गुलकंद का सेवन करने से शरीर को मिलता है ये लाभ

गुलकंद का सेवन करने से शरीर को मिलता है ये लाभ

गुलकंद के फायदे स्वस्थ से जुड़ी कई समस्या को ठीक कर देते हैं व इसका सेवन करने से कई तरह के फायदा शरीर को मिलते हैं.

 

 गुलकंद के फायदे क्या है, इसके नुकसान व इसे किस तरह से बनाया जाता है. इन सब चीजों की जानकारी इस आर्टिक्ल में दी गई है. तो आइए सबसे पहले गुलकंद के फायदों पर एक नजर डालते हैं.

वजन हो कम:गुलकंद खाने से वजन को भी घटाया जा सकता है. इसलिए वजन कम करने हेतु आप रोज गुलकंद खाया करें. इसके अंदर फैट बिल्कुल नहीं होता है व इसे खाने से शरीर में जमा वास भी कम होने लग जाता है. वजन कम करने के लिए प्रातः काल एक चम्मच गुलकंद खाने के बाद ऊपर से दूध पी लें. ऐसा करने से अधिक भूख नहीं लगेगी व फैट कम हो जाएगा.

कब्ज व गैस हो दूर:गुलकंद के फायदे पेट के संग भी हैं व इसे खाने से पेट से जुड़ी कई समस्या ठीक हो जाती हैं. जिन लोगों को कब्ज की कठिनाई रहती है वो लोग रोज एक चम्मच गुलकंद खा लें. इसे खाने से कब्ज से आराम मिल जाएगा. कब्ज की तरह ही गैस होने पर भी अगर इसका सेवन किया जाए तो पेट में गैस बनना बंद हो जाती है. दरअसल गुलाब के अंदर पाए जाने वाले तत्व पाचन तंत्र को ठीक रखते हैं व गैस, कब्ज जैसे रोगों से आपकी रक्षा होती है.

आंखों के लिए लाभदायक:गुलकंद को आंखों के लिए भी उत्तम माना जाता है व इसे खाने से आंखों की रक्षा कई रोगों से होती है. गुलकंद की तासीर ठंडी होती है, जिसकी वजह से इसे खाने से आंखों में जलन की शिकायत नहीं होती है. वहीं गुलकंद पर किए गए कई शोधों के अनुसार इसका सेवन करने से आंखों की सूजन व आंखों के लाल होने की समस्या भी ठीक हो जाती है. इसलिए जिन लोगों को आंखों से जुड़ी ये तकलीफे रहती हैं वो लोग इसका सेवन जरूर करें.

मासिक धर्म में ना हो दर्द:महिलाओं के लिए गुलकंद बेहद ही अच्छा माना जाता है व इसे खाने से मासिक धर्म के दौरान दर्द की शिकायत नहीं होती है. मासिक धर्म के दौरान दर्द होने पर महिलाएं गुलकंद वाला दूध पी लें. गुलकंद वाला दूध पीने से दर्द ठीक हो जाएगा.

मुंह के छाले हों सही:मुंह में छाले हो जाने पर आप गुलकंद का सेवन करें. गुलकंद खाने से छाले एकदम ठीक हो जाएंगे व दर्द की समस्या से भी राहत मिल जाएगी. गुलकंद के अंदर विटामिन-बी पाया जाता है जो कि छालों को ठीक करने में अच्छा साबित होता है. इसलिए छालों की समस्या होने पर आप किसी भी प्रकार की दवाई का इस्तेमाल करने की स्थान दिन में दो बार गुलकंद खा लें.