लाइफ स्टाइल

Samudra Shastra: शरीर के इन अंगों पर तिल होता है बेहद शुभ

Samudra Shastra: वैदिक ज्योतिष शास्त्र में सामुद्रिक शास्त्र का अहम जगह है. जिस तरह ज्योतिष शास्त्र की सहायता से आदमी की कुंडली देखकर उसके बारे में पता लगाया जा सकता है. ठीक वैसे ही सामुद्रिक शास्त्र में आदमी के रंग-रूप, निशान को देखकर उसके बारे में पता लगाया जाता है. सामुद्रिक शास्त्र के अनुसार, आदमी के व्यवहार और उसके भविष्य के बारे में भी पता लगाया जा सकता है. ऐसे तो शरीर पर कई सारे निशान और तिल होते हैं. लेकिन क्या आपको पता है कि शरीर के तिल भी कुछ संकेत देते हैं. तो आज इस समाचार में जानेंगे कि शरीर के किन अंगों का तिल शुभ है. साथ ही इसका असर क्या पड़ता है.

ये तिल होते हैं बहुत शुभ

सामुद्रिक शास्त्र के अनुसार, माथे का तिल बहुत ही शुभ माना गया है. माथे पर तिल होने से आदमी को कभी भी धन संबंधित समस्याएं नहीं होती हैं. साथ ही वह अपने जीवन में कभी भी किसी भी चीज की कमी महसूस नहीं करता है.

नाभि के ऊपर तिल

सामुद्रिक शास्त्र के अनुसार, जिस आदमी की नाभि के ऊपर तिल का निशान होता है वह आदमी बहुत ही अधिक खर्चीला होता है. साथ ही वह आदमी बहुत अधिक धन भी कमाता है. साथ ही खर्च भी अधिक करता है. सामुद्रिक शास्त्र  के अनुसार, ऐसे लोगों को कभी भी आर्थिक तंगी की परेशानी नहीं होती है.

गाल पर तिल का निशान

माना जाता है कि जिन लोगों के दाय गाल पर तिल होता है वह काफी अच्छा और शुभ माना गया है. मान्यता है कि दाएं गाल पर तिल का होना खुशहाली का संकेत देता है. यानी आप अपने जीवन में हमेशा खुशहाल रहेंगे. वहीं बांया गाल का संकेत ठीक नहीं माना गया है.

सीने के बीचो-बीच तिल

वैदिक ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, जिन लोगों के सीने के बीचो-बीच तिल होता है वैसे आदमी बहुत ही भाग्यशाली और किस्मत के अमीर होते हैं. ये लोग अपने जीवन में खूब मान-सम्मान पाते हैं. वहीं किसी आदमी के गले के पास तिल होता है तो यह आदमी के लिए बहुत शुभ और फायदेमंद माना गया है. मान्यता है कि गले पर तिल होने से आदमी अपने जीवन में ढेर सारा पैसा कमाता है.

Related Articles

Back to top button