इजरायल ने अभियान को ब्रेकिंग डॉन बताया 

इजरायल ने अभियान को ब्रेकिंग डॉन बताया 

अमेरिकी स्पीकर नैंसी पेलोसी के दौरे के बाद ताइवान पर तनाव के बीच इजरायल ने गाजा पट्टी पर बड़ी हड़ताल की है. इजरायल की ओर से शुक्रवार को गाजा पट्टी पर किए गए हमले में हमास के एक सीनियर कमांडर समेत कम से कम सात लोगों की मृत्यु हो गई है और कम से कम 40 लोग घायल बताया हो गए हैं. इजरायल की ओर से यह हमला वेस्ट बैंक में एक वरिष्ठ फलस्तीनी विद्रोही की गिरफ्तारी के बाद बढ़े तनाव के बीच किया गया है. हमास के शासन वाले क्षेत्र में हमले से तनाव काफी बढ़ गया है जहां करीब 20 लाख फलस्तीनी रहते हैं.

हमास के वरिष्ठ कमांडर की मृत्यु के बाद गाजा से रॉकेट दागे जाने की संभावना है जिससे क्षेत्र में फिर से युद्ध छिड़ सकता है. गाजा शहर में धमाके की आवाज सुनाई पड़ी, जहां एक ऊंची इमारत की सातवीं मंजिल से धुआं निकल रहा था. विद्रोही समूह हमास ने बोला कि हमले में उसके वरिष्ठ कमांडर तैसीर अल-जाबरी की भी मृत्यु हो गई. फलस्तीन के स्वास्थ्य मंत्रालय ने बोला कि पांच वर्षीय बच्ची समेत सात लोगों की मृत्यु हो गई और 40 लोग घायल हो गए.

इजरायल ने अभियान को ब्रेकिंग डॉन बताया 

इजरायल की सेना ने इस अभियान को ‘ब्रेकिंग डॉन’ करार देते हुए बोला कि उसने इस्लामी जेहादियों को निशाना बनाया. इजरायल ने राष्ट्र में भी विशेष स्थिति की घोषणा की है जहां सीमा से 80 किलोमीटर के दायरे में सभी विद्यालय बंद कर दिए गए हैं और लोगों की अन्य गतिविधियां रोक दी गई हैं. सोमवार को कब्जे वाले वेस्ट बैंक में हमास के एक वरिष्ठ सदस्य की गिरफ्तारी के बाद हमले की संभावना में इजराइल ने इस हफ्ते की आरंभ में गाजा के आसपास की सड़कों को बंद कर दिया था और सीमा पर अतिरिक्त जवानों को भेजा था.

15 वर्षों में चार युद्ध और कई छोटी झड़पें

इजरायल और फलस्तीन के हमास के बीच 15 वर्षों में चार युद्ध और कई छोटी झड़पें हुई हैं. हालिया समय में सबसे भयंकर लड़ाई मई 2021 में हुई थी और इस वर्ष की आरंभ में भी इसकी संभावना बढ़ गई थी. हमास के प्रवक्ता फावजी बरहोम ने कहा, ‘गाजा के विरूद्ध भड़कावे की कार्रवाई प्रारम्भ करने वाले इजरायली दुश्मनों ने नया क्राइम किया है, जिसकी मूल्य उन्हें चुकानी होगी.’ हमास के नेता जाइल अल नाखला ने ईरान से अल मायदीन टीवी नेटवर्क के माध्यम से कहा, ‘हम लड़ाई प्रारम्भ कर रहे हैं और फलस्तीनी प्रतिरोध को इस आक्रामकता के विरूद्ध एकजुट खड़ा होना होगा.’ 

इजरायल बोला- हम संघर्ष नहीं चाहते

वहीं, इजराइल के रक्षा मंत्री बेनी गैंट्ज ने शुक्रवार को गाजा के पास बस्तियों का दौरा करते हुए बोला कि अधिकारी ऐसी कार्रवाई कर रहे हैं जो इस क्षेत्र से खतरे को दूर कर देंगी. उन्होंने कहा, ‘हम इजराइल के दक्षिण में नियमित जीवन को बहाल करने के लिए आंतरिक लचीलेपन और बाहरी ताकत के साथ काम करेंगे.’ गैंट्ज ने कहा, ‘हम संघर्ष नहीं चाहते, लेकिन महत्वपूर्ण हुआ तो हम अपने नागरिकों की रक्षा करने में संकोच नहीं करेंगे.