लेटैस्ट न्यूज़

MP में एक आदिवासी व्यक्ति की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत, परिजनों ने पुलिस पर लगाया आरोप

मध्य प्रदेश के रायसेन (Raisen Crime News) में एक आदिवासी आदमी की संदिग्ध परिस्थितियों में मृत्यु हो गई जिसके बाद मृतक के परिजनों ने पुलिस के ऊपर प्रताड़ना के इल्जाम लगाए हैं, मिली जानकारी के मुताबिक पता चला है कि पुरुष के पीटते हुए पुलिस चौकी ले गई थी जिसके बाद रात में घर पर छोड़ गई थी, लेकिन सुबह जब पुरुष अचेत हालत में मिला तो परिजनों के होश उड़ गए क्या है मुद्दा जानते हैं

क्या है मामला
पूरा मुद्दा रायसेन के सिलवानी थाना के जैथारी पुलिस चौकी के चैनपुर का है कहा जा रहा है कि यहां पर धार्मिक कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा था जहां पर श्रीराम आदिवासी नाम के एक पुरुष ने शराब के नशे में उत्पात कर रहा था उत्पात की वजह से सरपंच प्रतिनिधि पप्पू ठाकुर ने पुलिस को सूचना दी, सूचना के बाद पहुंची पुलिस पुरुष को विद्यालय तक मारते पीटते गाड़ी में बिठाकर पुलिस चौकी ले गई थी

परिजनों ने लगाया आरोप
मृतक श्रीराम आदिवासी के पिता जगमोहन आदिवासी ने घटना के बाद कहा कि शाम 4 बजे जैथारी पुलिस मेरे बेटे को मारते पीटते ले गई थी और सुबह घर के बाहरी कमरे में अचेत हालत में मिला,  जिसे हम सिलवानी हॉस्पिटल ले गये तो डॉक्टरों ने मृत घोषित करके पोस्टमार्टम किया गया और शाम को पुलिस की मौजूदगी में उसका आखिरी संस्कार किया गया है परिजनों के मुताबिक श्री राम की मृत्यु पुलिस की पिटाई की वजह से हुई है  पुरुष को कब और किसने रात के अंधेरे में घर पर छोड़ कर गया अभी इसकी जानकारी नहीं सामने आ पाई है

ये भी मुद्दा आया सामने 
प्रदेश के बालाघाट जिले में भी आज एक अजीबों गरीब मुद्दा सामने आया है बता दें कि ये आदिवासी बाहुल्य इलाकों में आता है जिले में अधिक तर संख्या आदिवासियों की है बता दें कि जिले के वारासिवनी क्षेत्र में बकरी चोरी के इल्जाम में पुरुष से पैर चटवाने का इल्जाम है इसके अतिरिक्त पीड़ित परिवार पर 6 हजार रुपए का जुर्माना लगाया गया है बता दें कि ये इल्जाम सरपंच सहित कई लोगों पर लगा है, घटना की जानकारी लगने के बाद पुलिस मुद्दे की जांच करने में जुट गई है

Related Articles

Back to top button