लेटैस्ट न्यूज़

पीथमपुर के पुलिस ने एक बड़े ऑनलाइन सट्टे का किया भंडाफोड़, जिसमे 15 से ज्यादा सटोरियों को…

पीथमपुर के सेक्टर एक थाना पुलिस ने एक बड़े औनलाइन सट्टे का पर्दाफाश किया है. जिसमें 15 से अधिक सटोरियों को पकड़ा है. साथ ही सट्टे में काम आने वाले लैपटॉप, कंप्यूटर, प्रिंटर, 40 से अधिक मोबाइल और पर्चियां बरामद की है.

थाना प्रभारी संतोष कुमार दूधी ने कहा कि बुधवार शाम पुलिस की ओर से नूतन नगर स्थित एक मकान पर दबिश दी गई. दबिश के समय 15 से अधिक आदमी भिन्न-भिन्न लेपटॉप और टेलीफोन के माध्यम से सट्टा उतार रहे थे. जिन्हें रंगे हाथों अरैस्ट किया गया. वहीं मकान से लैपटॉप कंप्यूटर टेलीफोन और 17 हजार रुपए नगदी बरामद की गई. पकड़े गए सभी लोगों पर विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज किया जा रहा हे.

सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा डीआईजी का प्रेस नोट

वहीं इंदौर ग्रामीण डीआईजी की स्पेशल स्कॉर्ट ने किशनगंज और पीथमपुर के सेक्टर 1 की बॉर्डर पर बड़े लेवल पर नागपुर के मधुर सट्टे का संचालक कर रहे 20 सटोरियों को पकड़ा है. साथ ही बड़ी संख्या में लैपटॉप, प्रिंटर, मोबाइल, करोड़ों के हिसाब की डायरी और पर्चियों को भी बरामद किया है. मधुर सट्टा नागपुर के सट्टे की लाइन है, जिसका मुख्य से संचालन किशनगंज और स्केटर 1 की बॉर्डर पर संचालित हो रहा था.

जानकारी के अनुसार ग्रामीण डीआईजी निमिश अग्रवाल को सूचना मिली कि किशनगंज और सेक्टर 1 की बॉर्डर पर नागपुर का विख्यात सट्टा मधुर सट्टे का मुख्य रूप से संचालन हो रहा है. सूचना पर ग्रामीण डीआईजी निमिश अग्रवाल ने अपनी स्पेशल टीम को मौके पर भेजकर दबिश डलवाई. जैसे ही टीम ने दो थाना क्षेत्र की बॉर्डर पर संचालित हो रहे सट्टे के अड्डे पर दबिश मारी तो वहां हलचल मच गई.

टीम ने मौके से 20 लोगो को पकड़ कर उनसे 43 मोबाइल, दो दर्जन करीब प्रिंटर, लैपटॉप, बड़ी संख्या में पेन, करोड़ों के हिसाब डायरी, पर्चियां और करीब 15 हजार नगद बरामद किए हैं. डीआईजी निमिश अग्रवाल के अनुसार दो थाना क्षेत्र की बॉर्डर पर सट्टा सुनील जायसवाल और राजेश सिंगल संचालित करवा रहे थे. वहीं दो थाना क्षेत्र की बॉर्डर होने के कारण जांच की कई तो सट्टा सेक्टर वन में संचालित होना पाया गया. आगे की कार्रवाई के लिए पकड़ाए सटोरियों को सेक्टर 1 को दिया गया है.

 

Related Articles

Back to top button