बिडेन ने आरएसएस से सम्बन्ध रखने वालों से बनायी दूरी

बिडेन ने आरएसएस से सम्बन्ध रखने वालों से बनायी दूरी

नई दिल्ली। अमेरिका के नए प्रेसिडेंट जो बिडेन द्वारा अपने प्रशासन में 20 भारत वंशियों को शामिल किये जाने पर राजनीतिक हलकों में प्रशंसा की जा रही है लेकिन जिन लोगों को प्रशासन से दूर रखा गया अगर उनपर नजर डाली जाए तो कुछ और तस्वीर निकल कर आती है।

अमित जानी बिडेन के चुनाव अभियान टीम का हिस्सा थे
बराक ओबामा के प्रशासन में काम कर चुकीं सोनल शाह और अमित जानी को बिडेन ने अपने साथ नहीं रखा है। अमित जानी तो बिडेन के चुनाव अभियान टीम में भी थे। बताया जाता है कि इन दोनों को दूर रखने की वजह उनका आरएसएस-भाजपा से जुड़ाव होना है।

सोनल शाह बिडेन की यूनिटी टास्क फोर्क में काम कर चुकी हैं लेकिन उनके पिता ‘ओवरसीज फ्रेंड्स ऑफ़ बीजेपी-यूएसए’ नामक संगठन के प्रेसिडेंट हैं। वो ‘एकल विद्यालय’ के संस्थापक भी हैं।

अमित जानी की बात करें तो उनको बिडेन के अभियान में ‘मुस्लिम आउटरीच कोऑर्डिनेटर’ बनाया जाना था लेकिन जब ऐसी बात उठी कि जानी के सम्बन्ध भाजपा के सीनियर नेताओं से हैं तो उनको कुछ और पद दे दिया गया।

देवयानी खोबर्गाड़े एक आईएफएस अफसर
बिडेन की टीम में वरिष्ट राजनयिक उजरा जेया हैं जिन्होंने देवयानी खोबर्गाड़े केस में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। देवयानी खोबर्गाड़े एक आईएफएस अफसर हैं जिनपर न्यूयॉर्क में भारतीय कांसुलेट में तैनाती के दौरान वीजा फ्रॉड का आरोप लगा था। इसके अलावा बिडेन ने समीरा फ़ाज़ली को भी जगह दी है। समीरा फाजली ने सीएए, एनआरसी और कश्मीर लॉकडाउन के खिलाफ अमेरिका में विरोध प्रदर्शनों में बढ़ चढ़ कर हिस्सा लिया था।

आरएसएस-भाजपा से लिंक वालों को दूर ही रखा जाए
एक तरफ बिडेन के प्रशासन में उन लोगों को जगह नहीं मिली है जिनके लिंक आरएसएस-भाजपा से हैं दूसरी ओर सेक्युलर भारतीय-अमेरिकी संगठनों ने बिडेन-हैरिस पर दबाव बना रखा है कि ऐसे लिंक वालों को दूर ही रखा जाए। बिडेन प्रशासन ऐसे लोगों को भी जगह देने से हिचकिचा रहा है जो चुनाव में अच्छा प्रदर्शन नहीं कर सके। मिसाल के तौर पर श्रीप्रेस्टन कुलकर्णी को ही लें। चुनाव में कुलकर्णी के खिलाफ भारतीय-अमेरिकी संगठनों ने जोर शोर से प्रचार किया था। तुलसी गब्बार्ड भी इन्हीं वजह से चुनाव हार गयीं थीं।

बिडेन प्रशासन में संघ-भाजपा लिंक वाले लोगों को जगह न मिल सके इसके लिए 19 भारतीय-अमेरिकी संगठनों ने बिडेन को पत्र लिखा है। पत्र में लिखा है कि डेमोक्रेटिक पार्टी से बहुत से ऐसे लोग जुड़े हुए हैं जिनके ताल्लुक भारत के हिंदुत्ववादी संगठनों से हैं।


सबसे महंगी Biryani: नाम है इसका रॉयल गोल्ड

सबसे महंगी Biryani: नाम है इसका रॉयल गोल्ड

अगर आप खाने के शौकीन है खासकर बिरयानी के तो  नाम सुनते ही मुंह में पानी आ जाता है। अभी तक तो शायद आप हैदराबादी बिरयानी के ही क्रेजी होंगे। क्योंकि बिरयानी के दिवानों के लिए हैदराबादी बिरयानी फेमस है। वैसे इस बिरयानी की कीमत इतनी ही है कि आपकी जेब भी उसे एलाउ कर देगी।

जब बात बिरयानी की हो तो जेब तो ढ़ीली होती है, लेकिन हम आज जिस बिरयानी की बात कर रहे हैं वो दुनिया की सबसे महंगी बिरयानी है। जो दुबई के एक रेस्टोरेंट में बनाई जाती है। ये दुनिया की सबसे महंगी बिरयानी है।

