लेटैस्ट न्यूज़

प्री-मानसून की दस्तक से बदला राजस्थान का तापमान

प्रदेश में 25 जून मानसून आने की तारीख पिछले कुछ समय से रही है इस बार भी मानसून का समय पर आने की बात मौसम विज्ञान केंद्र कह रहा है मौसम विज्ञान केंद्र की ओर से अजमेर, उदयपुर, कोटा संभाग के जिलों में लिए मेघ गर्जन तेज हवा के साथ बारिश होने की आसार जताई गई है इसी बीच एक बार फिर प्रदेश का तापमान 45 डिग्री पार दर्ज किया जा रहा है

पिछले 24 घंटे के तापमान की बात करें तो चूरू 45.6 डिग्री, गंगानगर 45.1 डिग्री दर्ज किया गया पिलानी, बाड़मेर, बीकानेर, संगरिया, फतेहपुर का अधिकतम तापमान 44 डिग्री से अधिक दर्ज हुआ प्रदेश का अधिकतम तापमान 39 से 45 डिग्री के करीब दर्ज हो रहा है जयपुर का अधिकतम तापमान 43.5 डिग्री दर्ज किया गया तापमान में उतार-चढ़ाव का दौर लगातार जारी हैअंता–बांरा के अधिकतम तापमान में 4.6 डिग्री की बढ़ोतरी दर्ज की गई कोटा, करौली के अधिकतम तापमान में 3 डिग्री से अधिक की गिरावट दर्ज हुई मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक राधेश्याम शर्मा ने कहा प्रदेश में आने वाले दिनों में गर्मी से जल्द राहत मिलने की परिस्थितियों बन रही है 20 जून के बाद प्रदेश में दक्षिण से पूर्व की ओर प्री मानसून की बारिश का असर अधिक देखने को मिलेगाफिलहाल राजस्थान के दक्षिण पश्चिम क्षेत्र में प्री मानसून की गतिविधि प्रारम्भ हो गई है जिसमें कोटा, झालावाड़, जोधपुर और उदयपुर में बारिश रिकॉर्ड की गई है बांसवाड़ा के दानपुर में 30 mm बारिश हुई है वहीं राजस्थान के उत्तरी क्षेत्र श्रीगंगानगर, हनुमानगढ़, चूरू, सीकर में अभी कुछ दिनों तक तपिश वाली गर्मी से राहत मिलती नज़र नहीं आ रहीशर्मा ने कहा कि 20 जून के बाद मासूम की गतिविधि दक्षिण राजस्थान से होती हुई पूर्व की ओर बढ़ेगी इसके बाद इसका असर पश्चिमी और उत्तरी राजस्थान में देखने को मिलेगाप्रदेश में एक और जहां तापमान 50 डिग्री से अधिक पहुंच गया था, वहीं अब राहत की बूंदे आसमान से बरसाने का प्रतीक्षा हो रहा है 20 जून से प्रदेशवासियों को तापमान में कमी महसूस होने का संभावना व्यक्त किया जा रहा है, वहीं मौसम विज्ञान केंद्र की ओर से इस बार मानसून सामान्य रहने के संकेत मिल रहे हैं, कुल मिलाकर अब गर्मी हीट वेव लू से छुटकारा मिलने वाला है

Related Articles

Back to top button