राष्ट्रीय

राजस्थान : लोकसभा चुनाव के पहले चरण में हुई कम पोलिंग ने भाजपा नेताओं की बढ़ा दी टेंशन

Rajasthan- राजस्थान में लोकसभा चुनाव के पहले चरण में हुई कम पोलिंग ने बीजेपी नेताओं की टेंशन बढ़ा दी है हालांकि पीएम मोदी ने ‘हर विजय शंखनाद रैली’ में बीजेपी कार्यकर्ताओं को हर मतदाता को बूथ तक लाने की बात कही थी, लेकिन उसका असर नहीं दिखाई दिया बीजेपी आलाकमान ने दूसरे चरण में हर वोटर को बूथ तक लाने की रणनीति अमल में लाने को बोला है प्रचार की सभा और रोड शो के साथ ही मतदान तक की मॉनिटरिंग की जिम्मेदारी वरिष्ठ नेताओं को दी है

बता दें कि पहले चरण में प्रदेश की 12 सीटों पर 19 अप्रैल को हुए चुनाव में मतदान फीसदी गिरा चुनाव आयोग सहित सभी संस्थाओं के अनेक प्रयासों बावजूद मतदान फीसदी की गिरावट से बीजेपी नेतृत्व की नींद उड़ा दी अभी दूसरे चरण में 13 सीटों पर मतदान होना है, जिन पर मतदान फीसदी बढ़ाने के लिए बीजेपी अपनी रणनीति बदलने पर विवश हुई है अब हर वोटर को घर से बूथ तक पहुंचाने की मॉनिटरिंग की जिम्मेदारी वरिष्ठ नेताओं को सौंपी है उधर, बीजेपी की चुनाव प्रबंधन कमेटी की ओंकार सिंह लखावत की अध्यक्षता में शनिवार को प्रदेश कार्यालय में मीटिंग हुई जिसमें द्वितीय चरण में मतदान फीसदी बढ़ाने पर गहन मंथन हुआ

पार्टी के वरिष्ठ नेताओं और पदाधिकारियों को प्रत्याशियों के साथ ही उनकी टीम को दूसरे चरण पर काम करने को बोला है मतदाता को बूथ तक लाने की जिम्मेदारी बूथ अध्यक्ष और पन्ना प्रमुख की होगी

इसके साथ ही दूसरे चरण की 13 लोकसभा सीटों पर स्टार प्रचारकों के साथ ही जातीय और क्षेत्रीय संतुलन को देखते हुए जनसभा के साथ साथ  रैलियों की तादाद भी बढ़ाई जा रही है यही कारण है कि पीएम मोदी, अमित शाह के बाद योगी आदित्यनाथ की अंधाधुन्ध सभाएं रैलियां कर रहे हैं इसी के अनुसार उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की निंबाहेड़ा और जोधपुर में रोड शो तथा राजसमंद में सभा की इन तीनों ही स्थान राजपूत बाहुल्य क्षेत्र माने जाते हैं

माइक्रो मैनेजमेंट प्लान

भाजपा ने बूथ विजय के लिए माइक्रो मैनेजमेंट प्लान बनाकर बूथ प्रबंधन पर कठोरता से काम शुरु किया जा रहा है पार्टी कार्यकर्ता और प्रवासी कार्यकर्ता 200 विधानसभाओं के करीब 52 हजार बूथों के हर घर, पगडंडी, चौपाल, गली, मोहल्ला पहुंचे थे और जनता के बीच मोटी की गारंटी और केंद्र गवर्नमेंट के कार्यों के नाम पर वोट मांगने का काम किया था पहले चरण में कम वोटिंग केबाद अब बीजेपी ने बूथ मैनेजमेंट पर फोकस कर दिया है पार्टी के बूथ कार्यकर्ताओं को घर-घर जाकर वोट करने की अपील करने के साथ वोटिंग के पीले चावल और वोटर स्लिप बांटने के लिए बोला गया है

चाणक्य ने पहले ही किया था ताकिद…
प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी की अतिरिक्त भाजपा के चाणक्य और केंद्रीय मंत्री अमित शाह ने जयपुर में कलस्टर मीटिंग में साफ बोला था कि पहले ही जीत मानकर बैठे 25 फीसदी पार्टी के वोटर्स को घरों से बाहर निकालने के लिए बोला था इसके अतिरिक्त युवा और स्त्री वोटर्स को मतदान केंद्र तक पहुंचने के निर्देश दिए थे

कम मतदान पर फीडबैक

प्रदेश में गर्मी और धूप तेज होने के कारण मतदाता दोपहर में घर से नहीं निकले पिछले तीन दिन में सावे होने के कारण लोग शादियों में व्यस्त रहे कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्ताओं ने मतदान नहीं किया! वोटर में उत्साह था लेकिन मतदान के लिए नहीं पहुंचे

Related Articles

Back to top button