वैज्ञानिकों ने कोरोना वायरस के दौरान BCG के टीके को लेकर दी यह बड़ी जानकारी

वैज्ञानिकों ने कोरोना वायरस के दौरान BCG के टीके को लेकर दी यह बड़ी जानकारी

 इस बात में कोई शक नहीं है कि बीते कई दिनों से लगातार कोरोना वायरस का कहर विश्वभर के कोने कोने में फैलता जा रहा है. हर दिन इस वायरस की चपेट में आने से लोग संक्रमित होते जा रहे है.

वहीँ कोविड के कारण आज दुनियाभर में मरने वालों का आंकड़ा बढ़ता ही जा रहा है. जिसके बाद से ये भी नहीं बोला जा सकता है कि इस महामारी से कब तक पूर्ण रूप से निजात मिल सकता है. और कब तक इस वायरस का असर रहने वाला है. 

मिली जानकारी के अनुसार वैज्ञानिकों ने ऐसे वालंटियरों के बीच तुलना की है जिन्हें BCG का टीका लगाया गया था और जिन्हें यह टीका नहीं लगा था. जंहा इस पर वैज्ञानिकों ने पाया कि कोरोना वायरस महामारी के बीच बीसीजी का टीका लगे लोग बार-बार बीमार नहीं पड़े या ज्यादा गंभीर बीमार नहीं हुए.

जंहा इस बात का पता चला है कि सेल रिपो‌र्ट्स मेडिसिन जर्नल में प्रकाशित अध्ययन में स्वस्थ वालंटियरों के ऐसे संगठन का मूल्यांकन किया गया जिन्हें वर्तमान कोविड महामारी से पूर्व के पांच वर्षो में बीसीजी का टीका दिया गया था. उनकी प्रतिरक्षा प्रणाली की तुलना ऐसे स्वस्थ वालंटियरों से की गई जिन्हें यह टीका नहीं लगाया गया था.