लेटैस्ट न्यूज़

पान के इन उपायों से भगवान गणेश के साथ-साथ अन्य देवी-देवताओं को भी करें प्रसन्न

धार्मिक कार्यों में पत्तों का महत्व बहुत खास माना जाता है और ईश्वर के प्रसाद में नागरवेल के पत्तों को जरूर शामिल किया जाता है भगवान गणेश को पत्ते सबसे अधिक पसंद हैं इसलिए उनकी पूजा में पत्ते जरूर चढ़ाए जाते हैं आज हम आपको पान के कुछ तरीका बता रहे हैं, जो ईश्वर गणेश के साथ-साथ अन्य देवी-देवताओं को भी प्रसन्न करेंगे

घर में धन-संपत्ति बढ़ती है

भगवान गणेश को पान बहुत प्रिय है और उनकी पूजा में पान चढ़ाना बहुत शुभ माना जाता है शास्त्रों में पान को पुंगी फला बोला जाता है और ईश्वर को पान चढ़ाने से धन में वृद्धि होती है और आपके घर में सुख-समृद्धि आती है पान के कुछ विशेष तरीका करने से आपकी सभी परेशानियां दूर हो जाएंगी और बप्पा आपके जीवन में शुभ फायदा प्रदान करेंगे आइये जानते हैं क्या हैं ये उपाय

नए कार्य में कामयाबी के लिए

अगर आप कोई नया काम करने जा रहे हैं अगर आप कोई नया बिजनेस प्रारम्भ करना चाहते हैं या कहीं साक्षात्कार देने जा रहे हैं तो ईश्वर गणेश को लौंग और पान का पत्ता चढ़ाकर काम पर निकल जाएं ऐसा करने से आपको उस कार्य में कामयाबी मिलेगी नई जॉब में आपको इच्छानुसार पद और वेतन मिलेगा जब आप घर लौटें तो इस पान-सोपारी को प्रसाद के रूप में परिवार के सभी सदस्यों में बांट दें

पत्ते से करें ईश्वर शिव को प्रसन्न

पान चढ़ाने से ईश्वर गणेश के साथ-साथ ईश्वर शिव भी बहुत प्रसन्न होते हैं एक सुपारी में गुलकंद, कत्था, सुपारी, लौंग और इलायची रखकर ईश्वर शिव को अर्पित करने से वे जल्द प्रसन्न होते हैं और लोगों की हर इच्छा पूरी करते हैं

पान बुरी नजर को दूर करता है

दरअसल, पत्ते का महत्व बहुत खास माना जाता है कहा जाता है कि इस पत्ते में नकारात्मक ऊर्जा को नष्ट करने की क्षमता होती है यदि परिवार में किसी आदमी को बुरी नजर लगने की संभावना हो तो उस आदमी को 7 गुलाब की पंखुड़ियां और पत्ते खिलाएं ऐसा करने से नजर गुनाह दूर हो जाता है और आदमी स्वस्थ और प्रसन्न रहता है

धन प्राप्ति के लिए पान का उपाय

अगर आपको कड़ी मेहनत के बाद भी पैसा कमाने में कामयाबी नहीं मिल रही है तो आप पान का यह तरीका आजमा सकते हैं शुक्रवार के दिन तवे पर सफेद बर्फी रखकर मां लक्ष्मी को अर्पित करें ऐसा करने से मां लक्ष्मी आपसे प्रसन्न होंगी और आपका घर धन-धान्य से भर देंगी

Related Articles

Back to top button