100 परमाणु मिसाइलें ही संसार की आधी ओजोन परत को कर देगी बर्बाद

 100 परमाणु मिसाइलें ही संसार की आधी ओजोन परत को कर देगी बर्बाद

हाल ही में मिशिगन टेक यूनिवर्सिटी व टेनेसी स्टेट यूनिवर्सिटी के वैज्ञानिक जोशुआ एम पीयर्स व डेविड सी डेनकेबर्गर की जर्नल सेफ्टी में प्रकाशित एक रिपोर्ट के मुताबिक, अगर परमाणु युद्ध हुआ तो संसार में उपस्थित 13,865 परमाणु हथियारों में से केवल 100 परमाणु मिसाइलें ही आधी संसार को तबाह करने के लिए बहुत ज्यादा होंगी। इससे संसार की आधी ओजोन परत बर्बाद हो जाएगी, आधी संसार से सर्दी-गर्मी का मौसम ही समाप्त हो जाएगा. वनस्पतियों व पेड़- पौधों का निशान तक मिट जाएगा। संसार के दो अरब लोग भूख, रेडिएशन व तपिश से मारे जाएंगे।

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि इसका प्रभाव चिकित्सा आपूर्ति पर भी पड़ेगा. प्रदूषण का स्तर बढ़ जाएगा। मनोवैज्ञानिक तनाव बढ़ेगा. बीमारियों व महामारियों के साथ-साथ बढ़े हुए यूवी विकिरण के कारण स्कीन कैंसर की दर भी बढ़ेगी.रिपोर्ट के मुताबिक, नौ में से छह परमाणु संपन्न देश यदि सौ मिसाइल लांच करते हैं, तो वे खुद को नष्ट कर लेंगे। भारत, पाकिस्तान, यूनाइटेड किंगडम, उत्तर कोरिया, इजरायल व चाइना इसके कारण भुखमरी से अपनी आधी आबादी खो देंगे।

अगर आपको नही पता तो बता दे कि इन मिसाइलों के विस्फोट से निकलने वाली सात ट्रिलियन ग्राम राख वायुमंडल में फैल जाएगी व सूरज को ढक लेगी। इसके कारण सूर्य की 20 फीसद किरणें पृथ्वी पर पहंळ्च ही नहीं पाएंगी व पृथ्वी का तापमान इतना कम हो जाएगा जितना भूमि ने पिछले 1000 वर्षों में अनुभव नहीं किया है। यही नहीं इससे वैश्विक वर्षा में 19 फीसद गिरावट आएगी। संसार भर के करीब दो अरब लोग काल के मुंह में समा जाएंगे।