बाइडन ने पुतिन को कहा था 'हत्‍यारा', जानें- जिनेवा में उनसे मुलाकात के पूर्व कैसे पड़े नरम, कही ये बात

बाइडन ने पुतिन को कहा था 'हत्‍यारा', जानें- जिनेवा में उनसे मुलाकात के पूर्व कैसे पड़े नरम, कही ये बात

अंतरराष्‍ट्रीय राजनीति में संबंधों को लेकर एक कहावत है कि 'न कोई किसी का स्‍थाई दोस्‍त होता है, न कोई स्‍थाई दुश्‍मन।' यह कहावत अमेरिकी राष्‍ट्रपति जो बाइडन ने चरितार्थ कर दी है। अमेरिकी राष्‍ट्रपति चुनाव के वक्‍त चुनाव में दखल को लेकर बाइडन ने रूसी राष्‍ट्रपति पुतिन को खबरदार किया था। इतना ही नहीं मार्च के महीने में उन्‍होंने पुतिन को हत्‍यारा तक कह दिया था। जिनेवा में पुतिन से मुलाकात के पहले बाइडन से जब हत्‍यारा को लेकर सवाल किया गया तो उन्‍होंने बहुत चतुराई से दिया ये जबाव।

बाइडन ने पहले क्‍या कहा -

हाल में बाइडन ने एक साक्षात्‍कार में कहा था कि पुतिन को अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में कथित दखल की कीमत चुकानी होगी। इसी साक्षात्‍कार में उन्‍होंने पुतिन को एक हत्‍यारा यानी किलर की संज्ञा दी थी। उनका यह बयान ऐसे समय आया था, जब अमेरिकी इंटेलिजेंस रिपोर्ट के हवाले से कहा गया था कि बीते नवंबर में अमेरिका में हुए राष्‍ट्रपति चुनाव में पुतिन ने एक हस्‍तक्षेप अभियान के जरिए चुनाव में छेड़छाड़ की कोशिश की है। इस रिपोर्ट में रूस पर आरोप लगाया गया था कि वह पूर्व राष्ट्रपति डोनॉल्ड ट्रंप के पक्ष में चुनाव नतीजों को मोड़ने की कोशिश कर रहा है।

बाइडन ने बाद में क्‍या कहा -

सोमवार को एक प्रेस वार्त में बेल्जियम में जब बाइडन से पूछा गया कि क्या वो पुतिन को अब भी हत्यारा मानते हैं, तो उन्होंने इस सवाल को हंसी में टाल दिया। बाइडन ने कहा कि हमारी अगली मुलाकात के पूर्व ये बातें बहुत मायने नहीं रखतीं। उन्‍होंने कहा कि मैंने अपने कार्यकाल में इस तरह के हमले बहुत झेले हैं। बाइडन ने कहा कि अब हमकों ऐसे हमलों से हैरानी नहीं होती। हम जिन लोगों के साथ काम करते हैं , जिनके साथ हमारे मतभेद होते हैं, उनके मियां-बीवी का रिश्‍ता तो नहीं होता। कई मामलों में हम सहयोगी होते हैं और कई मामलों में विरोधी। उन्‍होंने कहा कि जहां तक इस तरह के शब्‍दावली के प्रयोग की बात है तो मैं समझता हूं कि ये अमेरिकी कल्‍चर का हिस्‍सा है।

 
तल्‍ख रिश्‍तों के बीच दोनों नेताओं की मुलाकात

आज यानी 16 जून को रूस के राष्‍ट्रपति व्‍लादिमीर पुतिन और अमेरिकी राष्‍ट्रपति जो बाइडन की जिनेवा में मुलाकात हो रही है। यह बाइडन और पुतिन की पहली मुलाकात होगी। यह मुलाकात ऐसे समय में हो रही है, जब दोनों देशों के आपसी संबंध सबसे खराब दौर में है। इसका अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि रूस ने हाल में अमेरिका को ऐसे देशों की सूची में डाल दिया है, जिसके संबंध दोस्‍ताना नहीं है। इतना ही नहीं दोनों देशों में कोई राजदूत नहीं है।


पाकिस्तान में हिंदू धार्मिक स्थल पर हमले से इलाके में तनाव

पाकिस्तान में हिंदू धार्मिक स्थल पर हमले से इलाके में तनाव

पाकिस्तान के रहीम यार खान जिले के भोंग क्षेत्र में उन्मादी भीड़ द्वारा एक हिंदू मंदिर में तोड़-फोड़ की घटना के बाद तनाव की स्थिति पैदा हो गई है। इसे देखते हुए इलाके में पैरामिलिट्री फोर्स तैनात कर दी गई है। रहीम यार खान जिला पुलिस के प्रवक्ता अहमद नवाज ने बताया कि पुलिस हमलावरों की तलाश कर रही है।

बताया जा रहा है कि पाकिस्तानी सांसद और हिंदू समुदाय के नेता रमेश कुमार वंकवानी ने इस घटना के वीडियो साझा किए। इन वीडियोज में भीड़ मंदिर के बुनियादी ढांचे को नष्ट करती नजर आ रही है। इतना ही नहीं मंदिर की मूर्तियों के साथ भी तोड़-फोड़ मचाई गई है। एक अन्य वीडियो में उन्मादी भीड़ मंदिर से सटी सड़क पर लाठी-डंडे लेकर दौड़ती दिख रही है। रमेश कुमार ने ट्विटर पर एक वीडियो पोस्ट की और कहा कि शुरुआत में पुलिस की धीमी प्रतिक्रिया के कारण स्थिति और मंदिर को नुकसान पहुंचा है। बता दें कि हाल के वर्षों में, पाकिस्तान में अल्पसंख्यकों के पूजा स्थल पर हमलों में वृद्धि हुई है। अपने अल्पसंख्यकों के हितों की रक्षा करने में असफल पाकिस्तान को अंतरराष्ट्रीय समुदाय द्वारा बार-बार फटकार भी लग चुकी है।