बलूच अधिकारों को बचाने में लगा समूह पाक एजेंसियों के अपहरण, यातनाओं से परेशान, इस्लामाबाद में निकाला मार्च

बलूच अधिकारों को बचाने में लगा समूह पाक एजेंसियों के अपहरण, यातनाओं से परेशान, इस्लामाबाद में निकाला मार्च

पाकिस्तान में अल्पसंख्यक समुदायों की दुर्दशा को एक बार फिर उजागर करते हुए, एक अधिकार समूह - बलूच वॉयस ऑफ मिसिंग पर्सन्स (बीवीएमपी) ने बलूचिस्तान के लोगों के जबरन अपहरण, उनपर अत्याचार और उत्पीड़न के मुद्दे पर पाकिस्तानी एजेंसियों के खिलाफ इस्लामाबाद में विरोध प्रदर्शन किया।

पाकिस्तानी एक्शन के खिलाफ मंगलवार को करोड़ों प्रदर्शनकारी नारे लगाते और सेना द्वारा अवैध रूप से अपहृत किए गए अपने प्रियजनों को वापस लौटाने की मांग करते हुए सड़कों पर पहुंचे। इस्लामाबाद में विरोध प्रदर्शन पर बोलते हुए, बलूच पीड़ितों में से एक ने कहा, 'मैं बलूच की बेटी हूं। मेरा राजनीतिक या सामाजिक संगठन से कोई संबंध नहीं है। मैं भाषण देने के लिए बलूचिस्तान से यहां नहीं आई हूं। मैं नहीं कर सकती, बिना किसी कारण के देश की राजधानी में आने का खर्च। दुर्भाग्य से, मैं एक ऐसी पीढ़ी से संबंधित हूं, जिसने न केवल अत्याचार बल्कि इससे भी दुखद समय देखा है। आपने बोस्निया और फिलिस्तीन के बारे में सुना होगा लेकिन मैंने बलूचिस्तान को देखा है।'


उन्होंने आगे कहा, 'मैं यहां किसी एजेंडे को बढ़ावा देने नहीं आई हूं, मैं एक पीड़ित के रूप में यहां आई हूं। मेरे भाई और चचेरे भाई को एक साल हो गए हैं। 2001 से बलूचिस्तान में जातीय सफाई हो रही है। उन्होंने सिंधियों और पश्तूनों को भी नहीं छोड़ा है।' 

जियो न्यूज की रिपोर्ट के अनुसार, पीएमएल-एन के उपाध्यक्ष मरियम नवाज ने बुधवार को पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान से बलूच लापता व्यक्तियों के रिश्तेदारों से बात करने का आग्रह किया था, जिन्होंने डी-चौक पर विरोध प्रदर्शन किया था। मरियम ने कहा- आपको सत्ता के लाया गया है। इन लोगों को सुनना तुम्हारा कर्तव्य है।

पाकिस्तान के कब्जे वाले बलूचिस्तान से लोगों का गायब होना एक गंभीर विष्य और लंबा इतिहास है। ऐसा सब सभ्य दुनिया और मानवाधिकार संगठनों की चुप्पी और बलूचिस्तान में मीडिया या अन्य माध्यमों की कमी होना है।


पाकिस्तानी एक्टर का बड़ा खुलासा, इस महिला ने किया शोषण

पाकिस्तानी एक्टर का बड़ा खुलासा, इस महिला ने किया शोषण

इस्लामाबाद: पाकिस्तानी एक्टर अजफर रहमान (Actor Azfar Rehman) को आज किसी पहचान की जरूरत नहीं। उन्होंने अपनी काबिलियत से इंस्डस्ट्री में वो पहचान बना ली है, जिसका सपना हर एक कलाकार देखता है। हालांकि ये सफर उनके लिए आसान नहीं रहा। जहां उनके परिवार में हर कोई बैंक में नौकरी करता था, अजफर ने अपने परिवार के खिलाफ जाकर फिल्म इंडस्ट्री में कदम रखा।

इंटरव्यू में किए कई बड़े खुलासे
इस बीच उन्होंने अपने सफर के बारे में एक इंटरव्यू में खुलकर बात की और कई सारे खुलासे किए। अजफर ने बेगम नवाजिश अली संग बातचीत में बताया कि जब आपके चार भाई चार्टर्ड अकाउंटेड हों, तो ग्लैमर की दुनिया में कदम रखना आसान नहीं होता। उन्होंने कहा कि जहां मैं हूं, वहां पहुंचने के लिए मैंने बहुत मेहनत की है।

