भारत में कोरोना संकट को देखते हुए अमेरिका की अपने नागरिकों को जल्द भारत छोड़ने की सलाह

भारत में कोरोना संकट को देखते हुए अमेरिका की अपने नागरिकों को जल्द भारत छोड़ने की सलाह

अमेरिका ने अपने नागरिकों को भारत की यात्रा नहीं करने की सलाह दी है। साथ ही जो लोग पहले ही भारत में हैं उन्हें जल्द से जल्द देश छोड़ने की भी हिदायत दी है। अमेरिकी दूतावास के अपने कर्मियों के स्वजनों को भी समय रहते भारत से लौटने को कहा गया है। उनकी दलील है कि भारत में कोविड-19 के मामले बढ़ने के बीच सभी तरह की चिकित्सीय देखभाल के संसाधन सीमित हो गए हैं। अमेरिका ने भारत पर चौथे चरण का यात्रा परामर्श जारी किया है जो विदेश विभाग द्वारा जारी किए जाने वाला सबसे अधिक स्तर का परामर्श होता है।

अमेरिका ने कही यह बात

परामर्श में अमेरिकी नागरिकों से भारत की यात्रा न करने या जल्द से जल्द वहां से निकलने के लिए कहा गया है क्योंकि देश में मौजूदा स्वास्थ्य स्थिति के कारण ऐसा करना सुरक्षित है। अमेरिकी विदेश विभाग ने ट्वीट किया, 'भारत में कोविड-19 के मामलों के कारण चिकित्सीय देखभाल के संसाधन बेहद सीमित हैं। भारत छोड़ने की इच्छा रखने वाले अमेरिकी नागरिकों को अभी उपलब्ध वाणिज्यिक विकल्पों का इस्तेमाल करना चाहिए। अमेरिका के लिए रोज चलने वाली उड़ानें और पेरिस तथा फ्रैंकफर्ट से होकर आने वाली उड़ानें उपलब्ध हैं।'


देते रहेंगे आपात काउंसलर सेवाएं

नई दिल्ली स्थित अमेरिकी दूतावास और चेन्नई, हैदराबाद, कोलकाता व मुंबई स्थित अमेरिकी कांसुलेट जनरल खुले रहेंगे और आपात काउंसलर सेवाएं देते रहेंगे। मिशन इंडिया के कर्मचारियों के स्वजनों की वापसी को भी अधिकृत कर दिया गया है। स्वास्थ्य अलर्ट जारी करते हुए नई दिल्ली में स्थित अमेरिकी दूतावास ने कहा, 'भारत में कोविड-19 के मामले बढ़ने के कारण सभी तरह की चिकित्सीय देखभाल बेहद सीमित हो रही है।' उसने अमेरिकी नागरिकों से यात्रा पाबंदियों पर ताजा जानकारी के लिए भारत के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय की वेबसाइट पर जाने के लिए कहा है।

बुनियादी ढांचा बाधित

दूतावास ने एक बयान में कहा, 'भारत में कोविड-19 के नए मामले और मौत की संख्या रिकॉर्ड स्तर तक बढ़ गई है। कई स्थानों पर कोविड-19 जांच का बुनियादी ढांचा बाधित हो गया है।' इसमें कहा गया है, अस्पतालों में कोविड-19 और गैर कोविड-19 मरीजों के लिए चिकित्सा सामान, ऑक्सीजन और बिस्तरों की कमी हो गई है। कुछ शहरों में जगह न होने के कारण अमेरिकी नागरिकों को अस्पतालों में भर्ती करने से इन्कार करने की खबरें हैं। कुछ राज्यों में कफ्र्यू और अन्य पाबंदियां हैं जिससे गैर आवश्यक कारोबारों का संचालन रुक गया है और आवाजाही सीमित हो गई है।


भारतीय फ्लाइटों को क्वारंटाइन कराएगी इटली

इटली ने घोषणा की है कि वह भारत में कोरोना संकट को देखते हुए वहां से आने वाली फ्लाइटों को क्वारंटाइन कराएगा। इसकी शुरुआत बुधवार की शाम को नई दिल्ली से रोम पहुंच फ्लाइट के साथ हो चुकी है। इस विमान में कुल 210 यात्री सवार थे। अधिकारियों ने बताया कि इटली के स्वास्थ्य मंत्री रोबर्टो स्पेरेंजा ने एक नए अधिनियम पर दस्तखत किए हैं। इसके मुताबिक भारत से आए यात्रियों को स्वास्थ्य अधिकारियों की ओर से तय एक अलग जगह पर दस दिनों के लिए क्वारंटाइन कराया जाएगा। यात्रियों के एयरपोर्ट पहुंचने पर सबसे पहले उनकी कोरोना जांच की जाती है।


भारत से द. अफ्रीका को कोई सीधा कोविड खतरा नहीं

दक्षिण अफ्रीका के स्वास्थ्य मंत्री ज्वेली खिजे ने संसद की स्वास्थ्य समिति को बताया है कि उनके देश को भारत से कोविड-19 के संक्रमण का कोई सीधा खतरा नहीं है। हालांकि उन्होंने आश्वासन दिया कि जो लोग और देशों के रास्ते भी भारत से आ रहे होंगे उनकी अतिरिक्त निगरानी की जाएगी। उन्होंने कहा कि हम हालात से वाकिफ हैं। लेकिन उन्होंने आश्वस्त किया कि दक्षिण अफ्रीका के लिए भारत की कोई डायरेक्ट फ्लाइट नहीं है जिससे एक साथ बहुत लोग आ जाएं और देश के लिए कोरोना का खतरा बढ़ जाए।


