प्रातः काल  पॉवर योग करने से आपके स्वास्थ को मिलेंगे ये सभी फायदे

प्रातः काल  पॉवर योग करने से आपके स्वास्थ को मिलेंगे ये सभी फायदे

पॉवर योग में सभी क्रियाएं बिना रुके तेजी से की जाती हैं. जिससे तेजी से कैलोरी बर्न होती है. मोटापा, तनाव और ऊर्जा के संचार के लिए करते हैं. रोजाना 45 मिनट, हफ्ते में 2-3 दिन तक कर सकते हैं. इसे प्रातः काल करना चाहिए. ये सूर्य नमस्कार के 12 आसनों और अन्य आसनों से मिलकर बना है.

एथलेटिक ढंग से करते हैं Power Yoga
पॉवर योग एथलेटिक ढंग से करते हैं. इसमें सांसों की गति, शारीरिक क्षमता और लचीलेपन पर ध्यान देते हैं. इसमें चार प्रकार के शरीर के आकार एपल, पियर, नार्मल और ट्यूब के लिए भिन्न-भिन्न ढंग से पॉवर योग करते हैं. इसे नियमित करने से कैलोरी बर्न होकर शारीरिक क्षमता, ताकत, लचीलापन और रक्त-संचार, रोग प्रतिरोधक क्षमता बढती है. तनाव, अवसाद, मोटापा, मधुमेह नियंत्रित रहता है.

रोग प्रतिरोधता बढ़ती
इससे शरीर में रक्त संचार बढ़ता है. रोग-प्रतिरोधक क्षमता मजबूत होने से बीमारियों से बचाव होता है. मधुमेह और दमा संबंधी समस्या में लाभकारी है. इससे कैलोरी ज्यादा बर्न होती है. पाचन क्षमता भी मजबूत होती है.

विषैले तत्त्व बाहर निकलते
पॉवर योग करने से पसीना निकलता है. इससे शरीर को नुकसान पहुंचाने वाले विषैले तत्त्व बाहर निकलने से शरीर संतुलित होता है व तनाव घटता है, एकाग्रता बढ़ती है. मसल्स मजबूती होती हैं. फैट की चर्बी कम होने लगता है.

गर्भवती महिलाएं न करें
हृदय, बीपी, ब्रेन स्ट्रोक, कमजोर, रीढ़ की हड्डी की समस्या व गर्भवती पॉवर योग न करें. इस योग में ध्यान पर केन्द्रित न होकर, शारीरिक व्यायाम ज्यादा किया जाता है. पॉवर योग विशेषज्ञ के निर्देशन में करना चाहिए.