स्पेन में 50 दिन बाद लोगों ने ली खुली हवा में सांस, जाने फिर आया यह बड़ा खतरा

स्पेन में 50 दिन बाद लोगों ने ली खुली हवा में सांस, जाने फिर आया यह बड़ा खतरा

 एकाएक बढ़ा ही जा रहा कोरोना का प्रकोप आज पूरी संसार के लिए महामारी का रूप लेता रहा है। वही इस वायरस की चपेट में आने से अब तक 2 लाख 44 हजार से अधिक मौते हो चुकी है।

 लेकिन अब भी यह मृत्यु का खेल थमा नहीं है। इस वायरस ने आज पूरी संसार को हिला कर रख दिया है। कई राष्ट्रों के अस्पतालों में बेड भी नहीं बचे है तो कही खुद डाक्टर इस वायरस का शिकार बनते जा रहें है।

स्पेन में 50 दिन बाद लोगों ने ली खुली हवा में सांस: सात सप्ताह के कठोर लॉकडाउन के बाद शनिवार को स्पेन के लोगों ने खुली हवा में सांस ली। नियमित व्यायाम के लिए बाहर निकले लोगों से ना केवल सड़कें गुलजार रहीं बल्कि मैड्रिड के समुद्र तटों पर भी बहुत ज्यादा भीड़भाड़ देखी गई। बता दें कि स्पेन में 14 मार्च से लॉकडाउन की आरंभ हुई थी। लॉकडाउन से छूट के बाद जहां हजारों लोग व्यायाम करने निकले वहीं कुछ लोगों का मानना है कि सरकार ने जल्दबाजी में फैसला लिया है व इसके गंभीर परिणाम हो सकते हैं।

स्पेन में 25 हजार से ज्यादा की मौत: स्पेन में पिछले चौबीस घंटे में 276 व लोगों की मृत्यु हुई है। इस तरह महामारी से मरने वालों की संख्या 25,100 हो गई है। संक्रमण के 1,147 नए मामलों का भी पता चला है। इस तरह संक्रमित लोगों की तादाद 245,567 हो गई है। स्पेन के पीएम पेड्रो सांचेज ने ट्वीट में कहा, 'हम लॉकडाउन से छूट देकर एक नया कदम उठा रहे हैं, लेकिन हमें इस दौरान सावधानी बरतने की आवश्यकता है। वायरस का खतरा अभी कम नहीं हुआ है। स्वच्छता व शारीरिक दूरी के दिशानिर्देशों का हमें सम्मान करना चाहिए। '