राष्ट्रीय

एक बार फिर दुनिया के सबसे लोकप्रिय नेता बने नरेंद्र मोदी

4 जून के बाद विपक्ष के लोग नैरेटिव फैला रहे थे कि नरेंद्र मोदी की पॉपुलैरिटी कम हो गई है लेकिन अब ट्रेंड विपरीत दिख रहा है. 4 जून के बाद राहुल गांधी और कांग्रेस पार्टी पार्टी नरेंद्र मोदी पर पर्सनल अटैक करने लगी थी लेकिन बदला कुछ नहीं, उल्टे मोदी का ग्राफ बढ़ गया. जून के दूसरे सप्ताह में नरेंद्र मोदी की लोकप्रियता फिर से बढ़ गई है. तीसरी बार पीएम बनने के बाद नरेंद्र मोदी पहली बार इटली गए हैं. इटली वो राष्ट्र है जहां से राहुल गांधी का सीधा रिश्ता है, जहां सोनिया गांधी का जन्म हुआ और अब उसी इटली में मोदी के नाम की जबरदस्त चर्चा हो रही है.

इस समय भी सबसे पॉपुलर नरेंद्र मोदी ही हैं. नेशनल ही नहीं, इंटरनेशनल लेवल पर भी सबके हॉट फेवरेट मोदी ही हैं. मोदी को लेकर वर्ल्ड लीडर्स का इंटरनेशनल क्रेज आपको अगले कुछ घंटों में दिख जाएगा जब इटली में हो रहे G7 समिट में हर विदेशी राष्ट्राध्यक्ष का फोकस मोदी पर होगा. 2024 की चुनावी हैट्रिक के बाद ये मोदी की पहली विदेश यात्रा है.

नरेंद्र मोदी की लीडरशिप को फुल मार्क्स

नरेंद्र मोदी 240 सीटें लाकर भी नेशनल रैंकिंग में भारतीयों के सबसे पसंदीदा लीडर हैं. वहीं, 25 वर्ल्ड लीडर्स की इंटरनेशनल रैंकिंग में नरेंद्र मोदी इस समय भी टॉप पर हैं. नेशनल लेवल पर पिछले वर्ष मोदी की अप्रूवल रेटिंग 60-67% के बीच रही. फरवरी 2024 में मोदी 75% पर पहुंच गए तब चुनाव प्रारम्भ भी नहीं हुए थे और फिर नतीजों से ठीक पहले मई के महीने में मोदी की नेशनल अप्रूवल रेटिंग 70% पर थी यानी हिंदुस्तान में हर 100 में से 70 लोग बतौर प्राइम मिनिस्टर नरेंद्र मोदी के काम को अप्रूव कर रहे हैं. ताजा आंकड़े बता रहे हैं कि नॉर्थ ज़ोन के 86%, ईस्ट जोन के 83% वेस्ट जोन के 75% लोगों ने मोदी की लीडरशिप को फुल मार्क्स दिए हैं.

रेटिंग में मोदी और मेलोनी के बीच 28% का फासला

4 जून के नतीजों के बाद आई इंटरनेशनल अप्रूवल रेटिंग में नरेंद्र मोदी 70% की अप्रूवल रेटिंग के साथ नंबर वन पोजिशन पर हैं. उनकी तुलना में इटली की पीएम जियोर्जिया मेलोनी 42% की अप्रूवल रेटिंग के साथ 9वीं पोजिशन पर हैं.

  • अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन 37% की अप्रूवल रेटिंग के साथ 12वीं पोजिशन पर हैं.
  • कनाडा के पीएम जस्टिन ट्रूडो 30% की रेटिंग के साथ 17वें जगह पर हैं.
  • जर्मन चांसलर ओलाफ स्कोल्ज़ 25% की अप्रूवल रेटिंग के साथ 20वें पायदान पर हैं.
  • ब्रिटेन के पीएम ऋषि सुनक 25% की अप्रूवल रेटिंग के साथ 21वें
  • फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रॉ 21% की अप्रूवल रेटिंग के साथ 22वें
  • जापान के पीएम फुमियो किशिदा 13% की अप्रूवल रेटिंग के साथ 25वें जगह पर हैं.

4 जून के बाद मोदी कमजोर नहीं, मजबूत हुए पीएम मोदी

जिस समय हर विदेशी राष्ट्राध्यक्ष की रेटिंग घट रही है, उस समय इकलौते नरेंद्र मोदी ऐसे नेता हैं जिनकी रेटिंग हर सप्ताह बढ़ रही है. आज की तारीख में तरराष्ट्रीय स्तर पर नरेंद्र मोदी ही इकलौते ऐसे नेता हैं जो डेमोक्रेटिक वर्ल्ड में सबसे मजबूत पीएम भी हैं और सबसे अनुभवी नेता भी हैं. हिंदुस्तान में NDA की गवर्नमेंट बनने के बाद ये हवा फैलाई गई कि मोदी अब बहुत कमज़ोर हो गए हैं. 4 जून से 13 जून के बीच लगातार ये शोर मचाया गया कि मोदी इंटरनेशनल लेवल पर हिंदुस्तान की बात पूरे दमखम के साथ नहीं रख पाएंगे. मगर इस तरह की थ्योरी फैलाने वाले लोग मोदी को जानते ही नहीं हैं क्योंकि वो इस समय भी सबसे पॉपुलर और सबसे मजबूत नेता हैं जो लगातार तीसरी बार चुनाव जीतकर लौटे हैं.

Related Articles

Back to top button