अंतर्राष्ट्रीय

ईद के दिन मस्जिद के बाहर हुई अंधाधुंध फायरिंग, पुलिस ने 5 संदिग्धों को किया गिरफ्तार

वाशिंगटन:  अमेरिका के फिलाडेल्फिया में ईद-उल-फितर के उत्सव के दौरान एक मस्जिद के पास गोलीबारी की घटना हुई. इस घटना में 3 लोग घायल हो गए. पुलिस ने 5 संदिग्धों को अरैस्ट किया है. इसमें एक 15 वर्षीय बच्चे को बन्दूक सहित हिरासत में लिया गया है. रिपोर्ट के अनुसार, दोपहर 2:30 बजे के आसपास, फिलाडेल्फिया में स्थित एक बड़ी मस्जिद के बाहर ईद का कार्यक्रम आयोजित किया गया था. इसी दौरान, दो गुटों के बीच किसी बात को लेकर झगड़ा हो गई, जो झगड़े में बदल गई. झगड़े के दौरान एक आदमी ने बंदूक निकालकर गोलियां चलानी प्रारम्भ कर दीं.

गोलीबारी में 15 वर्ष का एक संदिग्ध लड़का, एक आदमी और एक बच्ची घायल हो गए. घटना के समय क्षेत्र में 1 हजार से अधिक लोग उपस्थित थे. गोलीबारी की आवाज सुनते ही लोगों में अफरा-तफरी मच गई और वो भागने लगे. कुछ लोग अपनी जान बचाने के लिए पेड़ों के पीछे छिप गए. घटना की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई और क्षेत्र की घेराबंदी कर दी. पुलिस ने घायलों को तुरंत हॉस्पिटल पहुंचाया. पुलिस ने 5 संदिग्धों को अरैस्ट कर लिया है और उनसे पूछताछ की जा रही है.

पुलिस का बोलना है कि यह घटना दो गुटों के बीच हुए झगड़े के कारण हुई है. इस घटना से ईद के खुशी के मौके पर मातम पसर गया है. घायलों की शीघ्र निरोग होने की कामना की जा रही है. यह घटना अमेरिका में बंदूक अत्याचार की बढ़ती परेशानी पर प्रकाश डालती है. फिलाडेल्फिया में ईद के उत्सव के दौरान हुई गोलीबारी की घटना एक दुखद घटना है. इस घटना से अमेरिका में बंदूक नियंत्रण कानूनों की कमी पर प्रश्न उठाए गए हैं.

हालाँकि, अमेरिका में बंदूक अत्याचार की परेशानी कोई नयी बात नहीं है. पिछले कुछ सालों में, अमेरिका में कई गोलीबारी की घटनाएं हुई हैं, जिनमें कई लोग मारे गए हैं. 2022 में, अमेरिका में 600 से अधिक गोलीबारी की घटनाएं हुईं, जिनमें 40,000 से अधिक लोग मारे गए. इन घटनाओं से पता चलता है कि अमेरिका में बंदूक नियंत्रण कानूनों को कठोर करने की जरूरत है.

Related Articles

Back to top button