‘रॉयल गोल्ड बिरयानी’
वैसे भी कहा जाता है कि दुबई में केवल इंसान ही रईस नहीं हैं। यहां का माहौल और खाना भी आम आदमी की पहुंच से बाहर है। इसका एक उदाहरण यहां कि ‘रॉयल गोल्ड बिरयानी’ है। इस बिरयानी को दुबई की सबसे महंगी बिरयानी कहा जाता है। बिरयानी पहले ही दुनिया में चर्चित डिश है। ऐसे में इस नई थाली ने इसे फिर  सुर्खियों में ला दिया। दुबई के इस रेस्टोरेंट में ये स्वाद सोने की थाली में मिलेगा।

खासियत
खास बात ये कि इस रेस्टोरेंट में इसे खाने के लिए बहुत भीड़ लगी रहती है ।23 कैरेट गोल्ड के साथ केसर युक्त इस बिरयानी के एक प्लेट की कीमत 20 हजार रुपये है। बॉम्बे बॉरो (Bombay Borough) एक लक्जरी रेस्तरां है, जहां दुनिया की सबसे महंगी बिरयानी परोसी जाती है।

इस बिरयानी को छह लोग शेयर कर सकते है
सोशल मीडिया पर इसकी तस्वीर तेजी से वायरल हो रही है और खाने के शौकीन लोगों के बीच इस गोल्ड रॉयल बिरयानी को लेकर खासी चर्चाएं हो रही है। बिरयानी को छह लोग शेयर कर सकते है, इसे 23 कैरेट सोने के साथ गार्निश किया जाता है, रेस्त्रां में बिरयानी के अलावा कस्टमर्स को कई तरह के मुगलई फूड आइटम्स भी परोसे जाते हैं।

45 मिनट के भीतर होगी सर्व
इस महंगी बिरयानी में कश्मीरी मटन कबाब, पुरानी दिल्ली मटन चॉप्स, राजपूत चिकन के कबाब, मुगलई कोफ्ते और मलाई चिकन जैसी चीजें मिलती है, और यह एक बड़े सुनहरे थाली में परोसी जाती है, इसमें सॉस, करी और रायता भी शामिल होता हैं। इस बिरयानी को ऑर्डर करने के 45 मिनट के भीतर यह बिरयानी आपको टेबल पर सर्व हो जाएगा।

अकेले खा पाना भी मुश्किल
जो बिरयानी और बाहर खाने के शौकीन है। उन्हें अपने खाने में किसी तरह की कमी पसंद नहीं होती है। ऐसे में इस रेस्त्रां ने ग्राहकों की इस परेशानी की भी बढ़िया व्यवस्था कर रखी है। रेस्त्रां इस बिरयानी के लिए ग्राहकों को अपने पसंद का चावल चुनने का भी ऑप्शन देता है। ऑर्डर से पहले आप किस तरह का चावल चाहते हैं, यह बता सकते हैं। वहीं, एक डिश में 3 किलो चावल होने के कारण अकेले खा पाना भी मुश्किल होता है।


सहवाग ने इग्लैंड के बल्लेबाजों को किया ट्रोल, राहुल गांधी का ये वीडियो किया शेयर       सपा पर बरसे CM योगी, यहां गर्मी दिखाने की जरूरत नहीं       सावधान सोशल मीडिया पर, फेसबुक-ट्विटर हो या नेटफ्लिक्स-अमेजन       अब महँगा होगा दूध, सरकार नहीं किसानों ने किया बड़ा ऐलान!       धरती पर दिखा स्वर्ग, ऐसा नजारा कभी नहीं देखा होगा       सबसे महंगी Biryani: नाम है इसका रॉयल गोल्ड       दुनिया के सबसे बड़े क्रिकेट स्टेडियम का नाम रखा गया नरेंद्र मोदी स्टेडियम       खेल दी 152 रन की पारी और लगाए 5 छक्के 14 चौके, विराट की टीम के ओपनर बल्लेबाज ने मचाया हड़कंप       क्या है India vs England के बीच खेले जाने वाले डे-नाइट टेस्ट की टाइमिंग       नेशनल ड्यूटी के लिए IPL को भी छोड़ सकता है ये खिलाड़ी       रॉबिन उथप्पा व विष्णु विनोद के शतक से सचिन बेबी की टीम को मिली जीत       Happy Birthday Divya Bharti: एक्टिंग के लिए इस एक्ट्रेस ने 16 साल की उम्र में छोड़ दी थी पढ़ाई       Shilpa Shetty In Maldives: इस एक्ट्रेस ने पति संग मालदीव्स में की Pawri       OMG! Aamir Khan के भांजे इमरान ने कजिन जाएन मेरी की कराई शादी       टीज़र देख क्या बोले अक्षय कुमार, प्रियंका चोपड़ा और करण जौहर       जॉन अब्राहम और इमरान हाशमी के बीच कांटे की टक्कर       क्या आपको भी सपने में दिखती हैं ये चीजें तो...       मंगलवार के दिन हनुमानजी को इस उपाय से करें प्रसन्न       रवि योग में जया एकादशी आज, जानें मुहूर्त, राहुकाल एवं दिशाशूल       आज है प्रदोष व्रत, जानें किस मुहूर्त में करें पूजा और इसका धार्मिक मान्यता