लाइफ स्टाइल

गमले की मिट्टी को बदलने का क्‍या तरीका है और कब इसकी मिट्टी को बदलना चाहिए,जाने…

Repotting Plants Soil Tips: गमले में रखी अच्छी क्‍वालिटी की मिट्टी पौधे की ठीक ग्रोथ के लिए बहुत आवश्यक है यदि आपके पौधे ग्रोबैग या गमले में लगे हुए हैं तो कुछ महीनों में गमले की मिट्टी में उपस्थित पोषक तत्व कम होने लगते हैं और मिट्टी की गुणवत्ता कम होती जाती है यही नहीं, गमले की मिट्टी पानी और खाद से मिलने वाले पोषक तत्वों का अवशोषण भी कम होने लगता है जिसकी वजह से पौधे खराब हो सकते हैं ऐसे में ठीक समय पर गमले की मिट्टी को बदलना बहुत ही महत्वपूर्ण होता है तो आइए जानते हैं कि गमले की मिट्टी को बदलने का क्‍या तरीका है और कब इसकी मिट्टी को बदलना चाहिए

कब बदलें मिट्टी
गार्डेनिंग सोल वेबसाइट के मुताबिक, पौधों की मिट्टी बदलने का सबसे अच्‍छा समय वसंत ऋतु को माना जाता है इस मौसम में मिट्टी बदले से पौधों की ग्रोथ काफी अच्‍छी हो जाती है

-हालांकि, हर दो वर्ष में बड़े गमले में लगे पौधों की मिट्टी को बदलना अच्‍छा माना जाता है मसलन, पोथोस और अफ्रीकी वायलेट जैसे पौधे तेज़ी से ग्रो करते हैं इसलिए उनकी मिट्टी एक वर्ष में बदलना अच्‍छा रहता है, जबकि कैक्टस, ड्रैकैना रिफ्लेक्सा, रबर और स्नेक प्लांट धीमी गति से ग्रो करते हैं, इसलिए उनकी मिट्टी को कई सालों तक बदलने की आवश्यकता नहीं पड़ती

-अगर गमले में लगे पौधों की मिट्टी छूने पर सख्त हो गई है पानी अच्छी तरह नहीं सोख रही तो गमले की मिट्टी को बदलना महत्वपूर्ण होता है यही नहीं, यदि गमले की मिट्टी में पौधों की जड़ें निकलती हुई दिख रही है तो भी मिट्टी बदल लें

कैसे बदलें मिट्टी
सबसे पहले गमले की मिट्टी को ढ़ीला कर लें जिससे पौधे की जड़ों को कोई हानि ना हो
बहुत अधिक ड्राई मिट्टी है तो इसे गीला करें और फिर पौधे को गमले से बाहर निकाल लें बस रूटबॉल की मिट्टी पूरी तरह से ना हटे फिर गमले में नयी पॉटिंग मिक्स या मिट्टी आधा भरें और पौधा डालकर जड़ को मिक्‍स से भर कर हल्‍के हाथों से मिट्टी को दबा दें अब वाटरिंग केन की सहायता से हल्‍का पानी डालकर छांव में रख दें

मिट्टी का चुनाव
गमले के लिए पॉटिंग मिक्स अच्‍छा रहता है जिसमें मिट्टी के साथ पीट काई, वर्मीक्यूलाइट और पर्लाइट का मिश्रण उपस्थित होता है

Related Articles

Back to top button