इन तरीको से पाए स्लीप संभोग के लक्षण से निजात

इन तरीको से पाए स्लीप संभोग के लक्षण से निजात

आपने आज तक नींद में चलने, नींद में बोलने व नींद में गाड़ी चलाने की आदत के बारे में सुना होगा। लेकिन, आपकी जानकारी के लिए बताते चलें कि कई लोगों को नींद में  करने से संबंधित विकार भी होता है।

 इस विकार को स्लीप  (Sleep sex) कहते हैं। इसको ोमिया (Sexsomnia) भी बोला जाता है। ोमिया, पेरासोमियाका ही एक प्रकार है। आदमी के द्वारा नींद में असामान्य व्यवहार करने की स्थिति को पेरासोमिया बोला जाता है। यह नींद का विकार होता है। ोमिया में आदमी सोते हुए यौन गतिविधियां करता है। जिसमें आदमी के द्वारा हस्तमैथुन,  आदि सभी यौन गतिधियां की जा सकती है। इस गंभीर विकार के बारे में आगे जानेंगे कि स्लीप  क्या है, स्लीप  के लक्षण, कारण व जोखिम कारक, स्लीप  के लिए क्या परीक्षण किए जाते हैं व इसका उपचार कैसे होता है।

स्लीप  का उपचार - ठीक समय पर सोने व जगाने की नियमित आदत से आप स्लीप  विकार को सरलता से दूर कर सकते हैं। ोमिया के लक्षणों को दूर करने के बाद आदमी को ठीक तरह से नींद आने लगती है। सामान्यतः स्लीप  के कारणों को समझने में लंबा समय लगता है।

ोमिया के लिए दवाएं - ोमिया से संबंधित लक्षणों के उपचार के लिए दवाओं के इस्तेमाल करने से इस विकार में राहत मिलती है। इसमें आपकी नींद में बाधा आने वाले कारण, जैसे - स्लीप एप्निया का उपचार करने से ोमिया की समस्या कम होती है।

ोमिया के चिकित्सीय उपचार में शामिल हैं -

चिंता व अवसाद को दूर करने वाली दवाओं का सेवन करें।

नाक से सांस लेने की प्रक्रिया को ठीक करने के लिए सीपीएपी थेरेपी लेना।

दर्द से राहत देने वाली दवाएं लेना।

एसिडिटी को कम करने वाली दवाएं लेना।