राष्ट्रीय

जेल से बाहर आने के बाद (आप) नेता संजय सिंह हुए एक्टिव, विरोधी पक्ष पर किया जोरदार हमला

कारावास से बाहर आने के बाद लगातार आम आदमी पार्टी यानी ‘आप’ के नेता संजय सिंह सक्रिय नजर आ रहे हैं शुक्रवार को उन्होंने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस की और विरोधी पक्ष पर जोरदार धावा किया उन्होंने बोला कि सबसे चौंकाने वाली बात यह है कि राघव मगुंटा के छह बयानों और उनके पिता के दो बयानों को हटाने का काम किया गया है प्रवर्तन निदेशालय ने बोला कि हमें उस पर भरोसा नहीं है 9 बयान जो अरविंद केजरीवाल के विरुद्ध नहीं थे इनको हटाया गया यह एक बहरी षड्यंत्र है

‘आप’ नेता संजय सिंह ने बोला कि जांच एजेंसी प्रवर्तन निदेशालय ने मगुंटा रेड्डी और राघव मगुंटा रेड्डी के यहां भी छापेमारी की मगुंटा रेड्डी की तस्वीर पीएम नरेंद्र मोदी के साथ है उन्होंने 16 जुलाई को अरविंद केजरीवाल और हमारी पार्टी के विरुद्ध बयान दिया और 18 जुलाई को उन्हें जमानत दे दी गई

मगुंटा रेड्डी ने 3 बयान दिए

प्रेस कॉन्फ्रेंस में संजय सिंह ने बोला कि एक शख्स मगुंटा रेड्डी, जिन्होंने 3 बयान दिए… उनके बेटे राघव मगुंटा ने 7 बयान दिए 16 सितंबर को जब उनसे (मगुंटा रेड्डी से) पहली बार प्रवर्तन निदेशालय ने पूछाताछ के क्रम में प्रश्न किया था कि क्या वह अरविंद केजरीवाल को जानते हैं, तो उन्होंने सच कहा और बोला कि उनकी मुलाकात अरविंद केजरीवाल से हुई थी लेकिन चैरिटेबल ट्रस्ट की जमीन के मुद्दे में हुई थी ‘आप’ नेता ने बोला कि इसके बाद उनके बेटे को अरैस्ट कर लिया गया और 5 महीने कारावास में रखने के बाद उनके पिता ने अपना बयान बदल दिया

राघव मगुंटा के सात बयान लिए गए

10 फरवरी से लेकर 16 जुलाई तक राघव मगुंटा के सात बयान लिए गए सात में से छह बयानों में उन्होंने अरविंद केजरीवाल के विरुद्ध कुछ नहीं कहा, लेकिन 16 जुलाई को सातवें बयान में उन्होंने अपना बयान बदल दिया यह एक षड्यंत्र का हिस्सा है 5 महीने की प्रताड़ना के बाद उन्होंने अपना बयान बदलने का काम किया और अरविंद केजरीवाल के विरुद्ध नजर आए

Related Articles

Back to top button