ये डाइट प्लान करें फॉलो, तेजी से बढ़ेगी इम्यूनिटी

ये डाइट प्लान करें फॉलो, तेजी से बढ़ेगी इम्यूनिटी

कोरोना (Corona) से बचने के लिए आज ज्यादातर लोग अपनी जीवनशैली (Lifestyle ) में बदलाव कर रहे हैं और खुद को फिट रखने के लिए व्यायाम (Excersize) और खाने-पीने पर ध्यान दे रहे हैं। ऐसे में, केंद्र सरकार ने भी प्रकोप के दौरान नेचुरल इम्यूनिटी (Natural immunity) बढ़ाने के लिए कुछ खाने की लिस्ट जारी की है।

कोविड-19 से पीड़ित लोगों के लिए, केंद्र ने डार्क चॉकलेट, हल्दी वाला दूध और प्रोटीन युक्त खाने की सिफारिश की है। सरकार ने mygovindia के ट्विटर हैंडल के माध्यम से, एक बेसिक डाइट प्लान सुझाया है जिससे इम्यूनिटी सुधारने और मांसपेशियों की शक्ति और ऊर्जा को संरक्षित करने में मदद मिलेगी।

केंद्र की तरफ से जारी डाइट प्लान कुछ ऐसा-

कोरोना से पीड़ित इंसान को न महक आती है और न ही किसी चीज में स्वाद। इसके साथ ही, उनकी भूख और खाना चबाने की क्षमता भी खत्म होती है। इससे मांसपेशियों को नुकसान पहुंचता है, इसलिए सरकार ने नियमित अंतराल पर नरम चीजों का सेवन करने और आहार में अमचूर (सूखा आम) शामिल करने की सिफारिश की है।

जारी इन दिशानिर्देशों में लिखा गया है, कि कोरोना मरीजों के लिए मुख्य ध्यान उन खाद्य पदार्थों का सेवन करना है जो मांसपेशियों, इम्यूनिटी और ऊर्जा के स्तर को फिर से बनाने में मदद करें। साबुत अनाज जैसे रागी, ओट्स की सलाह दी जाती है। प्रोटीन के अच्छे स्रोत जैसे चिकन, मछली, अंडे, पनीर, सोया, दाने और बीज की भी सिफारिश की जाती है। इसके अलावा, केंद्र ने 'अखरोट, बादाम, जैतून का तेल जैसे हेल्दी फैट' खाने को भी कहा है।

साथ ही पर्याप्त विटामिन और मिनरल पाने के लिए रंगीन फलों और सब्जियों को पांच बार खाएं। चिंता से छुटकारा पाने के लिए कम से कम 70% कोको के साथ थोड़ी डार्क चॉकलेट खाएं। इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए दिन में एक बार हल्दी वाला दूध पीएं।।

अब तक, भारत ने कोरोना के 2,14,91,598 मामले दर्ज किए हैं जिसमें से 1,76,12,351 लोग अब तक ठीक हो चुके हैं जबकि 2,34,083 लोगों ने वायरस के कारण दम तोड़ दिया है। देश भर में 36,45,164 सक्रिय मामले हैं। ऐसे में ये डाइट प्लान कोरोना से लड़ने में मददगार साबित हो रहा है।


लड़कियों के वैजाइना के लिए सबसे ज्यादा खतरनाक हैं ये चीजें

लड़कियों के वैजाइना के लिए सबसे ज्यादा खतरनाक हैं ये चीजें

महिलाएं अपने प्राइवेट पार्ट्स को लेकर हमेशा सजग रहती है। और रहे भी क्यों नहीं प्राइवेट पार्ट शरीर का सबसे नाजुक हिस्सा होता है। ऐसे में आपके द्वारा की गई एक छोटी-सी गलती भी उसे नुकसान पहुंचा सकती है। आज हम आपको कुछ ऐसी ही हानिकारक चीजों के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसका इस्तेमाल वैजाइना के लिए घातक हो सकता है। 

वैजाइना के लिए ना करें इन चीजों का इस्तेमाल:

