नोएडा में फिल्म ‘फर्जी’ की तरह घर पर ही छाप डाले नकली नोट

नोएडा में  फिल्म ‘फर्जी’ की तरह घर पर ही छाप डाले नकली नोट

 यूपी (UP News) के नोएडा (Noida) में फिल्म ‘फर्जी’ जैसा मामला सामने आया है. अमीर बनने के चक्कर में एक शख्स ने यूट्यूब पर वीडियो देखकर नकली नोट छापना प्रारम्भ कर दिया. पुलिस ने 30 वर्षीय आरोपी को अरैस्ट करके 38,220 रुपये के नकली नोट बरामद किए हैं.

दिल्ली में दोस्त के घर पर छापे नोट

सेंट्रल नोएडा के अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त राजीव दीक्षित ने बताया कि आरोपी को बादलपुर थाना पुलिस ने सूचना के आधार पर छपरौला गांव के पास जीटी रोड से पकड़ा है. पुलिस टीम को सूचना मिली थी कि एक आरोपी प्रिंटर का इस्तेमाल करके नकली नोट छाप रहा है. आरोपी की पहचान अब्दुल रकीब के रूप में हुई है, जो वर्तमान में दिल्ली के गाजीपुर क्षेत्र में रहता है. पूछताछ में सामने आया है कि वह बिहार के मुजफ्फरपुर का रहने वाला है.

पुलिस ने बरामद किया प्रिंटर

पुलिस ने बताया कि अब्दुल रकीब, अपने साथी पंकज के साथ दिल्ली के गाजीपुर में रहता था और नकली नोटों को छापने का काम करता था. उनके द्वारा उपयोग किया गया प्रिंटर भी पुलिस ने बरामद कर लिया गया है. अतिरिक्त डीसीपी ने बताया कि पुलिस ने 38,220 रुपये के नकली नोटों (20, 50, 100 और 200 के नोट) को बरामद कर लिया है.

यूट्यूब से सीखा नकली नोट छापना

अधिकारी ने बताया कि पुलिस मुद्दे की जांच में जुट गई है. पड़ताल की जा रही है कि आरोपी के साथ इस गैर कानूनी काम में और कौन-कौन लगा हुआ है. पुलिस ने बताया कि जल्द ही आरोपी के साथी पंकज को भी अरैस्ट किया जाएगा. एक अन्य पुलिस अधिकारी के मुताबिक आरोपी ने यूट्यूब में वीडियो देखकर घर पर ही प्रिंटर से नोट छापना प्रारम्भ कर दिया.

पहले दिल्ली में चलाए, अब नोएडा और ग्रेटर में थी योजना

जांच और पूछताछ में सामने आया है कि आरोपी करीब दो माह से इसी तरह नकली नोट छाप कर बाजार में चला रहा था. आरोपी ने पुलिस को बताया कि उसने दिल्ली में भी नकली नोटों को चलाया था, लेकिन कुछ लोगों ने नोटों को पहचान लिया. इसके बाद आरोपी नोएडा और ग्रेटर नोएडा में इन नोटों को चलाने की प्रयास कर रहा था.