लेटैस्ट न्यूज़

सुरंग में फंसे 41 मजदूरों को आज सुरंग से सकुशल बाहर निकालने की हुयी पूरी व्यवस्था

Uttarkashi Tunnel Rescue: उत्तरकाशी सुरंग हादसे के 17वें दिन श्रमिकों के रेस्क्यू का रास्ता साफ हो गया है 16 दिनों तक जीवन की जंग लड़ रहे मजदूर आज टनल की अंधेरी कोठरी से किसी भी समय बाहर आ सकते हैं सिलक्यारा सुरंग में फंसे 41 श्रमिकों को हादसे के 17वें दिन यानी 28 नवंबर को सुरंग से सकुशल बाहर निकालने की पूरी प्रबंध कर ली गई है आज रेस्क्यू टीम सुरंग में फंसे श्रमिकों तक पहुंची और टनल में पाइप डालने का काम पूरा हुआ टेक्निकल एक्सपर्ट, और कई टीमों के दिन रात अथक कोशिश के श्रमिकों के टनल से बाहर निकलने का रास्ता तय हो सका रेस्क्यू के लिए एक्सपर्ट की टीम ने पाइप को मीटर रेट मीटर धकेलते हुए श्रमिकों तक पहुंचाया है अब उसी पाइप के जरिये श्रमिकों को एक-एक कर बाहर निकाला जाएगा

मजदूरों तक पहुंचाई गई पाइप

इधर, उत्तरकाशी सुरंग बचाव एक्यूरेट कंक्रीट सॉल्यूशंस के एमडी अक्षत कात्याल ने बोला कि पाइप को बिना किसी बाधा के बहुत सावधानी से टनल के अंदर धकेला गया है उन्होंने बोला कि एक कामयाबी हासिल की गई है और पाइप गुजर गया है उन्होंने बोला कि श्रमिकों को बचाने का काम प्रारम्भ हो गया है कम से कम 3 लोग हैं उन्होंने बोला कि चार चरण में रेस्क्यू ऑपरेशन किया जाएगा अक्षत ने बोला कि एनडीआरएफ की टीमें टनल के अंदर घुस चुकी हैं रैंप बनते ही श्रमिकों को बाहर निकाला जाएगा ताजा जानकारी के अनुसार श्रमिकों को एक-एक करके सुरंग से बाहर निकाला जाएगा पांच से सात मिनट के अंतराल में श्रमिकों को निकाला जाएगा

सुरंग में फंसे श्रमिकों के सफल रेस्क्यू के लिए ओएनजीसी, एसजेवीएनएल, आरवीएनएल, एनएचआईडीसीएल और टीएचडीसीएल समेत कई और टीमों ने रात दिन एक कर रेस्क्यू के लिए काम किया है इसके अतिरिक्त कई एक्सपर्ट को भी रेस्क्यू में शामिल किया गया है इंटरनेशनल टनलिंग एंड अंडरग्राउंड स्पेस एसोसिएशन के ऑस्ट्रेलिया स्थित अध्यक्ष अर्नोल्ड डिक्स को भी उत्तराखंड बुलाया गया उन्हीं की देखरेख में पूरे ऑपरेशन को अंजाम दिया गया डिक्स 20 नवंबर को उत्तरकाशी स्थित मौके पहुंचे थे

कौन हैं प्रोफेसर अर्नोल्ड डिक्स
बता में टनल में फंसे श्रमिकों को बाहर निकालने में प्रोफेसर अर्नोल्ड डिक्स की अहम किरदार रही है वे भूमिगत और परिवहन बुनियादी ढांचे के जानकार माने जाते हैं डिक्स दुनिया के जाने माने सुरंग जानकार है उन्हें इंजीनियरिंग, भूविज्ञान, कानून और जोखिम प्रबंधन मामलों में तीन दशकों से अधिक का अनुभव है अमेरिका समेत कई राष्ट्रों के उन्हें अपने काम के लिए सम्मान भी मिल चुका है प्रोफेसर अर्नोल्ड डिक्स भूमिगत और परिवहन बुनियादी ढांचे में जाने माने जानकार हैं निर्माण के दौरान आने वाले जोखिमों से लेकर परिचालन से जुड़ी सुरक्षा तक, कई तकनीकी मुद्दों में वह जानकार है इसके अतिरिक्त प्रोफेसर अर्नोल्ड डिक्स एक बैरिस्टर और वैज्ञानिक भी हैं, जिन्हें अंडरग्राउंड में विशेषज्ञता हासिल है

 

Related Articles

Back to top button