अगर आप भी सफेद प्यूबिक हेयर के लिए डाई का यूज करती हैं तो सतर्क हो जाएं क्योंकि इससे इंफेक्शन फैल सकता है। जी हां, डाई में मौजूद कैमिकल्स, वैजाइना इंफेक्शन, जलन और खुजली का कारण बन सकते हैं।

साबुन में केमिकल होता है इसलिए उसे अपने वैजाइना के अंदर ना आस-पास इस्तेमाल ना करें। इससे वैजाइनल इंफेक्शन का खतरा बढ़ जाता है। साथ ही इससे वैजाइना में जलन और खुजली की समस्या भी हो सकती है।


वैसलीन ल्यूब्रिकेशन के लिए एक बहुत आसान तरीका होता है लेकिन साथ ही ये वैजाइना के लिए हानिकारक भी होता है। इसकी वजह से वैजाइना में इंफेक्शन होने का खतरा होता है।

डाउच एक ऐसी प्रक्रिया है जिसमें पानी और सिरका को मिलाकर वैजाइना को साफ किया जाता है। मगर ये वैजाइना में पाए जाने वाला नेचुरल बैक्टीरिया को कम कर देता है।


नीचे की ओर हेयर रिमूवल क्रीम लगाने से उस एरिया पर घाव आदि हो सकता है और साथ ही संक्रमण का खतरा भी हो सकता है। आप चाहें तो वैजाइना को शेव या वैक्‍स कर सकती हैं।

कुछ महिलाएं प्राइवेट पार्ट का कालापन दूर करने के लिए ब्लीच का यूज करती हैं लेकिन करना आपके लिए हानिकारक हो सकता है। इसमें मौजूद कैमिरल्स इंफेक्शन, जलन और रैशज की समस्या पैदा कर सकते हैं।


Covid-19: बिहार में ब्लैक फंगस से अब तक 76 की मौत       16 जून से बिहार के लोगों को मिलेगी छूट या बढ़ेगी पाबंदी       बिहार में कोविड-19 से आठ मरीजों की मौत, इतने नए मुद्दे आए सामने       इन इलाकों में होगी भारी बारिश, समय से पहले पहुंचा मानसून       यूपी में आज से रेहड़ी-पटरी दुकानदारों के लिए विशेष टीकाकरण अभियान       महंगाई को लेकर नरेंद्र मोदी सरकार पर भड़की मायावती, बोलीं...       सीएम योगी का निर्देश, कोरोना संक्रमण को लेकर अभी भी रहें गंभीर       हाल कोडरमा अंचल कार्यालय का, आम आदमी का नहीं हो रहा है कोई काम,आरटीआई कार्यकर्ता ने एसीम को लिखा पत्र       युद्ध के लिए हम तैयार हैं, चीन की सेना PLA ने ताइवान को दी धमकी       धरती पर हैं चार नहीं, पांच महासागर? अंटार्कटिका के पास है कुछ सबसे अनोखा       OMG! इस प्रदेश में कुत्तों से अधिक खूंखार बिल्लियां, अभी तक इतने लोग हुए शिकार       पौष्टिक आहार, पढ़ाई और प्यार, बच्चों के लिए अत्यंत अनिवार्य: शालिनी गुप्ता,  बाल श्रम उन्मूलन दिवस पर पारहो में फूड न्यूट्रिशन किट का किया वितरण        Muslim Lawmaker Ilhan Omar ने US और Israel की तुलना तालिबान से कर डाली       दुनिया के सबसे शक्तिशाली राष्ट्राध्यक्षों की मुलाकात की तैयारियां पूरीं       अमेरिका में फेडरल जज बनने वाले पहले मुस्लिम बने जाहिद कुरैशी       70 दिन बाद कोविड-19 के सबसे कम केस, 24 घंटे में आए 84 हजार मामले, 4002 की मौत       कैसे डोनाल्ड ट्रंप को दी गई दवा कोविड-19 के मरीजों में जगा रही है उम्मीद?       PM मोदी से मुलाकात कर बहुत खुश हुए सीएम योगी, ट्वीट कर कही ये बड़ी बात       राजनाथ सिंह ने किया 'खामोश महामारी' का जिक्र, बोले...       अखिलेश यादव ने कहा कि बंदरबांट में उलझी बीजेपी सरकार से जनता को कोई आशा नहीं