लेटैस्ट न्यूज़

पश्चिम बंगाल के मार्केट में 100 रुपये का नकली नोट फैलाने की साजिश, जाँच में जुटी पुलिस

पश्चिम बंगाल में बाजार से 2000 रुपये के नोट के चलन बंद होने के बाद से अब नकली नोट सप्लाई के गैरकानूनी धंधे से जुड़े कारोबारियों ने बाजार में 500 रुपये के साथ 100 रुपये के नकली नोट (fake notes) सप्लाई की करने की प्रयास प्रारम्भ कर दी है इसी कड़ी में उनकी इस योजना पर पानी फेरते हुए कोलकाता पुलिस के स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) की टीम ने बुधवार रात को महानगर के मिलेनियम पार्क के पास नकली नोट की सप्लाई करने के लिए एकत्रित हुए चार सप्लायरों को अरैस्ट किया है पकड़े गये आरोपियों के नाम इनामुल मंडल (60), कमल मंडल (27), अमजद अली खान (52) और मोहम्मद कुरैशी (55) कहा गया है इनमें इनामुल मुर्शिदाबाद का, कमल मंडल नदिया का निवासी, अमजद अली और मोहम्मद कुरैशी आंध्र प्रदेश के रहनेवाले बताये गये हैं इनके कब्जे से 500 रुपये के 170 और 100 रुपये के 50 नोट मिलाकर कुल 90 हजार रुपये बरामद किये गये हैं गुरुवार को चारों आरोपियों को बैंकशाल न्यायालय में पेश करने पर सभी को एसटीएफ की हिरासत में भेजने का निर्देश दिया गया है

कैसे हुई गिरफ्तारी

अतिरिक्त पुलिस आयुक्त (एसटीएफ) वी सोलोमन नेशा कुमार ने कहा कि विभिन्न इलाकों में संदिग्ध गतिविधियों पर नजर रख रही थी अचानक मिलेनियम पार्क के पास कुछ लोगों को एकत्र होकर आपस में बातें करते देखा गया उनकी गतिविधि पर शक होने के बाद चारों को पकड़कर उनसे उनके वहां उपस्थित होने एवं वे कहां के रहनेवाले हैं, इस बारे में पूछताछ की गयी इस दौरान वे भागने की प्रयास करने लगे जिसके बाद चारों को पकड़कर उनके पास उपस्थित बैग की जांच करने पर भीतर उच्च क्वालिटी का 500 एवं 100 रुपये का नकली नोट बरामद किया गया

मुर्शिदाबाद में एक्टिव सप्लायर से नकली नोट लेकर आंध्र प्रदेश में फैलाने को हुए थे एकत्रित
पुलिस को प्राथमिक पूछताछ में पकड़े गये आरोपियों ने कहा कि वे मुर्शिदाबाद से नकली नोट लेकर कोलकाता आये थे उनके रैकेट के सदस्य जो नदिया के निवासी हैं, उसे साथ लेकर वे दोनों आंध्र प्रदेश में एक्टिव नकली नोट सप्लायरों से मिलकर यह नोट उनके हवाले करनेवाले थे जबतक वे नकली नोट की डिलीवरी कर रहे थे, इसी दौरान एसटीएफ की टीम वहां पहुंच गयी और सभी आरोपियों को पकड़ लिया इन आरोपियों के साथ और कौन-कौन शामिल हैं, पुलिस इस रैकेट के अन्य सदस्यों तक पहुंचने की प्रयास में जुटी है

Related Articles

Back to top button