चेहरे की चमक को बढाने के लिए करे ये ...

चेहरे की चमक को बढाने के लिए करे ये ...

-चेहरे को नमक मिले पानी से धोने के बाद बर्फ के टुकड़े स्कीन पर रखते हैं ताकि रोमछिद्र खुल सकें.

-चेहरे की स्कीन के तापमान को सामान्य बनाने के लिए इसपर कारागार लगाते हैं.
-इसके बाद चेहरे पर कम अवधि वाले लेजर शॉट्स दिए जाते हैं. इनसे दर्द नहीं होता केवल चींटी काटने जैसा अहसास होता है. इनसे स्कीन पर हल्की सी गर्मी महसूस होती है.
- कारागार लगाकर स्कीन का तापमान सामान्य बनाते हैं.
-आखिर में बर्फ से चेहरे की मसाज करने के बाद सनस्क्रीन लोशन लगा देते हैं.

सावधानी:
वैसे तो इसे कोई भी करवा सकता है. लेकिन जिनकी स्कीन की रंगत थोड़ी गहरी हो उनमें इस लेजर फेशियल से स्कीन के जलने की संभावना रहती है. जिन्हें सूरज की लाइट से एलर्जी या एरिद्मा (किसी प्रकार की चोट, संक्रमण या सूजन के कारण स्कीन पर लाल चकत्ता बनना), ऑटोइम्यून डिजीज या अर्टिकेरिया रोग हो, उन्हें इसे करवाने की मनाही होती है. हाल ही यदि कोई संक्रमण हुआ हो वे भी इसे न करवाएं. जिन्हें किसी प्रकार का बैक्टीरियल इंफेक्शन हो उन्हें इससे स्कीन पर काले धब्बे होने की संभावना रहती है.

ध्यान रखें: 15 मिनट के इस लेजर फेशियल को प्रयास करें कि किसी डर्मेटेलॉजिस्ट या प्लास्टिक सर्जन से ही करवाएं. यह तुलनात्मक रूप से ज्यादा महंगा नहीं है. इस फेशियल से ज्यादातर लोगों को स्कीन पर हल्की लालिमा व सूजन रह सकती है जिससे घबराने की आवश्यकता नहीं है, यह कुछ समय में ही सामान्य हो जाती है. इसे करवाने के बाद स्कीन थोड़ी संवेदनशील हो जाती है इसलिए स्कीन की प्रकृति के अनुसार आदमी को कुछ घंटे या दिनों के लिए घर में ही रहने की सलाह देते हैं. ताकि सूरज की अल्ट्रावॉयलेट किरणों से बचाव हो सके. यदि बाहर निकलना भी पड़े तो विशेषज्ञ एसपीएफ सनस्क्रीन लगाने की सलाह देते हैं. ध्यान रहे कि इस फेशियल से स्कीन में नमी कम हो जाती है, इसके लिए मॉइश्चराइजर लगाया जा सकता है.