संक्रमण के दौरान खांसी कर रही है परेशान, तो जल्द करे ये घरेलू इलाज

संक्रमण के दौरान खांसी कर रही है परेशान, तो जल्द करे ये घरेलू इलाज

दुनियाभर के लोग इन दिनों कोरोना संक्रमण से बचने के उपायों को खोज रहे हैं। ऐसे में इन उपायों के बीच जब लोगों को सर्दी-खांसी हो जाए तो लोग परेशान हो जाते हैं और घरेलु उपाय खोजने लगते हैं। अब आज हम आपको कुछ घरेलू उपाय बताने जा रहे हैं जिन्हे अपनाकर आप खांसी से छुटकारा पा सकते हैं। आइए बताते हैं।

खांसी के कारण (Cough Causes in Hindi)-
वायरल संक्रमण के कारण
सर्दी या फ्लू के कारण
प्रदूषण और धूल-मिट्टी से युक्त वातावरण के कारण।
अधिक धूम्रपान करने के कारण।
टीबी (Tuberculosis) या दमा रोग होने के कारण।

खांसी के घरेलू उपाय-
* सूखी खांसी में शहद बहुत ही लाभदायक होता है। एक चम्मच शहद को गर्म दूध में मिलाकर पिएं।
* तुलसी की पत्तियों को पानी में उबालकर काढ़ा बनाकर पिएं। इससे आपको राहत मिलेगी।
* तुलसी की पत्तियों का रस, एवं अदरक के रस के साथ मिलाकर शहद के साथ खाएं।
* खांसी के लिए एक चम्मच अदरक के रस को शहद के साथ चाट लें।
* आधा चम्मच प्याज का रस, और एक चम्मच शहद मिलाकर दिन में दो बार लेने से खांसी में आराम मिलता है।
* गिलोय के रस को रोज सुबह-शाम खाली पेट पीने से पुरानी खांसी भी ठीक हो जाती है।
* अनार के छिलकों को सुखा लें। उसके बाद एक-एक टुकड़ा मुंह में रखकर चूसते रहें। क्योंकि इससे सूखी खांसी में बहुत लाभ मिलता है।
* कफ वाली खांसी के लिए एक चम्मच सरसों के बीजों को एक गिलास गर्म पानी में उबाल लें। उसके बाद अच्छी प्रकार उबल जाने पर पानी को पिएं। इससे जमा हुआ कफ बाहर निकलने लगता है। जी दरअसल सरसों के बीज में मौजूद सल्फर जमे हुए कफ को बाहर निकालने में मदद करता है।


पेट की अंदरूनी समस्या को जड़ से खत्म करता है तांबे के बर्तन में पानी का सेवन, जाने अन्य लाभ

पेट की अंदरूनी समस्या को जड़ से खत्म करता है तांबे के बर्तन में पानी का सेवन, जाने अन्य लाभ

जानें अनजाने अपने भी कई बार लोगों से यह बातें सुनी होगी कि तांबे के बर्तन में रखा गया पानी आपके स्वास्थ्य के लिए लाभकारी होता है। आज इस आर्टिकल में हम आपको यही बताने जा रहे हैं कि आखिर क्यों तांबे के बर्तन में पानी पीना आपके सेहत के लिए इतना फायदेमंद होता है।

साथ ही हम आपको बताएंगे कि कौन से समय में तांबे के बर्तन में रखा गया पानी पीना आपकी सेहत के लिए सबसे ज्यादा फायदेमंद हो सकता है । और इसे पीने से क्या-क्या फायदे मिलते हैं।
आयुर्वेद के अनुसार, तांबे के बर्तन में रखा गया पानी इसमें पैदा होने वाले बैक्टीरिया को खत्म करके पानी को पूरी तरह से शुद्ध कर देता है।

पेट की अंदरूनी समस्या को जड़ से खत्म करें

तांबे के बर्तन में रखा पानी पेट की समस्याओं के लिए रामबाण औषधि माना जाता है। आजकल लोगों को अक्सर गैस, अपच जैसी परेशानियां बनी रहती हैं, ये पानी इन परेशानियों से छुटकारा दिलाने में कारगर है। इस पानी में ऐसे तमाम गुण होते हैं जो नुकसानदायक बैक्टीरिया को खत्म करते हैं और पेट की सूजन और इन्फेक्शन को दूर करते हैं। तांबे के बर्तन का पानी आंतों की गंदगी को साफ करता है। इसके अलावा इस पानी से त्वचा संबन्धी तमाम समस्याओं से भी बचाव होता है।

कब न पिए
अगर अल्सर की समस्या है या एसिडिटी है तो इस पानी को न पिएं, गर्म तासीर का होने की वजह से ये समस्या को बढ़ा सकता है।

तांबे के बर्तन में दूध या दूध से बनी चीजें और खट्टी चीजें न डालें।

यह भी पढ़े-

सुबह खाली पेट पीना हो सकता है लाभकारी
अगर आपको तांबे के बर्तन में पानी पीने का पूरा लाभ उठाना है तो आपको सुबह सुबह उठकर तांबे के बर्तन में पानी पीना चाहिए । खाली पेट सुबह सुबह तांबे के बर्तन में पानी पीने से आपको सबसे ज्यादा लाभ मिलता है।