मध्य नेपाल में बाढ़ के कहर से एक की मौत, कई लोगों के लापता होने की आशंका

मध्य नेपाल में बाढ़ के कहर से एक की मौत, कई लोगों के लापता होने की आशंका

मध्य नेपाल में बाढ़ के कहर से एक की मौत हो गई है और दर्जनों के लापता होने की आशंका है। सिंधुपालचौक के मुख्य जिला अधिकारी अरुण पोखरेल ने समाचार एजेंसी एएनआइ को बताया, हमें संदेह है कि बाढ़ मेलमची और इंद्रावती नदी के मुख्य स्रोत से उत्पन्न हुई है। अभी तक हमने केवल एक की मौत की पुष्टि की है।


बता दें कि नेपाल में लगातार बारिश हो रही है जिसके कारण यहां बाढ़ जैस स्थिति हो गई है। वहीं, इसका असर कुछ भारतीय क्षेत्रों में भी दिख रहा है। नेपाल में लागातर पानी बरसने से बिहार की गंडक नदी में पानी का स्तर काफी ज्यादा बढ़ गया है।

 
अरुण पोखरेल ने कहा, 'हमें संदेह है कि बाढ़ की स्थिति मेलमची और इंद्रावती नदी के मुख्य स्रोत से उत्पन्न हुई है। इस वजह से हेलम्बू से शुरू होने वाले गलियारों में बाढ़ की स्थिति पैदा हो गई।' बुधवार तड़के स्थानीय प्रशासन के विभिन्न अधिकारियों ने नुकसान और लोगों के लापता होने की खबर की पुष्टि की है। ग्राम परिषद प्रमुख नीमा ग्यालजेन शेरपा ने बताया, 'मेरी ग्राम परिषद में ही, कल शाम से लगभग छह लोगों के लापता होने की खबरें हैं। कल देर शाम से शुरू हुआ जल स्तर किऊल और ग्यालथुम के साथ-साथ मेलमची नदी के किनारे बने घरों में पहुंच गया।'

शेरपा ने कहा, 'इसके साथ ही, बाढ़ के पुलों, बिजली और संचार के अन्य बुनियादी ढांचे के बह जाने की भी सूचना है। हम अभी भी इससे हुए नुकसान का पूरी तरह से पता नहीं लगा सके हैं।' सिंधुपालचौक 2015 के भूकंप के केंद्रों में से एक है और यहां हर साल यहां बाढ़ जैसी स्थिति पैदा हो जाती है।


अमेरिका व ईयू के बीच सालों पुराना व्यापारिक विवाद खत्म, पुतिन से मुलाकात से पहले बाइडन का पक्ष मजबूत!       मध्य नेपाल में बाढ़ के कहर से एक की मौत, कई लोगों के लापता होने की आशंका       चीन के 28 लड़ाकू विमानों ने फिर ताइवान के एयरस्पेस में भरी उड़ान       ऑस्ट्रेलिया के मेलबर्न में कोरोना वायरस के प्रकोप के बावजूद लोगों को शहर छोड़ने की मिली अनुमति       जरायल ने गाजा पर किए हवाई हमले, सेना ने पुष्टि कर कहा...       कैलिफोर्निया में वैक्सीन जैकपॉट, जानें दस विजेताओं को मिलेगी कितनी धनराशि       नासा के रोवर परसिवरेंस ने मार्स पर देखी धरती पर मौजूद वॉल्‍केनिक रॉक जैसी चट्टान       दस वर्ष बाद पहली बार आज मिलेंगे बाइडन और पुतिन, तनातनी के बीच जानें       अब तक चोरी की घटना का कोई सुराग नहीं,पीड़ित परिवार से मिलकर जिला प्रधान ने जाना हाल-चाल, शहर की विधि व्यवस्था पर एसपी से करूंगी बात: शालिनी       भारतीय मूल की सरला विद्या बनीं अमेरिका में संघीय जज, बाइडन ने किया मनोनीत       सरला से बढ़ा भारत का मान, बाइडन ने किया कनेक्टिकट राज्‍य का संघीय जज मनोनीत, जानें       बाइडन ने पुतिन को कहा था 'हत्‍यारा', जानें- जिनेवा में उनसे मुलाकात के पूर्व कैसे पड़े नरम, कही ये बात       अंतरिक्ष में Manned Mission को तैयार चीन, कल रवाना होंगे तीन एस्‍ट्रॉनॉट्स       रेडिएशन लीकेज से चीन का इनकार, कहा...       पाक सेना प्रमुख बाजवा ने अफगानिस्तान के साथ अंतरराष्ट्रीय सीमा पर ...       पाक की संसद में जमकर हुआ हंगामा, सत्तापक्ष और विपक्ष के सदस्यों ने एक दूसरे पर फेंके बजट के दस्तावेज       सिंध में पैसे देकर कोई कुछ भी कर सकता है, प्रांत में नहीं है सरकार जैसी कोई चीज- चीफ जस्टिस ऑफ पाकिस्‍तान       कुलभूषण जाधव मामले में इस्लामाबाद हाई कोर्ट ने सुनवाई 5 अक्टूबर तक टाली       पाकिस्तान : 13 साल की लड़की का जबरन धर्म परिवर्तन कर कराया गया निकाह       फेक न्यूज प्रसारित करने वालों पर सीएम योगी सख्त, बोले- संप्रदायिक उन्माद फैलाने की कोशिश नहीं स्वीकार