दुनिया स्वास्थ्य संगठन ने माँ के शिशुओं को स्तनपान को लेकर किया यह बड़ा खुलासा

दुनिया स्वास्थ्य संगठन ने माँ के शिशुओं को स्तनपान को लेकर किया यह बड़ा खुलासा

कोरोना वायरस (Coronavirus) संक्रमण के फैलने के कारण प्रेग्नेंट स्त्रियों व छोटे शिशुओं को स्तनपान करवाने वाली स्त्रियों के मन में कई तरह के सवाल उठ रहे हैं। मां के दूध के जरिए क्या ये वायरस शिशु में प्रवेश कर सकता है ?

क्या कोई महिला प्रेग्नेंट है व कोरोना संक्रमित है तो ये वायरस गर्भ में पलने वाले शिशु को भी प्रभावित कर सकता है ? क्या कोरोना वायरस संक्रमण पीड़ित महिला अपने बच्चे को स्तनपान करवा सकती है? अगर, आपके मन में भी कुछ इसी तरह के सवाल अब तक घूम रहे हैं तो दुनिया स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने इन सभी सवालों का जवाब दिया है।

दुनिया स्वास्थ्य संगठन (World Health Organization) के मुताबिक, कोरोना संक्रमित महिला का नवजात शिशु को स्तनपान कराने से अभी तक किसी प्रकार का कोई खतरा नहीं पाया गया है। WHO के मुताबिक, जो महिलाएं शिशुओं को स्तनपान करवाना चाहती हैं वो बिना किसी भय के करवा सकती हैं। लेकिन स्तनपान करवाने वाली स्त्रियों को कुछ सावधानी बरतने की जरूरत होगी।

संक्रमित मां से शिशु फैल सकता है वायरस ?

सेंट्रल फॉर डिसीज कंट्रोल एंड प्रीवेंशन की रिपोर्ट के अनुसार वर्तमान में कोरोना वायरस संक्रमित जिन स्त्रियों ने बच्चों को जन्म दिया है उनमें से एक भी बच्चा संक्रमित नहीं पाया गया है। साथ ही रिपोर्ट में यह भी बोला गया है कि कोरोना वायरस संक्रमण मां के दूध में भी नहीं पाया गया है।

स्तनपान करवाने वाली महिलाएं रखें इन बातों का ध्यान

- मां को हमेशा ही मास्क पहनकर रहना होगा। इसके साथ ही अपनी बॉडी क्लीनिंग का पूरा ध्यान रखना होगा।

- छोटे बच्चों को पकड़ने या गोद में उठाने से पहले व उठाने के बाद हाथों को पानी व साबुन से अच्छे से धोएं।

- बच्चों को स्तनपान कराने के बाद हाथों को क्लीन करें।

- अगर, इस वक्त आप किसी अस्पताल में जा रहे हैं या बच्चे को लेकर जा रहे हैं तो घर आते ही शिशु को क्लीन करें व खुद भी अच्छे से हाथ पैर धोएं।