ट्रंप ने कासिम सुलेमानी की अमेरिकी एयर हड़ताल में हुई मृत्यु का किया बचाव

ट्रंप ने कासिम सुलेमानी की अमेरिकी एयर हड़ताल में हुई मृत्यु का किया बचाव

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने एक बार फिर ईरानी सैन्य कमांडर जनरल कासिम सुलेमानी की अमेरिकी एयर हड़ताल में हुई मृत्यु का बचाव किया है. उन्होंने सुलेमानी को संसार का नंबर एक आतंकवादी बताया है.

ट्रम्प का यह बयान ऐसे समय में आया है जब ईरानी लोग अपनी ही सरकार के विरूद्ध लगातार चार दिनों से विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं, क्योंकि उनकी आर्मी ने गलती से यूक्रेन के एक विमान को गिरा दिया जिसमें 176 लोगों की जान चले गई थी.

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने बोला कि, 'हमने सुलेमानी (ईरानी सैन्य कमांडर जनरल कासिम सुलेमानी) को मारा गिराया. वह हर प्रकार से संसार का नंबर एक आतंकवादी था. ट्रम्प ने बोला कि उस इंसान ने बहुत ज्यादा सारे अमेरिकियों व अन्य लोगों की मर्डर की थी. हमने उसे मार दिया. जब डेमोक्रेट्स उसे बचाने का कोशिश करते हैं तो यह हमारे देश का अपमान होता है.' बताते चलें कि गलती से यात्री विमान को टारगेट बनाने की वजह से वैश्विक आलोचना के साथ ही ईरान अपने ही घर में घिरता जा रहा है.

कुछ दिन पहले जो लोग अपने सैन्य कमांडर सुलेमानी की मृत्यु का बदला लेना चाहते थे, अब वही लोग अपनी सरकार के विरूद्ध सड़कों पर उतर गए हैं. सरकार विरोधी इस प्रदर्शन को अमेरिका का समर्थन मिला है. राष्ट्रपति ट्रंप ने इस बारे में कई ट्वीट करते हुए बोला है कि सरकार को प्रदर्शनकारियों की आवाज नहीं दबानी चाहिए. साथ ही उन्होंने चेतावनी दी है कि ईरान को फिर से प्रदर्शनकारियों का नरसंहार नहीं करना चाहिए.