उत्तर कोरिया के WHO ने ढूंढ लिया है कोरोना वायरस का उपचार, जाने इतने लोगो को मिली छुट्टी

 उत्तर कोरिया के WHO ने ढूंढ लिया है कोरोना वायरस का उपचार, जाने इतने लोगो को मिली छुट्टी

 दिन रोजाना बढ़ता जा रहा कोरोना का कहर इस वक़्त इतना बढ़ चुका है की अब तक कई लोगों की जाने जा चुकी है। वहीं अब भी WHO इस बीमारी से लड़ने का उपचार ढूंढ रही है। उत्तर कोरिया में कोरोना वायरस संक्रमण के 3,650 संदिग्ध मरीजों की छुट्टी कर दी गई है। 

दुनियाभर में तेजी से फैल रहे खतरनाक वायरस के संक्रमण के भय से उत्तर कोरिया पहले ही अपनी सीमाएं बंद कर चुका है। पर्यटकों पर पाबंदी के साथ अंतर्राष्ट्रीय उड़ानें व रेल परिचालन भी बंद कर दिया गया है। उत्तर कोरिया का बोलना है कि उसके यहां अभी तक कोरोना संक्रमण का कोई मुद्दा सामने नहीं आया है।

उत्तर कोरिया की खुपिया खबर एजेंसी के अनुसार, कांगवोन व चागेंग प्रांतों में निगरानी में रखे गए 3650 लोगों की छुट्टी कर दी गई है। उत्तर कोरिया के सर्वोच्च नेता किम जोंग उन ने पिछले माह अपने अधिकारियों को आगाह किया था कि अगर कोरोना वायरस देश में पहुंचा तो गंभीर परिणाम होंगे। जानकारों के मुताबिक, चिकित्सा व्यवस्था की कमी के मद्देनजर देश में खतरनाक संक्रमण से बचाव ही एकमात्र विकल्प है।

95 राष्ट्रों में पहुंचा कोरोना वायरस: जानकारी के लिए हम बता दें कि चाइना से बाहर जानलेवा कोरोना वायरस से सबसे ज्यादा प्रभावित इटली में संक्रमण की रोकथाम के लिए बेहद कठोर कदम उठाए गए हैं। करीब एक चौथाई आबादी को घरों में कैद रहने की हिदायत दी गई है। साथ ही सारे देश में 3 अप्रैल तक स्कूल, सिनेमाघर, थियेटर, नाइट क्लब व म्यूजियम बंद कर दिए गए हैं। चाइना के वुहान शहर से फैला कोरोना वायरस अब तक 95 राष्ट्रों में पहुंच चुका है। इटली के पीएम ग्यूसेप कोंटे ने वायरस से सबसे ज्यादा प्रभावित उत्तरी क्षेत्र में लोगों को बगैर किसी खास वजह के आवाजाही नहीं करने को बोला गया है।