कोरोना वायरस को लेकर आई खुशखबरी, अमेरिकी सरकार जल्द प्रारम्भ करेगी ये इलाज

कोरोना वायरस को लेकर आई खुशखबरी, अमेरिकी सरकार जल्द प्रारम्भ करेगी ये इलाज

इस वक्त पूरी संसार कोरोना वायरस (Coronavirus) की वजह से सहमी हुई है। लेकिन आज नवरात्रि के पहले दिन एक खुशखबरी आ रही है। अमेरिका में कोरोना वायरस का टीका तैयार हो चुका है। वैज्ञानिकों ने इस टीके से कोरोना वायरस को समाप्त करने में सफलता हासिल की है। चार राष्ट्रों में इसके क्लिनिकल ट्रायल के शानदार नतीजे आए हैं। अमेरिकी सरकार जल्द इसके टीके तैयार करने की मंजूरी दे सकती है।

चीन, दक्षिण कोरिया, फ्रांस व अमेरिका में पास परीक्षण
सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेशन (CDC) के अनुसार अमेरिकी सांइटिस्टों ने क्लोरोक्वीन व हाड्रोक्सिक्लोरोक्वीन (Hydroxychloroquine) के जोड़ से एक टीका तैयार किया है। अमेरिका की फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन (FDA) ने इस टीके के क्लीनिकल ट्रायल (Clinical trial) को मंजूरी दे दी है। पिछले एक महीने से इस टीके के ट्रायल चीन, दक्षिण कोरिया, फ्रांस व अमेरिका में पास रहा है। जिन मरीजों का उपचार इस टीके से किया गया है उनमें बहुत ज्यादा प्रभावी नतीजे मिले हैं।

अमेरिकी सरकार जल्द प्रारम्भ कर सकती है इलाज
अमेरिकी वैज्ञानिकों का बोलना है कि कोरोना वायरस को समाप्त करने में इस नए टीके ने सफलता हासिल की है। हालांकि FDA किसी भी टीके को मंजूरी देने में बहुत ज्यादा लंबा समय लगाता है। लेकिन वैश्विक चुनौती व दशा देखते हुए अगले कुछ दिनों में इसे उपचार के लिए हरी झंड़ी मिलने की उम्मीद है। वैज्ञानिको का बोलना है कि सार्स को समाप्त करने में इस दवा ने जरूरी किरदार निभाई थी। इस बार इस टीके में कोरोना वायरस के जेनेटिकल कोड के हिसाब से परिवर्तन किए गए हैं। कोरोना वायरस से लड़ने में इस टीके के नतीजे बहुत ज्यादा आशाजनक हैं। गौरतलब है कि कोरोना वायरस, सार्स का ही बिगड़ा रूप है।

भारत बिना देरी प्रयोग कर सकता है टीका
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के एक वरिष्ठ ऑफिसर का बोलना है कि अगर किसी टीके को अमेरिका के FDA  से मंजूरी मिल जाती है तो हम बिना देरी किए तुरंत हिंदुस्तान में भी इसका प्रयोग कर सकते हैं। अमूमन हिंदुस्तान में किसी नयी दवा को उपचार में लाने से पहले लंबे प्रोसेस से गुजरना होता है। सामान्य प्रोसेस में मंजूरी मिलने में 2-3 महीने भी लग जाते हैं। लेकिन कोरोना वायरस के टीके को बिना देरी मंजूरी मिलेगी। गौरतलब है कि मंगलवार को पीएम (Prime Minister) नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने देश में अगले 21 दिनों के लिए लॉकडाउन का निर्णय किया है।