हाथों व कपड़ों के साथ जूतों को लेकर भी जरूर बरतें ये सावधानियां

हाथों व कपड़ों के साथ जूतों को लेकर भी जरूर बरतें ये सावधानियां

क्या आपको पता है कि हाथों व कपड़ों के अतिरिक्त आपके जूते भी इंफेक्शन का एक बहुत बड़ा कारण बन सकते हैं। अक्सर लोग बाहर से आने के बाद गंदे हुए कपड़े उतार देते हैं

 व हाथों को हैंड वॉश से धो लेते हैं लेकिन आपकी जानकारी के लिए बताते चलें कि आपके जूते भी बाहर से कई प्रकार की बीमारियां व गंदगी लेकर भी आपके घर में आते हैं। दरअसल ज्यादातर जूते चमड़े, रबड़ व प्लास्टिक से बने होते हैं। ऐसे में ये किसी भी खतरनाक वायरस का वाहक बन सकते हैं। कई हानिकारक वायरस जूतों व चप्पलों में कई दिनों तक रह जाते हैं।

जूतों में गंदगी होती है वायरस का कारण
जूतें गंदे होते हैं जो कि कई तरह के बैक्टीरिया व वायरस के लिए एक प्रजनन क्षेत्र बन सकते हैं। वायरस व बैक्टीरिया जूतों में आपके घर तक पहुंच सकते हैं। सावधानी न बरतने पर यह आपके साथ-साथ दूसरे लोगों को भी संक्रमित कर सकते हैं।

जरूर बरतें ये सावधानियां

- जूतों को हमेशा घर से बाहर ही खोलने की प्रयास करें। पैरों से जूते निकालने के बाद सबसे पहले हाथों व पैरों को साबुन से अच्छी तरह धोना चाहिए।
- घर के बाहर व अंदर के लिए भिन्न-भिन्न जूते-चप्पल रखें
- बाहर जाने वाले जूतों की नियमित रूप से सफाई करें, अगर आप मोजे पहनते हैं तो उन्हें भी साफ रखना महत्वपूर्ण है
- जिन जूतों को पानी से धोना संभव न हो उन्हें सैनिटाइजर से साफ करें