लाइफ स्टाइल

UPI Payment हो रहे फेल, तो ये हो सकती है वजह

देशभर में लोगों को यूपीआई ट्रांजेक्शन में दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है. जानकारी के अनुसार, यूजर्स के Google Pay, PhonePe, BHIM और Paytm जैसे ऐप्स के जरिए UPI पेमेंट फेल हो गए. यह परेशानी काफी समय से बनी हुई है.

हालांकि कुछ बैंकों के पेमेंट चालू हो गए तो वहीं कुछ में अभी भी ये परेशानी बरकरार है. जानकारी के अनुसार, एसबीआई, एचडीएफसी, बैंक ऑफ बड़ौदा, कोटक महिंद्रा बैंक और बैंक ऑफ महाराष्ट्र सहित विभिन्न बैंकों के यूपीआई ट्रांजेक्शन में दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है. ऐसे में आप कैश भी लेकर चलें तो बेहतर होगा. कई यूजर्स ने इसे लेकर सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर अपनी कम्पलेन दर्ज कराई

क्यों आई ये समस्या 

जानकारी के अनुसार, बैंकों के सर्वर में दिक्कतें चल रही हैं. कई बैंकों के सर्वर भी डाउन हो गए हैं. डाउनडिटेक्टर नाम की वेबसाइट पर इसकी रिपोर्ट मिली हैं. यूजर्स ने इसकी रिपोर्ट की हैं. हालांकि बैंकों और एनपीसीआई ने इस इश्यू पर सहमति नहीं जताई है. रिपोर्टों से पता चलता है कि यूपीआई आउटेज से गुजर रहा है. हालांकि अभी तक इसके कारण पर कोई आधिकारिक बयान जारी नहीं किया गया है

क्या आ रहा मैसेज? 

कई यूजर्स को यूपीआई ट्रांजेक्शन करते समय ऐप पर बैंक का सर्वर डाउन होने का मैसेज मिल रहा है. वहीं कुछ का बोलना है कि पेमेंट फेल हो गया. आपको बता दें कि रिजर्व बैंक ऑफ इण्डिया (RBI) ने पेटीएम पेमेंट्स बैंक पर रोक लगा दी है. यह रोक 29 फरवरी के बाद उसकी सेवाओं पर लागू होगी. ऐसे में यूपीआई ट्रांजेक्शन में आई परेशानी ने लोगों की चिंता बढ़ा दी. हालांकि इस मुद्दे पर नेशनल पेमेंट्स कॉर्पोरेशन ऑफ इण्डिया (NPCI) ने एक्स पर पोस्ट कर आधिकारिक बयान जारी किया.

NPCI ने किया रिएक्ट

एनपीसीआई ने लिखा- यूपीआई कनेक्टिविटी पर परेशानी के लिए खेद है. कुछ बैंकों में इंटरनल टेक्निकल इश्यू हैं. हालांकि एनपीसीआई सिस्टम ठीक से काम कर रहे हैं. हम त्वरित निवारण करने के लिए इन बैंकों के साथ काम कर रहे हैं. HDFC Bank ने इस इश्यू पर रिएक्ट किया है. एचडीएफसी की ओर से बोला गया- कुछ मल्टी बैंक सिस्टम समस्याओं के कारण हमें यूपीआई पर कठिनाइयों का सामना करना पड़ा. हम अब अपने ऑपरेशन में वापस आ गए हैं. किसी भी परेशानी के लिए हमें खेद है.

यूपीआई के 250 मिलियन यूजर 

जानकारी के अनुसार, हिंदुस्तान में यूनिफाइड पेमेंट इंटरफेस यानी यूपीआई के 250 मिलियन से अधिक यूजर हैं. वर्ष रेट वर्ष इसमें बढ़ोतरी देखने को मिल रही है. पिछले वर्ष अक्टूबर में 1000 करोड़ से अधिक यूपीआई ट्रांजेक्शन हुए थे. हिंदुस्तान में 60 फीसदी से अधिक खुदरा लेनदेन यूपीआई के जरिए ही किया जाता है.  जानकारी के अनुसार, करीब 350 बैंक यूपीआई से पेमेंट स्वीकार करते हैं.

Related Articles

Back to top button