लेटैस्ट न्यूज़

छत्तीसगढ़ हाईकोर्ट के एडवोकेट की मोबाइल पर कॉल कर धमकी देने का आया मामला

पूर्व AG ने आपराधिक षडयंत्र रचने की जताई आशंका.

छत्तीसगढ़ उच्च न्यायालय के पूर्व एडवोकेट जनरल सतीश चंद वर्मा के मोबाइल पर कॉल कर धमकी देने का मुद्दा सामने आया है. जालसाजों ने उनके बेटे की गिरफ्तारी की जानकारी देकर उन्हें पैसे लेकर पुलिस स्टेशन बुलाया.

हाईकोर्ट के पूर्व एडवोकेट जनरल सतीशचंद वर्मा तिफरा के बापजी कॉलोनी में रहते हैं. 11 जून को वो उच्च न्यायालय में अपने ऑफिस में काम कर रहे थे. उसी समय उनके मोबाइल पर अनजान नंबर से कॉल आया. टेलीफोन करने वाले ने अपने आपको पुलिस कर्मी कहा और उनके बेटे की गिरफ्तारी की जानकारी दी. उन्हें छुड़ाने के लिए पैसे लेकर पुलिस स्टेशन बुलाया गया. सीनियर एडवोकेट वर्मा ने धमकी भरे कॉल की जानकारी अपने सहयोगी वकीलों को दी. जिसके बाद उन्होंने चकरभाठा पुलिस स्टेशन में की. पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर मुद्दे को जांच में ले लिया है.

 

आपराधिक षड्यंत्र की आशंका
सीनियर एडवोकेट वर्मा ने संभावना जताई है कि कोई उनके विरुद्ध आपराधिक षड्यंत्र की जा रही है. उन्होंने पुलिस को कहा कि टेलीफोन करने वाले के पास उनके परिवार और बेटे के संबंध में जानकारी कैसे आई, यह जांच का विषय है. उन्होंने बोला कि इससे संभावना है कि कोई अपराधिक संगठन उनके परिवार की जानकारी रखता है. साथ ही उन्हें ब्लेकमेल कर पैसों की मांग कर रहा है.

धमकी देकर जालसाजी करने वालों का रैकेट सक्रिय
जिले में पुलिस के नाम से धमकी देकर पैसे वसूली के कई मुद्दे सामने आए हैं. साइबर ठग औनलाइन एफआईआर से शिकायतकर्ताओं के नंबर हासिल कर पुलिस कर्मी बनकर पैसे भी वसूल लिए. इसके बाद पुलिस की ओर से लोगों को कई बार सचेत भी किया गया है. इस तरह की ठगी को देखते हुए पुलिस ने अब एफआईआर से शिकायतकर्ताओं के नाम को विलोपित कर दिया है.

Related Articles

Back to top button