कैलिफोर्निया में वैक्सीन जैकपॉट, जानें दस विजेताओं को मिलेगी कितनी धनराशि

कैलिफोर्निया में वैक्सीन जैकपॉट, जानें दस विजेताओं को मिलेगी कितनी धनराशि

कैलिफोर्निया में वैक्सीन लॉटरी के दस विजेताओं के नाम का ऐलान किया गया। वैक्सीन जैकपॉट के जरिए घोषित विजेताओं में से प्रत्येक को 15 लाख रुपये की धनराशि बतौर इनाम दिए जाएंगे। राज्य में कोरोना वायरस सख्ती को खत्म करने के क्रम में गवर्नर गेविन न्यूसम (Governor Gavin Newsom) ने मंगलवार को यूनिवर्सल स्टुडियोज में वैक्सीन की खुराक ले चुके कैलिफोर्निया के दस लोगों को ईनाम देने की घोषणा की है। दरअसल लोगों को वैक्सीनेशन के लिए प्रोत्साहित करने के क्रम में यहां वैक्सीन लेने के बाद पुरस्कृत करने का प्रोग्राम 'Vax for the Win' चलाया गया।

लॉस एंजेल्स में नर्स कोरडोवा (Cordova) राज्य की पहली नागरिक हैं जिन्होंने कोरोना वैक्सीन की खुराक पिछले साल दिसंबर में ली थी। उन्होंने कहा कि यह उनके करियर का सबसे बुरा फेज है जब इतनी मौतों का सामना करना पड़ा। 22 मिलियन लोगों में से उन दस विजेताओं के नामों की घोषणा हुई जो कम से कम वैक्सीन की एक डोज भी ले चुके हैं। बता दें कि 2019 के अंत में चीन के वुहान में कोरोना वायरस संक्रमण का पहला मामला सामने आया था। इसके दो-तीन माह बाद ही 11 मार्च को विश्व स्वास्थ्य संगठन ने इसे महामारी घोषित कर दिया। कोरोना संक्रमण के कारण सबसे बुरा हाल अमेरिका का रहा।


देश के सबसे अधिक आबादी वाले राज्य कैलिफोर्निया में पूरी तरह पाबंदियों को हटाने से पहले अधिक से अधिक लोगों को वैक्सीन लगाने के क्रम में इस तरह की योजनाओं को लाया गया। कैलिफोर्निया ऐसा पहला राज्य नहीं है, जहां वैक्सीन लगाने के बदले में इनामी राशि की घोषणा की गई है। ओहायो में भी ‘वैक्स-ए-मिलियन’ प्रतियोगिता आयोजित की गई और 10 विजेताओं को पुरस्कृत किया गया। इसके अलावा कोलोराडो और ओरेगांव ने भी 10 लाख डॉलर के इनाम की घोषणा की गई थी। उल्लेखनीय है कि दुनिया के अधिकांश देशों में कोरोना वैक्सीन की डोज लेने में लोग कतरा रहे हैं।


पाकिस्तान में हिंदू धार्मिक स्थल पर हमले से इलाके में तनाव

पाकिस्तान में हिंदू धार्मिक स्थल पर हमले से इलाके में तनाव

पाकिस्तान के रहीम यार खान जिले के भोंग क्षेत्र में उन्मादी भीड़ द्वारा एक हिंदू मंदिर में तोड़-फोड़ की घटना के बाद तनाव की स्थिति पैदा हो गई है। इसे देखते हुए इलाके में पैरामिलिट्री फोर्स तैनात कर दी गई है। रहीम यार खान जिला पुलिस के प्रवक्ता अहमद नवाज ने बताया कि पुलिस हमलावरों की तलाश कर रही है।

बताया जा रहा है कि पाकिस्तानी सांसद और हिंदू समुदाय के नेता रमेश कुमार वंकवानी ने इस घटना के वीडियो साझा किए। इन वीडियोज में भीड़ मंदिर के बुनियादी ढांचे को नष्ट करती नजर आ रही है। इतना ही नहीं मंदिर की मूर्तियों के साथ भी तोड़-फोड़ मचाई गई है। एक अन्य वीडियो में उन्मादी भीड़ मंदिर से सटी सड़क पर लाठी-डंडे लेकर दौड़ती दिख रही है। रमेश कुमार ने ट्विटर पर एक वीडियो पोस्ट की और कहा कि शुरुआत में पुलिस की धीमी प्रतिक्रिया के कारण स्थिति और मंदिर को नुकसान पहुंचा है। बता दें कि हाल के वर्षों में, पाकिस्तान में अल्पसंख्यकों के पूजा स्थल पर हमलों में वृद्धि हुई है। अपने अल्पसंख्यकों के हितों की रक्षा करने में असफल पाकिस्तान को अंतरराष्ट्रीय समुदाय द्वारा बार-बार फटकार भी लग चुकी है।