफ नंदीग्राम से ही चुनाव लड़ना चाहते हैं। उन्होंने दावा किया कि अगर नंदीग्राम में उन्होंने ममता को नहीं हराया तो वे छोड़ राजनीति छोड़ देंगे।

ममता बनर्जी नंदीग्राम से लड़ेगीं चुनाव:
दरअसल, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने सोमवार को अपनी घोषणा की कि वह नंदीग्राम से आगामी विधानसभा चुनाव लड़ेंगी। बता दें कि नंदीग्राम टीएमसी से भाजपा में आये शुभेंदु अधिकारी का गढ़ है। इस क्षेत्र में उनका दबदबा भी बताया जाता है। ममता का ये एलान सीधे सीधे शुभेंदु अधिकारी को खुली चुनौती है।

शुभेंदु अधिकारी का एलान- ममता को नहीं हराया तो छोड़ दूंगा राजनीति:
वहीं ममता के एलान के बाद शुभेंदु अधिकारी ने बड़ा बयान जारी कर ममता की चुनौती को मंजूर कर लिया। उन्होंने कहा कि वह अपनी सीट की घोषणा भाजपा की रैली में करेंगे। भले ही उन्होंने फ़िलहाल अपनी सीट पर सस्पेंस बनाये रखा हो। लेकिन उनके बयान से साफ है कि वह ममता के खिलाफ मैदान में उतरना चाहते हैं। शुभेंदु ने कहा, मैं नंदीग्राम से चुनाव लड़ने के अपने फैसले के बारे में आपको अपनी रैली में बताऊंगा। हालंकि उन्होंने ये भी दावा किया कि अगर नंदीग्राम में उन्होंने ममता को नहीं हराया तो राजनीति छोड़ देंगे।

पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव नजदीक
पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव के नजदीक आते ही बीजेपी और टीएमसी के बीच टकराव बढ़ता जा रहा है। आज दक्षिण कोलकाता में बीजेपी का रोड शो चल रहा था, इसी दौरान टीएमसी महिला विंग ने काला झंडा दिखाया। इसके बाद पार्टी के कार्यकर्ताओं के बीच झड़प हो गई। मिली जानकारी के मुताबिक, साउथ कोलकाता में बीजेपी के रोड शो में बड़ा हंगामा मचा है।


शाहजहांपुर में 26 साल बाद दुष्कर्म पीड़िता ने लगाई न्याय की गुहार

शाहजहांपुर में 26 साल बाद दुष्कर्म पीड़िता ने लगाई न्याय की गुहार

उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर में 26 साल पहले दुष्कर्म के बाद बिना ब्याही मां बनी महिला ने अब न्याय के लिए जंग शुरू की है। 12 साल की उम्र में कथित रूप से दुष्कर्म का शिकार हुई पीड़िता ने अदालत के आदेश पर आरोपियों के खिलाफ पुलिस में रिपोर्ट दर्ज कराई है। घटना के बाद किशोरी गर्भवती हो गई थी और उसने एक बच्चे को जन्म दिया था। बड़े होने पर बच्चे ने अपने पिता का नाम जानने की कोशिश की जिसके बाद पुलिस में शिकायत दर्ज कराई गई। पुलिस का कहना है अब डीएनए जांच कराकर मामले की तह तक जाया जाएगा। 

26 साल पहले दुष्कर्म शिकार महिला ने चार मार्च को कोर्ट के आदेश पर दोनों आरोपितों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया था। शनिवार को वह बयान दर्ज कराने पहुंची। लखनऊ के इंद्रानगर थाना क्षेत्र के एक मुहल्ला निवासी महिला ने चार मार्च को शाहजहांपुर के सदर थाने में मुकदमा दर्ज कराया था। पीड़िता ने बताया कि वर्ष 1994 में वह शाहजहांपुर के सदर क्षेत्र में बहन-बहनोई के साथ रहती थीं। उस वक्त उम्र 12 साल थी। एक दिन घर में कोई नहीं था तो दूसरे संप्रदाय के युवक नकी खान ने दबोच लिया और दुष्कर्म किया। दो दिन बाद उसके भाई गुड्डू ने दुष्कर्म किया।

आरोपितों ने धमकी दी थी इसलिए किसी को कुछ नहीं बताया। जब वह गर्भवती हो गईं तो स्वजन को पता चला, जिसके बाद लोकलाज के डर से लखनऊ में एक जगह रहने लगीं और अगले साल बेटे को जन्म दिया। बाद में उस बच्चे को हरदोई निवासी हिंदू दंपती को गोद दे दिया। वर्ष 2000 में परिवार के लोगों ने गाजीपुर में शादी कर दी। छह साल बाद ही पति को उस घटना के बारे में पता चला तो अलगाव कर लिया।