एक्टर ने कहा- फीमेल आर्टिस्ट्स ने किया शोषण
इसके साथ ही उन्होंने अपने साथ हुए शोषण के बारे में भी बताया। उन्होंने कहा कि वह पीड़ितों के साथ खड़े हैं, लेकिन उन लोगों को भी जानते हैं जो इस कैंपेन का इस्तेमाल अपने फायदे के लिए कर रहे थे। उन्होंने कहा एक मेल आर्टिस्ट होने के तौर पर कुछ फीमेल आर्टिस्ट्स ने मेरा शोषण किया था। मैं उनका नाम नहीं लूंगा, क्योंकि उस बात को नजरअंदाज कर चुका हूं लेकिन महिलाएं हमेशा सही नहीं होती हैं।

कास्टिंग काउच के बारे में बताते हुए अजफर ने कहा यह सालों से हो रहा है और आने वाले कई सालों तक होता रहेगा। ये गलत है लेकिन मेरी पोजीशन के लोग भी कुछ पाने के लिए लोगों को शोषण करेंगे ही। ये बात कभी नहीं मानूंगा। उन्होंने यह भी बताया कि जब उन्होंने अपने करियर की शुरूआत की थी तो उन्हें भी ऐसे कई ऑफर्स मिले थे। लेकिन यह इस बात पर भी निर्भर करता है कि मैं उन ऑफर्स का जवाब कैसे दिया।

बॉलीवुड के लिए दिए थे ऑडिशन
अजफर रहमान ने बॉलीवुड के बारे में बात करते हुए कहा कि मेरे कई साथी  कलाकारों और मुझे भी सीमा के उस पार काम करने में दिलचस्पी थी। उन्होंने बताया कि बॉलीवुड के कुछ रोल्स के लिए उन्हें ऑडिशन देने के लिए कहा गया था, लेकिन सभी ऑडिशंस को बुरी तरह से रिजेक्ट कर दिया गया था।


बॉलीवुड एक्ट्रेस ने समुद्र किनारे ढहाया कहर       इस अभिनेत्री ने कई बार आइटम नंबर करने से किया मना, कही ये बड़ी बात       इस एक्ट्रेस ने कराया टॉपलेस फोटोशूट, फूलों से छुपाये ये अंग       रश्मिका मंदाना करेंगी बॉलीवुड में डेब्यू, सिद्धार्थ मल्होत्रा संग करेंगी शूटिंग       जेसिका अलेक्जेंडर 'द लिटिल मरमेड' के रीमेक में करेंगी काम       झारखंड सरकार के वित्त मंत्री रामेश्वर उरांव ने वित्तीय वर्ष 2021-22 के लिए 91,277 करोड़ का बजट विधानसभा में पेश किया, बजट में गांव, किसान व मजदूर फोकस में रहे हैं। बजट भाषण के दौरान वित्त मंत्री ने कई घोषणाएं कीं        जिला परिषद प्रधान शालिनी गुप्ता ने किया मरकच्चो का दौरा, .... जब दीपिका ने जिप प्रधान से मांगा ऑटोग्राफ        मेहमान टीम का स्वागत फिर टर्नर पिच से करने की तैयारी, भारत के खिलाफ इंग्लैंड की राह नहीं है आसान       जसप्रीत बुमराह करने जा रहे हैं शादी और इसलिए क्रिकेट से लिया ब्रेक       ये खिलाड़ी लौटा मैदान पर, वनडे सीरीज से पहले भारतीय टीम को मिली बड़ी खुशखबरी       Vijay Hazare Trophy 2021 के नॉकआउट मुकाबलों का शेड्यूल जारी       4th Test मैच में ऐसी हो सकती है दोनों टीमों की प्लेइंग इलेवन       FATF की ग्रे लिस्ट में बना रहेगा पाकिस्तान, इमरान सरकार को लगा बड़ा झटका!       पाकिस्तानी एक्टर का बड़ा खुलासा, इस महिला ने किया शोषण       जानिए सोशल मीडिया पर कैसा है रिएक्शन, पीएम मोदी ने लगवाई कोरोना वैक्‍सीन       कश्मीर दहलाने की तैयारी, जैश का मददगार चढ़ा हत्थे       शिक्षक बन जिला परिषद प्रधान शालिनी गुप्ता ने बच्चों को दिए सफलता के टिप्स       हादसे से कांपा मध्य प्रदेश, पुलिस महकमे में शोक की लहर       कोरोना से मचा हाहाकार, इतने नए मामले आने के बाद अलर्ट हुई सरकार       एक सोसाइटी में 20 से ज्यादा लोग मिले पॉजिटिव, अब यहां हुआ कोरोना विस्फोट