स्वास्थ्य के लिए बेहद लाभकारी होता हैं गुलकंद, जाने विधि

 स्वास्थ्य के लिए बेहद लाभकारी होता हैं गुलकंद, जाने विधि

खाना खाने के बाद मुँह स्वाद के लिए खाये जाने वाले व गुलाब की पंखुरियों से गुलकंद का स्वास्थ्य के लिहाज से भी बहुत ज्यादा महत्व है इसके अतिरिक्त गुलकंद का उपयोग आयुर्वेद में भी कई फायदों के लिए किया जाता है , इसलिए आज हम आपके साथ शेयर करने जा रह है इसे घर पर बनाने की रेसिपी , तो देर किस बात की है आइये जानते है इसकी रेसिपी

आवश्यक सामग्री

चौड़े मुंह वाला कांच का जार

गुलाब की पत्तियां

दानेदार चीनी

इलायची के दाने

पर्ल पाउडर आवश्यक्तानुसार

बनाने की विधि :गुलकंद बनाने के लिए गुलाब की पत्तियों को साफ करें, ध्यान रहे कि इस पर कीड़े बिल्कुल नहीं होने चाहिए। पत्तियों को अच्छी तरह से धोकर सुखा लें। जार में गुलाब की पत्तियों को डालकर इसकी परत बनाएं। गुलाब की परत के ऊपर दानेदार चीनी की एक परत बनाएं। अब जार में आधे से ऊपर तक गुलाब की पत्तियों व चीनी की परत बना लें व इलाइची व पर्ल पाउडर डालकर मिला दे व जार को ढ़क्कन से कसकर ढ़क दें। 4 सप्ताह तक लगभग हर रोज 7 घंटे तक जार को धूप में रखें। हर दूसरे दिन एक लकड़ी की चम्मच से जार में गुलाब व चीनी के पेस्ट को अच्छी तरह मिला लिया करें। 4 सप्ताह के बाद गुलकंद तैयार हो जाएगा, अब गुलाब का जैम यानी गुलकंद आपके खाने के लिए तैयार है।