लेटैस्ट न्यूज़

INDIA सहयोगी पर ही बरसे राहुल गांधी

चुनाव प्रचार के बीच राहुल गांधी ने गुरुवार को अपने विपक्षी गठबंधन के सहयोगी पिनाराई विजयन पर जमकर निशाना साधा. राहुल गांधी ने पूछा कि केंद्र में सत्तारूढ़ दल सीएम पिनाराई विजयन पर “हमला क्यों नहीं” कर रहा है राहुल गांधी ने इस बात पर आश्चर्य जताया कि प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने अब तक केरल के सीएम पिनाराई विजयन से पूछताछ क्यों नहीं की, जबकि केंद्रीय एजेंसियां बीजेपी (​​भाजपा) पर धावा करने वाले सभी नेताओं से पूछताछ कर रही हैं. बता दें कि केरल में कांग्रेस पार्टी और सीपीआई (एम) दोनों एक-दूसरे पर बीजेपी के साथ समझौता करने का इल्जाम लगा रहे हैं.

कन्नूर में एक चुनाव अभियान को संबोधित करते हुए राहुल ने कहा, ”दो सीएम कारावास में हैं. केरल के सीएम के साथ ऐसा कैसे नहीं हो रहा? मैं चौबीसों घंटे बीजेपी पर धावा कर रहा हूं और केरल के सीएम चौबीसों घंटे मुझ पर धावा कर रहे हैं. यह थोड़ा दंग करने वाला है.” राहुल गांधी का इशारा झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन और दिल्ली के मौजूदा मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की ओर था. दोनों नेता इस समय कारावास में बंद हैं.

राहुल गांधी ने आगे कहा, “वह (विजयन) कहते हैं कि वह वैचारिक रूप से बीजेपी से लड़ रहे हैं, लेकिन मैं जानता हूं कि जब आप वैचारिक रूप से बीजेपी से लड़ते हैं, तो वे लोग अपने पास उपस्थित हर चीज से आप पर धावा करते हैं. हालांकि, केरल के सीएम पर कोई धावा नहीं हुआ है. यह कुछ ऐसा है जिसके बारे में केरल के लोगों को सोचना चाहिए.

प्रवर्तन निदेशालय ने 2020 में सोने की स्मग्लिंग घोटाले की जांच प्रारम्भ की थी जिसमें मुख्यमंत्री के पूर्व प्रमुख सचिव को अरैस्ट किया गया था. प्रवर्तन निदेशालय विजयन की बेटी वीणा से जुड़े गैरकानूनी भुगतान घोटाले की भी जांच कर रही है. उल्लेखनीय है कि कांग्रेस पार्टी राष्ट्रीय स्तर पर सीपीआई (एम) के साथ गठबंधन में है, लेकिन केरल में उसका गठबंधन नहीं है. कांग्रेस पार्टी ने इल्जाम लगाया है कि केंद्रीय एजेंसी इन मामलों में ढुलमुल ढंग से काम कर रही है, जो बीजेपी और वाम दल के बीच सांठगांठ का संकेत देता है.

राहुल ने बोला कि वह प्रत्येक दिन भाजपा और आरएसएस से लड़ते हैं और इसके कारण, “देश भर में मेरी छवि खराब हो गई है, मेरी लोकसभा सदस्यता छीन ली गई और प्रवर्तन निदेशालय ने मुझसे दिन में 12 घंटे पूछताछ की…” राहुल गांधी ने आश्चर्य व्यक्त करते हुए कहा, “जो कोई भी बीजेपी पर धावा करेगा, बीजेपी 24 घंटे के भीतर प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) जैसी केंद्रीय जांच एजेंसियों को भेजकर उनका पीछा करेगी. हालांकि केरल के सीएम पिनाराई विजयन के साथ ऐसा नहीं हुआ है. पिनाराई विजयन को कुछ क्यों नहीं हुआ और प्रवर्तन निदेशालय ने अब तक उनसे पूछताछ क्यों नहीं की.

Related Articles

Back to top button