बेटे ने कहा, न्याय मांगो : पीड़िता का कहना है कि परिवार टूट चुका था। इस बीच वर्ष 2011 में हरदोई वाले परिवार ने उनसे संपर्क कर बेटे के बारे में बताया। शुरुआत में उससे हकीकत छिपाकर मिली, बाद में सच्चाई बता दी। तब से वह लखनऊ में ही साथ रह रहा। उसने कहा कि आरोपितों को सजा दिलाने के लिए वह साथ में संघर्ष करेगा। यदि आरोपितों को सजा नहीं दिलाई तो आत्महत्या कर लेगा। शनिवार को वह सदर थाने के प्रभारी निरीक्षक अशोक पाल से मिलीं। इसके बाद विवेचक मंगल सिंह ने महिला कांस्टेबल की मौजूदगी में बयान दर्ज कराए।


मामला जानने पहुंचे वकील : 26 साल बाद दुष्कर्म का मुकदमा दर्ज होने का मामला जब सुर्खियों में आया तो शनिवार को कई सीनियर वकील सदर थाने पहुंच गए। उन्होंने प्रभारी निरीक्षक अशोक पाल से इस बारे में बात की। साथ ही इस मामले में आगे क्या कदम उठाए जा सकते हैं इसको लेकर भी पुलिस के साथ अपने अनुभव साझा किए।

डीएनए टेस्ट कराएंगे : प्रभारी निरीक्षक अशोक पाल का कहना है कि बयान दर्ज होने के बाद कोर्ट में अब डीएनए परीक्षण की प्रक्रिया पूरी कराई जाएगी। इसके बाद संबंधित सभी लोगों को नोटिस जारी होंगे। उसी आधार पर आगे कार्रवाई बढ़ेगी।


झुमरी तिलैया की शिप्रा सिन्हा ने अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर महिलाओं को उनकी शक्ति का एहसास कराने के लिए एक कविता लिखी है। इस कविता को लोग काफी पसंद कर रहे हैं।        International Women's Day पर अदाकारा जरीन खान ने स्त्रियों को दी खास सलाह, बोलीं...       सिंगर Harshadeep Kaur ने सोशल मीडिया पर दिखाई बेटे की झलक, लिखा...       दिनभर में 7 बार इस समय जरूर पीएं पानी, फिर देखें इसका कमाल       जानें कैसे इस्तेमाल करें Menstrual Cups, महिलाएं छोड़ें लज्जा और झिझक       यहां मंदिर में रखी मातारानी मूर्ति को भी होते हैं ये... जानिए बड़ा रहस्य       पेट्रोल-डीजल केंद्र और प्रदेश को मिलकर सस्ता करना चाहिए : वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण       मोदी सरकार बदल सकती है ये बड़ी नियम, कर्मचारियों को सप्ताह में चार दिन करना होगा काम       महाशिवरात्रि पर राहु और केतु की शांति के लिए करें उपाय       आज फाल्गुन मास की दशमी तिथि है, जानें अभिजीत मुहूर्त और राहु काल       IPL 2021 का शेड्यूल जारी, जानिए कब-कब खेले जाएंगे मैच       विराट कोहली ने विवियन रिचर्ड्स को दी जन्मदिन की बधाई       UP: अब एसिड अटैक पीड़ितों और दिव्यांगों को भी लगेगी वैक्सीन       शाहजहांपुर में 26 साल बाद दुष्कर्म पीड़िता ने लगाई न्याय की गुहार       पाक को महंगी पड़ी चीन की यारी, भारत के विमानों के आगे नहीं ठहरा उसका जेएफ-17       जल्द निपटा लें ये जरूरी काम, 31 मार्च है अंतिम तारीख       अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर खास, उन पुरुषों को सलाम जिन्होंने महिलाओं को दिया मुकाम       भारत व इंग्लैंड के बीच खेले जाने वाले चौथे टेस्ट में जानिए कैसा रहेगा मौसम व पिच का हाल       कब और कहां देखें भारत-इंग्लैंड के बीच चौथा टेस्ट मैच       भारत के खिलाफ चौथे टेस्ट मैच से पहले इंग्लैंड के खेमे में खलबली