कोरोना वायरस लॉकडाउन के दौरान इन तरीको से रखे अपनी आँखों का ध्यान

कोरोना वायरस लॉकडाउन के दौरान इन तरीको से रखे अपनी आँखों का ध्यान

के कारण लोग घर में बंद हैं. कहीं आना-जाना नहीं है, तो लोगों का घर में स्क्रीन टाइम बहुत बढ़ गया है. इस की वजह से लैपटॉप, टेलीविजन व मोबाइल फोन के प्रयोग में कई गुना वृद्धि हुई है. 

घर में रहते हुए ही कई लोग  का कार्य कर रहे हैं व इसकी वजह से अधिकतर समय लैपटॉप स्क्रीन से चिपके हुए बिता रहे हैं. इसके अतिरिक्त दिन का दूसरा भाग फोन पर फिल्में देखने या स्क्रॉल करने में भी बीत रहा है.

स्क्रीन टाइम की यह अधिकता आमतौर पर आंखों को अधिकतम सीमा तक थका देती है. यह लाल आंखें, सूजन और यहां तक कि काले घेरे को जन्म दे सकती है. www.myupchar.com से जुड़े एम्स के डाक्टर अजय मोहन का बोलना है कि आंखों में थकान व भारीपन एक आम स्थिति है, जो तब होती है जब आंखें बेहद उपयोग से थक जाती है. आंखों का थकना परेशान करने वाला होने कि सम्भावना है. ऐसी स्थिति में आंखों में दर्द, जलन, खुजली, धुंधला दिखना ही नहीं गर्दन, कंधे व पीठ दर्द की स्थिति भी पैदा हो सकती है. ऐसे में महत्वपूर्ण है कि आंखों का खास ख्याल रखा जाए. आंखों को स्वस्थ रखने के लिए यहां कुछ टिप्स दिए गए हैं, जिनका आपको विशेष रूप से पालन करना चाहिए.

: थकी हुई आंखों को आराम देने के लिए कुछ करना बहुत महत्वपूर्ण है. अपनी आंखों को आराम देने में मदद करने के लिए अपनी हाथ की दूरी पर एक पेंसिल पकड़ें व उस पर ध्यान केंद्रित करें. अपने हाथ को अपने चेहरे के करीब ले जाकर उसे घुमाएं व फिर वापस मूल स्थिति में लाएं. बीच-बीच में अपनी आंखों को आराम दें व 2-3 मिनट तक करते रहें.

दीवार पर आठ बनाएं: इससे आंखों की मांसपेशियों का होता है व ये लचीली बनती हैं. इसके लिए एक दीवार के सामने खड़े हो जाएं। कल्पना करें कि दीवार पर एक बड़ा-सा अंक 8 बना हुआ है. पहले कुछ मिनट तक दीवार पर 8 आकार बनाते हुए ऊपर से नीचे देखें व फिर नीचे से ऊपर. 

मसाज: आंखों के लिए जो तनाव से घिरी हैं, उसके लिए मालिश करना बहुत जरूरी है. अपनी हथेलियों को अपनी आंखों पर रखें व धीरे से सर्कुलर मोशन में मालिश करें. अपनी भौंहों के साथ-साथ आंखों के नीचे के क्षेत्र की भी मालिश करें. मालिश से निकलने वाली गर्मी आंखों को कई हद तक आराम करने में मदद करेगी.

20-20-20 नियम अपनाएं: कार्य के दौरान आंखों को आराम देने के लिए, इस 20-20-20 नियम का पालन करें. हर 20 मिनट में 20 सेकंड का ब्रेक लें व अपने से 20 फीट दूर किसी चीज पर ध्यान केंद्रित करें. अपना ध्यान चीज पर कुछ देर रखें व फिर अपनी आंखों को आराम दें. यह ट्रिक न केवल आंखों को डिजिटल स्ट्रेन से बचाएगी, बल्कि उन्हें समय-समय पर अभ्यास भी करवाएगी.

ककड़ी से मिलेगा आराम: भले ही यह पुराना उपाय है, लेकिन अब भी बहुत कार्य आता है व वह है ककड़ी के टुकड़ें को बंद आंखों पर रखना. यदि ऐसा लगता है कि आंखें भारी हो रही हैं, तो बस खीरे के दो टुकड़े काट लें व उन्हें अपनी बंद आंखों की पलकों पर रखें. उन्हें 5-7 मिनट के लिए रखें व साइड को बदल दें. यह न केवल आंखों को आराम देने में मदद करेगा बल्कि ठंडक भी देगा.